Hindi News »Chhatisgarh »Raigarh» 4 मांगों पर राज्य शासन ने नहीं दिया जवाब, 16 से बेमियादी आंदोलन करेंगे 6 हजार संविदा कर्मी

4 मांगों पर राज्य शासन ने नहीं दिया जवाब, 16 से बेमियादी आंदोलन करेंगे 6 हजार संविदा कर्मी

Bhaskar News Network | Last Modified - Jul 13, 2018, 03:10 AM IST

मांग पूरी करने 15 दिन का दिया था समय

राज्य के जिला मुख्यालयों में करेंगे धरना प्रदर्शन।

भास्कर न्यूज | रायगढ़

नियमितीकरण समेत 4 सूत्रीय मांगों को लेकर पूरे प्रदेश के एक लाख व जिले के 6 हजार अनियमित कर्मचारी (संविदा) अब 16 जुलाई से अनिश्चितकालीन हड़ताल पर रहेंगे।

संविदा कर्मचारी संघ के मीडिया प्रभारी निमिष साव ने बताया कि इसके लिए महासंघ के पदाधिकारियों ने मुख्य सचिव अजय सिंह और रायपुर कलेक्टर ओपी चौधरी के नाम ज्ञापन सौंपा है।

मानसून सत्र के दौरान ऐन वक्त अनियमित कर्मचारियों को शासन ने मांगों पर जल्द कार्रवाई करने का आश्वासन दिया था। जिस पर महासंघ द्वारा 15 दिन का अल्टीमेटम दिया था। लेकिन अब तक उनकी मांगों पर कोई कार्रवाई नहीं की गई। जिसके विरोध अब अनिश्चितकालीन धरने का ऐलान किया है। जिला संघ के मीडिया प्रभारी निमिष साव ने बताया कि महासंघ के आदेश पर आंदोलन की पूरी तैयारी कर ली गई है। प्रदेश की राजधानी रायपुर के साथ साथ सभी जिला मुख्यालयों में आंदोलन किया जाएगा।

रायपुर आंदोलन के लिए महासंघ ने इस आंदोलन में शामिल होने के लिए देश के बड़े समाजसेवी और कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी और प्रदेश के तीसरी राजनीतिक पार्टी जोगी कांग्रेस से भी समर्थन मांगने की बात कही जा रही है।

नियमितीकरण समेत अन्य मांगों को लेकर छह हजार अनियमित कर्मचारी हड़ताल करेंगे

ये है प्रमुख मांगें...

प्रत्येक वर्ष प्रशासकीय स्वीकृति और बजट के नाम पर सेवावृद्धि एवं सेवा से पृथक किये जाने का भय समाप्त कर 62 वर्ष की आयु तक वृत्ति सुरक्षा प्रदान की जाए। पिछले दो-तीन सालों में कर्मचारियों को सेवा से पृथक किया गया हो अथवा छंटनी की गई हो उन्हें सेवा में बहाल किया जाए। समस्त तृतीय और चतुर्थ वर्ग के अनियमित संविदा, दैनिक वेतन भोगी, केन्द्र व राज्य की योजनाओं में कार्यरत, कलेक्टर दर, मानदेय पर कार्यरत, प्लेसमेंट, अंशकालिक, जॉब दर, स्थानीय प्रशासनिक सेवाओं में कार्यरत तथा अन्य किसी विधि से नियुक्त शासकीय, अर्धशासकीय कार्यालयों के कर्मचारी, अधिकारियों को नियमित किया जाए। शासकीय सेवाओं में आउट सोर्सिंग ठेका प्रथा को पूरी तरह से समाप्त किया जाये।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Raigarh

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×