Hindi News »Chhatisgarh »Raigarh» 10 करोड़ 45 लाख से बनेगा ईब नदी पर पुल, 20 हजार से अधिक को आने-जाने में होगी सुविधा

10 करोड़ 45 लाख से बनेगा ईब नदी पर पुल, 20 हजार से अधिक को आने-जाने में होगी सुविधा

29 साल के लंबे इंतजार के बाद प्रदेश सरकार ने फरसाबहार विकासखंड के सिंगीबहार, देवरी से कछुआकानी पहुंच मार्ग पर ईब नदी...

Bhaskar News Network | Last Modified - Apr 02, 2018, 02:55 AM IST

10 करोड़ 45 लाख से बनेगा ईब नदी पर पुल, 20 हजार से अधिक को आने-जाने में होगी सुविधा
29 साल के लंबे इंतजार के बाद प्रदेश सरकार ने फरसाबहार विकासखंड के सिंगीबहार, देवरी से कछुआकानी पहुंच मार्ग पर ईब नदी में पुल निर्माण के बजटीय प्रस्ताव को प्रशासकीय मंजूरी दी है। पुल निर्माण के लिए 10 करोड़ 45 लाख 12 हजार रुपए जारी करते हुए टेंडर प्रक्रिया शुरू करने का निर्देश लोक निर्माण विभाग ने प्रमुख अभियंता को दिए हैं। पुल के निर्माण होने से लोगों को अतिरिक्त दूरी तय करने से मुक्ति मिल सकेगी।

प्रदेश सरकार ने फरसाबहार विकासखंड के सिंगीबहार, देवरी से कछुआकानी पहुंच मार्ग पर ईब नदी में पुल निर्माण के लिए मंजूरी दी है। इसमें ग्राम सिंगीबहार,कछुआकानी और देवरी मार्ग पर पुल निर्माण के लिए 10 करोड़ 45 लाख 12 हजार रुपए की प्रशासकीय मंजूरी जारी की है। देवरी कछुआकानी से सिंगीबहार पहुंच मार्ग में स्थित पुलविहीन ईब नदी यहां के लोगों के लिए एक बड़ी समस्या साबित हो रही थी।

विशेषकर बरसात के मौसम में नदी का जल स्तर बढ़ने से आवागमन के लिए समस्या होती थी। पुल ना होने से संभाग मुख्यालय अंबिकापुर और तहसील मुख्यालय पहुंचने में काफी कठिनाई का सामना करना पड़ता था। इस मार्ग पर पुल निर्माण के लिए 1988 से मांग की जा रही थी, रायगढ़ लोकसभा सीट की कमान संभालने के बाद इस पुल निर्माण के लिए लगातार प्रयास किए जा रहे थे। केंद्रीय इस्पात राज्य मंत्री श्री साय ने बताया कि पुल के अभाव में लोगों को रही परेशानी से मुख्यमंत्री को अवगत कराने पर उन्होनें इसे निर्माण के लिये तत्काल ढाई करोड़ स्वीकृति देते हुए बजट में शामिल कर लिया है। प्रशासकीय स्वीकृति मिलने के बाद टेंडर की प्रक्रिया पूरी होने के बाद निर्माण कार्य शुरू कर दिया जाएगा।

सिंगीबहार, देवरी से कछुआकानी पहुंच मार्ग पर पुल नहीं होने से लोग नाव के सहारे करते हैं ईब नदी को पार।

अंबिकापुर, कुनकुरी और जशपुर जाने में भी होगी आसानी

इस क्षेत्र के ग्रामीणों को बरसात के दिनों में दूसरे रास्ते से घूम कर जाने में 20 किलोमीटर की अतिरिक्त दूरी तय करनी पड़ती थी। इससे शारीरिक, मानसिक और आर्थिक नुकसान हुआ करता था। इस पुल के बन जाने से सिंगीबहार, तपकरा, केरसई, लठबोरा, साजबहार, कोहपानी, जबला, बाम्हनमारा, ऊपरकछार गांव के 20 हजार से अधिक ग्रामीणों को अंबिकापुर, कुनकुरी और फरसाबहार पहुंचने में आसानी होगी।

भास्करन्यूज | जशपुरनगर

29 साल के लंबे इंतजार के बाद प्रदेश सरकार ने फरसाबहार विकासखंड के सिंगीबहार, देवरी से कछुआकानी पहुंच मार्ग पर ईब नदी में पुल निर्माण के बजटीय प्रस्ताव को प्रशासकीय मंजूरी दी है। पुल निर्माण के लिए 10 करोड़ 45 लाख 12 हजार रुपए जारी करते हुए टेंडर प्रक्रिया शुरू करने का निर्देश लोक निर्माण विभाग ने प्रमुख अभियंता को दिए हैं। पुल के निर्माण होने से लोगों को अतिरिक्त दूरी तय करने से मुक्ति मिल सकेगी।

प्रदेश सरकार ने फरसाबहार विकासखंड के सिंगीबहार, देवरी से कछुआकानी पहुंच मार्ग पर ईब नदी में पुल निर्माण के लिए मंजूरी दी है। इसमें ग्राम सिंगीबहार,कछुआकानी और देवरी मार्ग पर पुल निर्माण के लिए 10 करोड़ 45 लाख 12 हजार रुपए की प्रशासकीय मंजूरी जारी की है। देवरी कछुआकानी से सिंगीबहार पहुंच मार्ग में स्थित पुलविहीन ईब नदी यहां के लोगों के लिए एक बड़ी समस्या साबित हो रही थी।

विशेषकर बरसात के मौसम में नदी का जल स्तर बढ़ने से आवागमन के लिए समस्या होती थी। पुल ना होने से संभाग मुख्यालय अंबिकापुर और तहसील मुख्यालय पहुंचने में काफी कठिनाई का सामना करना पड़ता था। इस मार्ग पर पुल निर्माण के लिए 1988 से मांग की जा रही थी, रायगढ़ लोकसभा सीट की कमान संभालने के बाद इस पुल निर्माण के लिए लगातार प्रयास किए जा रहे थे। केंद्रीय इस्पात राज्य मंत्री श्री साय ने बताया कि पुल के अभाव में लोगों को रही परेशानी से मुख्यमंत्री को अवगत कराने पर उन्होनें इसे निर्माण के लिये तत्काल ढाई करोड़ स्वीकृति देते हुए बजट में शामिल कर लिया है। प्रशासकीय स्वीकृति मिलने के बाद टेंडर की प्रक्रिया पूरी होने के बाद निर्माण कार्य शुरू कर दिया जाएगा।

3 करोड़ 10 लाख से नगर के वार्डों में बनेंगी सड़कें

अभी सड़क कई जगह गड्‌ढे नजर आ रहे हैं, जिसमें चलने में लोगों को परेशानी हो रही है।

भास्कर न्यूज | जशपुरनगर

नगर पालिका ने शहर में सड़कों के निर्माण और रिपेयरिंग कराएगा । इसके साथ ही नालियों का निर्माण भी कराएगा, जिससे की पानी की निकासी हो सके। इसके लिए 3 करोड़ 9 लाख रुपए का टेंडर जारी हो चुका है। शहर की सड़कों की रिपेयरिंग और सीसी रोड के निर्माण होने से नगरवासियों को धूल और कच्ची सड़कों से निजात मिलेगी। शहर के मार्गों की स्थिति खराब हो चुकी थी। इस कारण इन सड़कों की रिपेयरिंग जरूरी हो गई थी। इसी क्रम में पालिका क्षेत्र की कुछ सड़कों में बिटुमिन रिटायरिंग का कार्य पिछले महीने से किया जा रहा था। शेष पेज 16





शहर की कुछ सड़कों की स्थिति ज्यादा खराब थी। साथ ही कई जगह पर कच्ची सड़कें थी, जिसके निर्माण का प्रस्ताव राज्य शासन को भेजा गया था। इसको हरी झंडी मिलते ही टेंडर जारी कर दिया गया था, अब चूंकि टेंडर की प्रक्रिया शुरू हो चुकी है, जिसके बाद सड़कों का निर्माण शुरू हो जाएगा, जिससे की नगर वासियों की सड़क की समस्या से निजात मिल जाएगी।

इन वार्डों में होगा निर्माण

नगर पालिका द्वारा नगरीय क्षेत्र जहां कच्ची सड़कें या पुरानी सड़क खराब हो चुकी है। वहां पर सीसी रोड का निर्माण कराने के लिए प्रस्ताव भेजा गया था, वहीं कई वार्डों में गंदे पानी की निकासी की भी समस्या है। इसलिए नगर पालिका वार्ड 05, 06, 07, 10, 18, 17, 13, 09, 01, 04, 02 में सीसी रोड और नालियों का निर्माण कराएगा। साथ ही 4 सड़काें की मरम्मत का कार्य बिटुमिन टायरिंग से होगा। इनमें से बिरसा मुंडा चौक से संजय राम के मकान तक, करबला रोड से फिल्टर प्लांट, वार्ड 01 में कुमार पन्ना के मकान से रूपेश के मकान तक, एवं बस स्टैंड में बिटुमिन टायरिंग का कार्य होगा।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Raigarh

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×