• Home
  • Chhattisgarh
  • Raigad
  • छह खंडपीठों में 800 मामलों में होंगे समझौते
--Advertisement--

छह खंडपीठों में 800 मामलों में होंगे समझौते

जांजगीर-चांपा | शनिवार 14 जुलाई को नेशनल लोक अदालत का आयोजन किया जाएगा। जिला न्यायालय जांजगीर में पांच और परिवार...

Danik Bhaskar | Jul 14, 2018, 02:40 AM IST
जांजगीर-चांपा | शनिवार 14 जुलाई को नेशनल लोक अदालत का आयोजन किया जाएगा। जिला न्यायालय जांजगीर में पांच और परिवार न्यायालय में एक समेत छह खंडपीठों का गठन किया गया है। तहसील स्तर पर पदस्थ न्यायाधीशों की भी खंडपीठें बनाई गई है। नेशनल लोक अदालत में 800 से लंबित प्रकरण और 3500 प्री-लिटिगेशन आवेदन निराकरण के लिए रखे जाएंगे।

प्राधिकरण की प्रभारी सचिव उदय लक्ष्मी सिंह परमार ने बताया कि जिला न्यायाधीश राजेश श्रीवास्तव के निर्देशन एवं मार्गदर्शन में जिले में एक बार फिर अधिक प्रकरणों का राजीनामा आधार पर निराकरण के लिए प्रयास किया गया है। नेशनल लोक अदालत में प्रकरण चिह्नांकित कर रखे गए हैं और पक्षकारों की प्री-काउंसिलिंग कर लोक अदालत के माध्यम से निराकरण के लाभ भी बताए गए हैं। विधिक साक्षरता शिविरों के माध्यम से लोगों में जागरूकता का प्रयास किया है। राष्ट्रीय विधिक सेवा प्राधिकरण नई दिल्ली के निर्देश पर पूरे देश में नेशनल लोक अदालत का आयोजन किया जा रहा है।







इस नेशनल लोक अदालत में न्यायालयों में लंबित राजीनामा योग्य प्रकरण पक्षकारों के मध्य आपसी सुलह के आधार पर सुलझाए जाएंगे।

निशुल्क स्वास्थ्य शिविर जिला अस्पताल में

लोक अदालत के दौरान न्यायालय परिसर में पक्षकारों तथा न्यायालय में आने वाले अधिकारी-कर्मचारियों के लिए निशुल्क स्वास्थ्य परीक्षण शिविर का आयोजन जिला चिकित्सालय के समन्वय से आयोजित किया जाएगा। जिला न्यायालय के प्रथम तल में इसकी व्यवस्था की गई है जहां जिला अस्पताल के डॉक्टर स्टाफ के साथ लोगांे की जांच कर इलाज करेंगे।

सुबह 9 बजे हाईकोर्ट के जज वीसी से करेंगे शुभारंभ

प्रभारी सचिव उदय लक्ष्मी सिंह परमार ने बताया कि नेशनल लोक अदालत का उद्घाटन उच्चतम न्यायालय के न्यायमूर्ति दीपक गुप्ता, मुख्य न्यायाधीश छग उच्च न्यायालय एवं मुख्य संरक्षक, छत्तीसगढ़ राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण, कार्यपालक अध्यक्ष छग राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण एवं अन्य न्यायाधीशगण छत्तीसगढ़ उच्च न्यायालय बिलासपुर की उपस्थिति में कान्फ्रेंस हाल उच्च न्यायालय बिलासपुर से वीडियो कान्फ्रेंसिंग के माध्यम से सुबह 9 बजे करेंगे।