• Home
  • Chhattisgarh
  • Raigad
  • 20 किलोमीटर दूर वाले परीक्षा केंद्रों में जाने के लिए वैकल्पिक व्यवस्था नहीं
--Advertisement--

20 किलोमीटर दूर वाले परीक्षा केंद्रों में जाने के लिए वैकल्पिक व्यवस्था नहीं

दसवीं-बारहवीं बोर्ड के परीक्षार्थियों को परीक्षा केंद्र दूर होने से चिंता सता रही है। जिन परीक्षार्थियों का के...

Danik Bhaskar | Mar 01, 2018, 03:20 AM IST
दसवीं-बारहवीं बोर्ड के परीक्षार्थियों को परीक्षा केंद्र दूर होने से चिंता सता रही है। जिन परीक्षार्थियों का के केंद्र की दूरी 20 किलोमीटर से ज्यादा है, उन्हें केंद्र तक पहुंचने के लिए वाहन का इंतजाम करना पड़ेगा। कुछ स्थानों पर बसें हैं, लेकिन बस थोड़ी भी देर से आए तो परीक्षार्थी एग्जाम से चूक जाएंगे। माशिमं ने 30 से 70 किमी या इससे अधिक दूरी वाले परीक्षार्थियों के लिए कलेक्टरों को हॉस्टल की व्यवस्था कराने कहा है, लेकिन 20 किलोमीटर दूर वाले परीक्षार्थियों के लिए माशिमं के पास कोई योजना नहीं है।

गौरतलब है कि माशिमं की दसवीं की 5 से 28 मार्च और बारहवीं की 7 मार्च से 2 अप्रैल तक बोर्ड परीक्षा चलेगी। इस बार जिले के 136 परीक्षा केंद्र में दसवीं के 21 हजार 509 और बारहवीं के 14 हजार 501 परीक्षार्थी शामिल होंगे। माशिमं की ओर से साल 2014-15 की बोर्ड परीक्षा में 10 से अधिक दूरी वाले परीक्षार्थियों के लिए एडमिट कार्ड दिखाने पर किराये में छूट की व्यवस्था कराई थी, लेकिन इस साल ऐसी कोई सुविधा नहीं दी गई है।

30 किमी से अधिक दूरी होने पर मिलेगी हास्टल सुविधा

40 फीसदी सेंटरों की दूरी 20 किमी से अधिक

जिले में इस साल बोर्ड परीक्षा के लिए 136 सेंटर बनाए गए हैं। बीते साल 133 सेंटर था। तीन सेंटर इस साल नए बने हैं। इनमें करीब 40 फीसदी सेंटर ऐसे है जो थाना-चौकी से 20 किमी से अधिक दूरी पर स्थित है। इसमें कोई सेंटर 26 तो कोई 35 किलोमीटर तक की दूरी है। आना जाना का हिसाब लगाए तो यह दूरी डबल हो जाएगी।इससे छात्र परेशान होंगे।

दसवीं की परीक्षा में इस तरह पूछा जाएगा प्रश्न

दसवीं के नए कोर्स के तहत होने वाली बोर्ड परीक्षा में हिंदी, गणित, विज्ञान, सामाजिक विज्ञान, संस्कृत में 30 फीसदी सवाल सरल होंगे। 20% कठिन और 50% औसत रहेंगे। जबकि अंग्रेजी कुछ अलग होगा। इस विषय में विद्यार्थियों से 33 फीसदी आसान सवाल पूछे जाएंगे। 16 फीसदी सवाल कठिन होंगे और 51 फीसदी औसत रहेंगे।