Hindi News »Chhatisgarh »Pathriya» Mahari Express Got 1415 Calls In 2 Months Bilaspur

महतारी एक्सप्रेस को 2 महीने में मिले 1415 कॉल, बीच रास्ते में ही कराने पड़े 105 प्रसव

सड़क पर जन्म रहे 7.4 प्रतिशत।

Bhaskar News | Last Modified - Dec 19, 2017, 07:04 AM IST

  • महतारी एक्सप्रेस को 2 महीने में मिले 1415 कॉल, बीच रास्ते में ही कराने पड़े 105 प्रसव
    +1और स्लाइड देखें

    बिलासपुर।प्रसव पीड़ा से कराहती महिला को सुरक्षित ढंग से अस्पताल तक ले जाने का काम कर रही महतारी एक्सप्रेस को कभी-कभी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। परेशानी उस समय आ रही है जब स्टाफ को बीच रास्ते में ही प्रसव कराना पड़ रहा है।

    - अक्टूबर व नवंबर माह में 1415 फोन इस सुविधा के लिए किए गए, इनमें से 105 महिलाओं का प्रसव बीच रास्ते में ही कराना पड़ा। कभी घर से स्वास्थ्य केंद्र की दूरी तो कभी एेन समय पर फोन करने से यह समस्या खड़ी हो रही है। सिर्फ सिवनी और जोधरा ही ऐसे प्वाइंट हैं जहां से निकली गाड़ियों ने स्वास्थ्य केंद्र तक ले जाकर कराया प्रसव।

    केस 1

    मरवाही सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पर तैनात महतारी एक्सप्रेस के स्टाफ के पास फोन आया कि वह गाड़ी को लेकर उसाड़ गांव पहुंचे वहां फूलमती 27 वर्ष पत्नी लालूप्रसाद की डिलीवरी करानी है। यहां से उसाड़ गांव की दूरी 20 किलोमीटर से अधिक बताई गई। स्टाफ वहां पहुंचा और फूलमती को लेकर मरवाही स्वास्थ्य केंद्र के लिए लेकर रवाना हुआ ही था कि 3-4 किलोमीटर आगे जाते ही प्रसव पीड़ा शुरू हो गई। स्टाफ ने रास्ते में ही प्रसव कराया। फूलमती ने जुड़वा बच्चों को जन्म दिया। गनीमत यह रही कि सब कुछ सामान्य ढंग से हो गया।

    केस 2

    अधिमार खोल गांव से 17 दिसम्बर को 102 पर फोन आया कि एक महिला का प्रसव होना है। अमाडार प्वाइंट पर खड़ी महतारी एक्सप्रेस को तुरंत वहां के लिए रवाना किया गया। यहां से स्टाफ ने सुषमा 26 वर्ष पत्नी बबलू को अमाडार प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र ले जाने के लिए रवाना ही हुए थे कि बीच रास्ते में ही सुषमा को बहुत तेज दर्द होने लगा। मजबूरी में स्टाफ को रास्ते के किनारे ही गाड़ी खड़ी कर सुषमा का प्रसव कराना पड़ा। स्टाफ ने कुशलतापूर्वक प्रसव कराया। सुषमा ने सुंदर व स्वस्थ बच्ची को जन्म दिया।

  • महतारी एक्सप्रेस को 2 महीने में मिले 1415 कॉल, बीच रास्ते में ही कराने पड़े 105 प्रसव
    +1और स्लाइड देखें
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Pathriya

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×