Hindi News »Chhatisgarh »Raigarh» खरसिया क्षेत्र में गिरे ओले, शहर में चली आंधी, बारिश हुई

खरसिया क्षेत्र में गिरे ओले, शहर में चली आंधी, बारिश हुई

तेज हवा और बारिश से शहर में साढ़े तीन घंटे तक बिजली गुल रही। इस दौरान कई जगहों पर होर्डिंग गिरे और तार टूटते रहे।...

Bhaskar News Network | Last Modified - May 01, 2018, 03:25 AM IST

खरसिया क्षेत्र में गिरे ओले, शहर में चली आंधी, बारिश हुई
तेज हवा और बारिश से शहर में साढ़े तीन घंटे तक बिजली गुल रही। इस दौरान कई जगहों पर होर्डिंग गिरे और तार टूटते रहे। ढिमरापुर से गुजरने वाली 36 केवीए मेनलाइन में होर्डिंग टूटकर गिर गया। इसके चलते विद्युत सप्लाई प्रभावित हुई। देर रात तक बिजली विभाग के अधिकारी नुकसान का आंकलन करते रहे। बिजली गुल होने से आम लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ा। स्वास्थ्य सेवाएं प्रभावित हुईं। ग्रामीण क्षेत्रों में ओले भी गिरे। बेमौसम बारिश व ओले से धान की फसल को नुकसान की आशंका है।

सोमवार की शाम तेज अंधड़ और बारिश से शहर का जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया। शाम 5 बजे आंधी चली। जिले के झीकीपाली, पुरनेपाली, दमदमा, तरेकेला, गिण्डौला, गौरडीह, गोर्रा समेत तीन दर्जन से ज्यादा गांवों में ओले गिरे। इससे किसानों को धान की फसल के लिए भारी नुकसान होने की आशंका है। बारिश की वजह से शाम 6बजे से रात्रि आठ बजे तक शहर में बिजली बंद रही। हवा शांत होने और बारिश रुकने पर बिजली विभाग के अधिकारियों ने धीरे-धीरे सभी जगहों की सप्लाई शुरू की। इस दौरान कहीं भी बड़ा नुकसान नहीं हुआ। बिजली कटने की स्थिति होने से सबसे ज्यादा परेशानी आम लोगों को हुई। ढिमरापुर में तीन घंटे तक जाम की स्थिति बनी हुई थी। मेनलाइन से होर्डिंग हटाने के बाद जाम हटी।

बिगड़ा मौसम

आधे घंटे तक तेज हवा चलने से ढिमरापुर की 36 केवीए मेनलाइन में गिरी होर्डिग, शहर में साढ़े तीन घंटे गुल रही बिजली, तापमान में आई गिरावट

ग्रामीण इलाकों में ओले गिरे, धान एवं सब्जी की फसल को नुकसान पहुंचने की आशंका

33 केवी लाइन से होर्डिंग को हटाते कर्मचारी।

बिजली गुल हाेने से पानी सप्लाई प्रभावित

ग्रामीण इलाकों में भी कई जगहों पर बिजली कटने की स्थिति रही। इनमें गढ़उमरिया, डूमरमुड़ा, दर्रामुड़ा, केसला, और मिड़मिड़ा फीडर को तेज हवा शुरू होने के साथ ही बंद कर दिया गया था। इससे इसकी जद में आने वाले सैकड़ों गावों में अंधेरा रहा। बाद में ये फीडर चालू कर दिए गए। रायगढ़ लाइन में खराबी अधिक आने की वजह से उसे देर रात तक शुरू नहीं किया गया था। लाइट बंद रहने से गांवों में पेयजल के लिए परेशानी हुई। ग्रामीण महिलाएं बोरिंग में पानी भरती हुई देखी गईं।

बिजली बंद होने से स्वास्थ्य सेवाओं पर पड़ा असर

शहर में मेकाहारा समेत प्राइवेट अस्पताल और नर्सिंग होम में बिजली कटने के कारण स्वास्थ्य सेवाओं पर असर पड़ा। अस्पताल में मरीजों के परिजनों को दवाइयों के लिए मौसम शांत होने तक का इंतजार करना पड़ा। इमरजेंसी केस में मरीजों के इलाज के लिए और भी अधिक परेशानी आई।

दोपहर तक धूप, शाम को बारिश

पश्चिम से आ रही हवा व चक्रवात के असर से शाम में जमकर बारिश हुई। करीब एक घंटे तक हुई झमाझम बारिश ने शहरवासियों के साथ ही जिले के ग्रामीण इलाकों को भी सराबोर कर दिया। शहर से ज्यादा परेशानी ग्रामीण इलाकों में हुई जहां अभी सैकडों हेक्टेयर खेतों में धान की कटाई होनी है। सोमवार को पूरे दिन तेज धूप खिली रही। दोपहर के बाद अचानक आसमान पर हल्के बादल छाने लगे, लेकिन किसी ने यह अंदाजा भी नहीं लगाया था कि शाम को बारिश होगी।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Raigarh

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×