• Hindi News
  • Chhattisgarh
  • Raigad
  • तिलडेगा में हाथी ने वृद्धा को घायल किया खेत में घुसकर फसल को कर दिया नष्ट
--Advertisement--

तिलडेगा में हाथी ने वृद्धा को घायल किया खेत में घुसकर फसल को कर दिया नष्ट

ग्रामीण हाथियों के उत्पात से अपने घर मकान के अलावा फसलों का भी नुकसान उठा रहे हैं। वहीं अब ग्रामीण क्षेत्र के...

Dainik Bhaskar

Jul 14, 2018, 03:05 AM IST
तिलडेगा में हाथी ने वृद्धा को घायल किया खेत में घुसकर फसल को कर दिया नष्ट
ग्रामीण हाथियों के उत्पात से अपने घर मकान के अलावा फसलों का भी नुकसान उठा रहे हैं। वहीं अब ग्रामीण क्षेत्र के साथ-साथ अब हाथी नगरीय क्षेत्र में भी प्रवेश करने लगे है। यहां के तिलडेगा जोराडोल के नर्सरी के पास अपने दल से बिछड़ा एक दंतेल हाथी ने वार्ड क्रमांक 1 में रहने वाले वनकर्मी राजेश कुमार मिर्रे की नानी बुधनी बाई के घर में धावा बोल दिया। इससे बुधनी बाई को गंभीर चोटें आई हैं। इसके बाद उसे यहा के सिविल हास्पिटल में भर्ती कराया गया था हाथी तिलडेगा बस्ती में घुस गया। जिसे गांव के विमलेश अंबस्थ, निरंजन यादव, योगेश नायक, निर्मल सिदार एवं दर्जनों गांव वाले के मदद से उसे जंगल की ओर खदेड़ा गया था। घटना के बाद पूरे क्षेत्र मे हाथी की दहशत व्याप्त हो गई है। तिलडेगा के सुरेश तिग्गा,विमलेश अंबस्थ(टींकू) का कहना है कि हाथियों ने अनेको बार दर्जनों घरों को नुकसान पहुंचाया है। पर हर बार इन जंगली हाथियों को रोकने वनविभाग पूरी तरह नाकाम साबित हुआ है। ग्रामीण क्षेत्र में इन दिनो लोग रतजगा करने को मजबूर हैं। वन विभाग की ओर से हाथी भगाने व ग्रामीणों की सुरक्षा के प्रति समुचित संसाधन ना मिलने से अब गांव के लोग खुद ही मशाल जलाकर हाथियों को भगाने का जुगाड़ लगा रहे है। यहां के ग्रामीण एक ओर जहा अपने घर खेत खलिहान को लेकर जहां नजर आ रहे हैं। वही अब इनका घर से निकलना भी दूभर हो चुका है। इनका आरोप था कि प्रत्येक वर्ष क्षेत्र में हाथियों की दस्तक रहने के बाद भी वनविभाग या शासन प्रशासन की ओर से इनकी घुसपैठ को रोकने के लिए कोई कारगर कदम नहीं उठाया जा सका है।

X
तिलडेगा में हाथी ने वृद्धा को घायल किया खेत में घुसकर फसल को कर दिया नष्ट
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..