Hindi News »Chhatisgarh »Raigarh» Mother Found His Son After 17 Year Through Facebook

फेसबुक ने 17 साल बाद मां को बेटे से मिलाया, शराबी पिता के मारपीट से तंग आकर बेटे ने छोड़ा था घर

17 साल पहले घर छोड़ने वाला अब सन्यासी हो गया है, वो अब शिवानंदगिरी महाराज के नाम से मशहूर है

dainikbhaskar.com | Last Modified - Aug 11, 2018, 12:28 PM IST

फेसबुक ने 17 साल बाद मां को बेटे से मिलाया, शराबी पिता के मारपीट से तंग आकर बेटे ने छोड़ा था घर

जशपुरनगर।17 साल तक बेटे की राह देख रही एक मां ने जब फोन पर उसकी आवाज सुनी तो उसकी आंखें छलक गईं। बेटे के इंतजार में हर रोज चौखट की हर आहट पर दौड़ने वाली इस मां को अपने कानों पर भरोसा ही नहीं हो रहा था कि वो अपने बेटे से बात कर रही है। बेटे ने भी मां से जल्द मिलने की इच्छा जताई। ये सब हो सकता फेसबुक के एक स्टेटस से। युवक के मामा ने उसे फेसबुक पर देख संपर्क किया था।

- घर की आर्थिक स्थिति ठीक नहीं थी। इधर हर रोज सावित्री को उसका पति प्रमोद कुमार मिश्रा शराब पीकर प्रताड़ित करता था। इससे तंग आकर उनका बेटा संजू वर्ष 2004 में 12 वर्ष की उम्र में घर छोड़कर चला गया। संजू 11 फरवरी 2004 को सीतापुर जाने के नाम पर घर से निकला तो फिर घर वापस नहीं आया। घर छोड़ने के कुछ दिनों बाद उसने फोन पर मां से कहा - मैं बहुत दूर तपस्या करने जा रहा हूं। एक दिन तुम्हारे पास वापस जरूर आऊंगा। इससे पहले कि सावित्री कुछ बोलती, उसने फोन रख दिया। इसके बाद मां, पिता एवं परिवार के सदस्यों ने उसकी बहुत खोजबीन की पर कुछ पता नहीं चला। अंत में थक हारकर मां ने उसका इंतजार करने का निश्चय लिया।

- कुछ दिन पहले फेसबुक के माध्यम से उसकी जानकारी मिली। पुत्र संजू उर्फ संन्यासी शिवानंद गिरी ने 2 माह पहले अपने फेसबुक वाल पर हटिया मुहल्ला में काली मंदिर के में पूजा की जानकारी दी। उसके मामा रामसेवक पाठक ने उसे फेसबुक पर देखा और उससे कॉन्टैक्ट किया।


दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Raigarh

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×