• Home
  • Chhattisgarh
  • Raigad
  • उत्तर-बंगाल की खाड़ी और क्षेत्र में कम दबाव के असर से बारिश, 43 दिन में 7.633 इंच बारिश हुई
--Advertisement--

उत्तर-बंगाल की खाड़ी और क्षेत्र में कम दबाव के असर से बारिश, 43 दिन में 7.633 इंच बारिश हुई

भास्कर न्यूज | जांजगीर-चांपा चौबीस घंटे के भीतर उत्तर-बंगाल की खाड़ी और आसपास के क्षेत्र में कम दबाव का सिस्टम...

Danik Bhaskar | Jul 14, 2018, 02:40 AM IST
भास्कर न्यूज | जांजगीर-चांपा

चौबीस घंटे के भीतर उत्तर-बंगाल की खाड़ी और आसपास के क्षेत्र में कम दबाव का सिस्टम बनने के कारण जिले में फिर बारिश होने लगी है। गुरूवार को शाम 6 बजे से आधे घंटे तक शहर में अच्छी बारिश हुई तो शुक्रवार को भी दोपहर में बारिश होने लगी थी जो देर रात तक रूक-रूककर होती रही।

मौसम विभाग के मुताबिक दक्षिणी उत्तर प्रदेश के ऊपरी समुद्री एक चक्रवाती घेरा बना हुआ है, वहीं उत्तरी तट ओडिशा के ऊपर भी एक चक्रवाती घेरा है। इसके असर से बारिश हो रही है। -शेष |पेज 18

अगले 24 घंटे में कहीं-कहीं अच्छी बारिश होने का अनुमान है। इस बार जिले में बारिश पिछले साल की तुलना में पिछड़ गई है। 10 जुलाई तक की स्थिति में दस साल की औसत बारिश की तुलना में 32 प्रतिशत बारिश कम हुई थी।

डभरा तहसील में सबसे अधिक 10 इंच बारिश

एक जून से 13 जुलाई तक 7.633 इंच औसत बारिश हुई है। सबसे ज्यादा बारिश डभरा तहसील में 10 इंच और सबसे कम वर्षा मालखरौदा में 5.244 इंच, बलौदा में 6.736 इंच, नवागढ़ में 9.196 इंच, पामगढ़ में 10.346 इंच, चाम्पा में 6.968 इंच, सक्ती में 5.748 इंच, जैजैपुर में 6.267 इंच, जांजगीर में 7.602 इंच और अकलतरा में 8.212 इंच वर्षा दर्ज की गई है।

मौसम

आैसत से 32% बारिश कम, अगले 24 घंटे में कहीं-कहीं अच्छी बारिश होने का अनुमान

नैला प्रायमरी स्कूल में निकासी नहीं होने के कारण भरा पानी

बारिश शुरू होते ही

बंद हो रही बिजली

बिजली विभाग की मेंटनेंस की पोल शहर में रोज खुल रही है। हालत यह है कि बारिश शुरू होते ही बिजली बंद हो जाती है। शुक्रवार को भी यही स्थिति रही। बीडी महंत उपनगर वार्ड क्र.6, नैला रोड, शारदा चौक, नहर पुल के नीचे चांपा रोड समेत कई इलाकों में बिजली बंद रहने से लोग परेशान होते रहे। मेंटेनेंस के लिए कभी बिजली बंद कर पेड़ की टहनियां काटी गई, कभी केबल ऊंचा करने बिजली बंद रखी। लेकिन ेंटेनेंस करने के बाद भी बारिश के दौरान बिजली बंद होने की घटना से लोगों को निजात नहीं मिल रही है।