पिथोरा

  • Home
  • Chhattisgarh News
  • Pithora News
  • संडे की पाठशाला के समापन पर जिग्सा पजल और क्ले आर्ट की बारीकियां जानीं
--Advertisement--

संडे की पाठशाला के समापन पर जिग्सा पजल और क्ले आर्ट की बारीकियां जानीं

पिथौरा| उच्च प्राथमिक शाला कसहीबाहरा में संचालित संडे की पाठशाला का समापन किया गया। इस अवसर पर बतौर अतिथि...

Danik Bhaskar

Mar 01, 2018, 03:15 AM IST
पिथौरा| उच्च प्राथमिक शाला कसहीबाहरा में संचालित संडे की पाठशाला का समापन किया गया। इस अवसर पर बतौर अतिथि दिव्यांग मित्र मंडल पिथौरा के प्रमुख सलाहकार एवं साहू हॉस्पिटल के संचालक डॉ डी एन साहू एवं स्वयं सेवी संस्था दिव्यांग मित्र मंडल के संयोजक बीजू पटनायक ने कार्यक्रम में शिरकत की।

संडे की पाठशाला के उद्देश्यों पर प्रकाश डालते हुए संयोजक हेमंत खुटे ने कहा कि संडे की पाठशाला सह संज्ञानात्मक गतिविधियों पर आधारित एक तरह की मनोरंजक शाला है जिसमें आर्ट एंड क्राफ्ट, ड्राइंग, पेंटिंग, खेल कूद, क्ले आर्ट, ओरिगेमी व ज़िगसा पज़ल सरीखे विविध गतिविधियां (ए टू जेड कलेक्शन )बच्चों के सर्वांगीण विकास के लिए कराई जाती है। संडे की पाठशाला विगत 4 वर्षों से विद्यालय में जारी थी। वार्षिक परीक्षा को ध्यान में रखते हुए परीक्षावधि पर इसका समापन प्रत्येक वर्ष किया जाता है।

रचनात्मक गतिविधियों के जरिए बच्चों का सर्वांगीण विकास संभव: इस कार्यक्रम के मुख्य अतिथि डॉ डीएन साहू ने कहा कि इस तरह के रचनात्मक गतिविधियों के जरिए ही बच्चों का सर्वांगीण विकास संभव है। बेशक बच्चों के तार्किक, बौद्धिक एवं कल्पना शक्ति के विकास में संडे की पाठशाला महत्वपूर्ण भूमिका अदा करेगी। कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे बीजू पटनायक ने कहा कि रचनात्मकता भविष्य में सफलता की कुंजी है। चार वर्षों से संचालित इस तरह की पाठशाला नि:संदेह शिक्षक के जुनून को दर्शाता है। कार्यक्रम के अंत में आंगनबाड़ी से लेकर हाई स्कूल तक के उपस्थित समस्त विद्यार्थियों को प्रमाण पत्र एवं उपहार अतिथियों द्वारा दिया गया। साहू हॉस्पिटल के सौजन्य से बच्चों को कैरीबेग, ड्राइंग बुक एवं ड्राइंग ड्राइंग किट वितरित की गई।

पिथौरा| कसहीबाहरा में संचालित संडे की पाठशाला का समापन किया गया।

Click to listen..