रायगढ़

--Advertisement--

बसों की छत पर 5 फीट ऊपर तक ढो रहे सामान

अधिक ऊंचाई तक सामान भरे जाने से हमेशा बिजली तारों से टकराने का खतरा। भास्कर न्यूज | रायगढ़/पत्थलगांव परिवहन...

Danik Bhaskar

Mar 02, 2018, 03:00 AM IST
अधिक ऊंचाई तक सामान भरे जाने से हमेशा बिजली तारों से टकराने का खतरा।

भास्कर न्यूज | रायगढ़/पत्थलगांव

परिवहन विभाग के नियमों की अनदेखी करके निजी बसों की छत पर कई फुट ऊंचाई तक कामर्शियल लगेज रखा जा रहा है जो अक्सर बिजली के तारों से टकराता है, इससे चिंगारी निकलती है। जो कभी भी हादसे का कारण बन सकती हैं।

निजी बसों पर रखा हुआ यह लगेज कई बार बिजली के तारों को भी छूने के बाद भी बस संचालक इस पर ध्यान नहीं दे रहे। परिवहन विभाग और पुलिस के अधिकारी भी बस संचालकों पर कार्रवाई नहीं कर रहे। पत्थलगांव बस स्टैंड में ओडिशा, झारखंड, उत्तरप्रदेश राज्यों से आने वाली निजी बसों की छत पर अधिक ऊंचाई तक सामान भरा जाता है। बस स्टैंड के आस पास ही कई जगह कम ऊंचाई पर तार हैं, जिससे लगेज के टकराने पर कई बार चिंगारियां निकलती है। इस लगेज के ऊपर पर यात्री की साइकिल रख देने से खतरा दुगुना बढ़ जाता है।

टैक्स की चोरी के लिए निजी बसों में हो रही ढुलाई

बताया जाता है कि राज्य की सीमा पर स्थित जांच बेरियरों में इन बसों की जांच नहीं होने से ज्यादातर बसों की छत पर काफी ऊंचाई तक कामर्शियल लगेज भरा जाता है। झारसुगड़ा और रांची से आने वाली यात्री बसों की छत पर व्यापारियों का टीवी, फ्रीज, कुलर तथा अन्य सामान तक लाद देते हैं। इसी तरह बनारस से आने वाली बसों में नए टायर तथा कागज कापी के बंडल लादा जाता है। निजी बसों में व्यापारियों का सामान लाने के पीछे टैक्स की चोरी को मुख्य कारण बताया जाता है।

Click to listen..