• Home
  • Chhattisgarh
  • Raigad
  • हाइवे के गड्‌ढ़े ने ले ली युवक की जान गुस्साए लोगों ने 1 घंटे किया चक्काजाम
--Advertisement--

हाइवे के गड्‌ढ़े ने ले ली युवक की जान गुस्साए लोगों ने 1 घंटे किया चक्काजाम

एनएच सड़क पर बने गड्ढे के कारण एक बाइक सवार युवक फिसलकर गिरा और घटना में उसकी जान चली गई। गुरूरमा निवासी लाला राम...

Danik Bhaskar | Jul 14, 2018, 03:00 AM IST
एनएच सड़क पर बने गड्ढे के कारण एक बाइक सवार युवक फिसलकर गिरा और घटना में उसकी जान चली गई। गुरूरमा निवासी लाला राम अजगले पत्थलगांव के जशपुर रोड में बड़ी वाहनो के पट्टे सुधारने का काम किया करता था। वह गुरूवार की देर शाम वाहन क्रमांक सीजी.14 एमएफ 0494 में सवार होकर गुतुरमा घर की ओर जा रहा था।

नेशनल हाइवे के बने जानलेवा गड्ढे में घर पहुंचने से पहले ही युवक की जान ले ली। घटना के बाद नेशनल हाइवे पर ट्रकों के पहिए थम गए। घटना स्थल पर जुटी ग्रामीणों की भीड़ ने राष्ट्रीय राजमार्ग को एक घंटे जाम कर दिया तथा विभाग के खिलाफ जमकर नारे लगाए। इस मार्ग मे यह पहली घटना नहीं है। इससे पूर्व भी सुखरापारा के आस-पास एक दर्जन से भी अधिक दुर्घटनाएं घटित होकर लोगो ने अपनी जान गंवाई है। गुरुवार की देर शाम हुई इस घटना ने घर के कमाउ युवक की जान ले ली। इस घटना के बाद युवक के घर में मातम पसर गया है। बताया जाता है कि युवक परिवार की आर्थिक स्थिति ना होने के कारण प्रत्येक दिन लंबी दूरी तय करने के बाद पत्थलगांव काम करने के लिए आया करता था।

सड़क में बने जानलेवा गड्ढे इनसेट में हादसे मंें क्षतिग्रस्त बाइक।

मरम्मत के बजाए विभाग बना रहा बहाने

नेशनल हाइवे की सड़क में बने जानलेवा गड्ढे के संबंध में जब विभाग के आला अधिकारियों से बात की जाती है तो तरह-तरह बहाने बनाकर अपने कार्यों से मुंह चुराने की कोशिश करते है। पिछले दिनों इनसे सड़क की मरम्मत और नई सड़क का कार्य धीमी गति से चलने के संबंध मे जानकारी लेनी चाही तो ये बरसात का बहाना बनाकर सड़कों में काम ना होने की बात कही थी।

सीतापुर से कांसाबेल तक सड़क पर

चलना हो गया अब मुश्किल

राष्ट्रीय राजमार्ग में 650 करोड़ की दो परियोजना का काम बेहद धीमी गति से चलने के कारण पिछले तीन सालों से सीतापुर से लेकर कांसाबेल तक चलना दूभर हो चुका है। इस मार्ग में आए दिन दुर्घटना व जाम की स्थिति लगने के बाद भी राष्ट्रीय राजमार्ग के अधिकारी कर्मचारी कोई भी जवाबदारी नहीं ले रहे हैं। बताया जाता है कि सूखे के दिनो में इस मार्ग में उड़ती धूल से लोग परेशान थे। अब बारिश के दिन में जानलेवा गड्ढे व कीचड़ से लथपथ सड़क में चलना लोगो के लिए परेशानी का सबब बन गया है। मार्ग में अपनी यात्रा करने वाले लोग या तो दुर्घटना ग्रसित हो रहे है या फिर इन दुर्घटनाओं मे अपनी असमय ही जान भी गंवा दे रहे है।

हादसे में एक की मौत हुई