• Home
  • Chhattisgarh
  • Raigad
  • भाई- बहन के साथ महा प्रभु का हुआ नेत्रोत्सव, आज रथ पर सवार होकर निकलेंगे नगर भ्रमण पर
--Advertisement--

भाई- बहन के साथ महा प्रभु का हुआ नेत्रोत्सव, आज रथ पर सवार होकर निकलेंगे नगर भ्रमण पर

रायगढ़ | स्वामी भगवान जगन्नाथ शनिवार को स्वस्थ होने के बाद भाई बलभद्र व बहन सुभद्रा के साथ आज 14 जुलाई को रथ में सवार...

Danik Bhaskar | Jul 14, 2018, 03:05 AM IST
रायगढ़ | स्वामी भगवान जगन्नाथ शनिवार को स्वस्थ होने के बाद भाई बलभद्र व बहन सुभद्रा के साथ आज 14 जुलाई को रथ में सवार होकर अपने मौसी के घर जाएंगे। शुक्रवार को शुभ मुहूर्त में मंदिर के पट खुलने के बाद विशेष पूजन अर्चन हुआ। भगवान को विभिन्न औषधियों का सेवन कराने के पश्चात आंखों में काजल लगाकर पाट वस्त्र पहनाकर श्रृंगार किया गया। आज जगन्नाथ महा प्रभु अपने बड़े भैया बलभद्र और छोटी बहन सुभद्रा के साथ अपने रथ में सवार होकर नगर भ्रमण को निकलेंगे। इससे पहले भगवान 13 दिनों से बीमार चल रहे थे। वे अपने घर में स्वास्थ्य लाभ ले रहे थे। उन्हें हर रोज सुबह-शाम काढ़ा दिया जा रहा था। शुक्रवार शाम तक पूर्ण स्वस्थ होने के बाद शनिवार को दोपहर 2 बजे नगर भ्रमण करते हुए गुंडिचा मंदिर में एकादशी तिथि तक विश्राम करेंगे। शहर से सटे गांव गढ़उमरिया में उत्सव में सम्मिलित सैकड़ों लोगों द्वारा भंडारा में प्रसाद ग्रहण किया गया।

गढ़उमरिया स्थित मंदिर में ध्वज बांधते श्रद्धालु। भगवान जगन्नाथ के नेत्रोत्सव कार्यक्रम पर भजन-कीर्तन करते श्रद्धालु।

चौघडिय़ा तिथि पर होगी विशेष पूजन

दूज तिथि पर सुबह से ही भगवान जगन्नाथ, भगवान बलभद्र, माता सुभद्रा की प्रतिभाओं को आकर्षक वस्त्र, आभूषणों से सजाकर मंदिर में स्थापित किया जाएगा। इसके बाद चौघडिय़ा तिथि पर सुबह दो-तीन घंटों की विशेष पूजन-हवन के होगी। कुछ देर विश्राम के बाद दोपहर दो बजे शोभायात्रा निकाली जाएगी। इसकी तैयारियां की जा रही है।