रायगढ़

  • Hindi News
  • Chhattisgarh
  • Raigad
  • केबल बिछाने के लिए खोदी थी सड़क मिट्‌टी फैलने से हादसे की है आशंका
--Advertisement--

केबल बिछाने के लिए खोदी थी सड़क मिट्‌टी फैलने से हादसे की है आशंका

केबल बिछाने के लिए सड़क किनारे गड्‌ढा खोदकर केबल बिछाने के बाद मिट्‌टी साफ नहीं करने से वाहन चालक हादसे का शिकार बन...

Dainik Bhaskar

May 01, 2018, 03:20 AM IST
केबल बिछाने के लिए खोदी थी सड़क मिट्‌टी फैलने से हादसे की है आशंका
केबल बिछाने के लिए सड़क किनारे गड्‌ढा खोदकर केबल बिछाने के बाद मिट्‌टी साफ नहीं करने से वाहन चालक हादसे का शिकार बन रहे हैं। यहां गड्‌ढे की खुदाई कराए डेढ़ महीने से भी ज्यादा समय बीत चुका है। इसके बावजूद अब तक मिट्‌टी को सड़क से अब तक नहीं हटाया गया है। क्षेत्रवासियों द्वारा संबंधितों को कई बार गुहार लगाई जा चुकी है। इसके बावजूद मिट्‌टी को हटाया नहीं है।

मुंडाडीह से रंगियाडिपा तक बने मुख्य सड़क के गारीघाट से झारमुंडा तक लगभग 5 किलोमीटर दूरी तक यही स्थिति है, जहां यह जंगल-पहाड़ क्षेत्र होने से इस सड़क में घाटी एवं मोड़ है। इससे सड़क से आवागमन करने वाले राहगीरों को आए दिन छोटी-छोटी दुर्घटनाओं से गुजरना पड़ रहा है। खारीबहार के पास ईब नदी में पुल बन जाने के बाद इस रूट में ट्रैफिक बढ़ गया है, जहां ओडिशा के बड़े शहरों से पत्थलगांव, अम्बिकापुर रूटों से होकर अन्य बड़े शहरों में आवागमन करने वाले वाहन इसी रूट का उपयोग करते हैं, वहीं दर्जनों पंचायत के ग्रामीण जनपद, तहसील, जिला सहित अनेक कार्यालयों में जरूरी कार्य निपटाने के लिए इसी रूट का इस्तेमाल करते हैं। साथ ही क्षेत्र में साप्ताहिक बाजार भी लगता है।

मिट्‌टी फैलने से खतरनाक हो गई है गारीघाट से झारमुंडा तक की सड़क।

X
केबल बिछाने के लिए खोदी थी सड़क मिट्‌टी फैलने से हादसे की है आशंका
Click to listen..