• Home
  • Chhattisgarh
  • Raigad
  • 3 साल में भी नाली नहीं बनी पूरी, पालिका अब कह रही ठेकेदार होगा ब्लैक लिस्ट
--Advertisement--

3 साल में भी नाली नहीं बनी पूरी, पालिका अब कह रही ठेकेदार होगा ब्लैक लिस्ट

निर्माण पूरा नहीं हुआ तो वार्डवासियों ने पाट दिया वार्ड क्रमांक 8 और 9 का नाली निर्माण कई जगह से अधूरा है।...

Danik Bhaskar | May 01, 2018, 03:00 AM IST
निर्माण पूरा नहीं हुआ तो वार्डवासियों ने पाट दिया

वार्ड क्रमांक 8 और 9 का नाली निर्माण कई जगह से अधूरा है। ठेकेदार ने 2-3 साल पहले निर्माण पूरा कराए बिना ही काम छोड़ दिया है। ऐसे में नगर के विवेकानंद कालोनी से दरबारी टोली आने वाली मार्ग में नाली को कई जगह से लोगों ने पाट दिया है। ऐसे में जरा सी बारिश होने पर नाली का पानी सड़क पर आ जाता है। वार्ड क्रमांक 8 में तेली टाेली क्षेत्र में नाली का निर्माण ऐसा हुआ है कि जरा सी बारिश में ही दूषित पानी सड़क पर आ जाता है। इन वार्डों मे 3 से 4 हजार लोग रहते हैं।

नालियाें का निर्माण पूरा नहीं हुआ तो बरसात में घरों में घुसेगा पानी।

भास्कर न्यूज | जशपुरनगर

बारिश में अब 45 दिन ही शेष है और पालिका अब तक शहर की अधूरी नालियों का निर्माण पूरा नहीं करा पाई है। सोमवार को हुई एक घंटे की बारिश में ही नालियों का पानी सड़क पर आ गया।

शहर में पुरानी नालियों की सफाई पर पालिका ध्यान नहीं दे रही है। तीन साल पहले ज ो नई नालियां बनाई गई है, उसका निर्माण भी अधूरा है। पुरानी नालियां कई जगह से टूटी हुई है। इससे गंदा पानी सड़क पर आ रहा है।

भास्कर ने वार्ड क्रमांक 8 और 9 में नालियों की स्थिति का जायजा लिया तो पाया कि वार्ड क्रमांक 8 में नगर पालिका ने कई जगह नालियों का निर्माण पूरा नहीं कराया है। इससे दूषित पानी की निकासी सही तरीके से नहीं हो पा रहा है। घरों का पानी नालियों में जमा हो रहा है। रविवार और सोमवार को बारिश होते ही नाली का दूषित पानी सड़कों पर आ गया। ऐसे में लोग उस गंदगी से होकर गुजरने को मजबूर हो गए। वार्ड वासियों का कहना है कि जब नगरपालिका जब नाली का निर्माण कराती है तो वह उसकी निकासी पर ध्यान नहीं देती है। ऐसे में बरसात के समय उन्हें परेशानी होती है।

विवेकानंद की नाली को पाट दिया गया है।