--Advertisement--

कर्ज और फसल चौपट होने से परेशान किसान ने किया सुसाइट, हॉस्पिटल में भर्ती

किसान बाल सिंह दो लाख रुपए के कर्ज से परेशान है।

Danik Bhaskar | Dec 14, 2017, 06:24 AM IST

बालोद(रायपुर). बालोद से 15 किलोमीटर दूर लाटाबोड़ गांव में दो लाख रुपए के कर्ज और फसल चौपट होने से परेशान 53 वर्षीय किसान बाल सिंग साहू ने बुधवार सुबह कीटनाशक पीकर आत्महत्या करने की कोशिश की। उसे 108 वाहन से जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है जहां इलाज जारी है।

कर्ज से परेशान था किसान

- किसान बाल सिंह ने पुलिस को दिए बयान में बताया कि वह दो लाख रुपए के कर्ज से परेशान है। इस बार फसल भी चौपट हो गई है। ऐसे में कर्ज नहीं चुका पाने से परेशान होकर जहर पिया। इधर, बयान लेने वाले हेड कांस्टेबल एआर यादव कर्ज की बात को नकारते हुए कहा कि किसान को कुछ सालों से पीठ दर्द की भी शिकायत है। इसी से परेशान होकर आत्मघाती कदम उठाया।

माहो से फसल चौपट कैसे चुकाता कर्जा इसलिए मरना चाहता था - किसान

- भास्कर को किसान ने बताया कि उसकी खुद की 50 डिसमिल व गांव के ही गेंद लाल साहू के 60 डिसमिल में कट्टू लेकर कुल एक एकड़ दस डिसमिल में धान लगाया था। माहो के कारण आधे से ज्यादा फसल खराब हो गई। सिर्फ 25 कट्टा ही धान हो पाया है। इसमें से आधा धान कट्टू वाले किसान को देंगे तो कर्ज कैसे चुकाएंगे।

- दो साल पहले बेटी यामिनी व बेटा रोशन लाल व इसके पहले दो बेटी प्रभा व भुनेश्वरी की शादी करवाई थी। दोनों शादियों के दौरान गांव के एक साहूकार व एक समूह के जरिए करीब दो लाख का कर्जा लिया था। जिसे चुका नहीं पाया हूं। समूह वाले घर में पैसा मांगने आते हैं। ग्रामीण बैंक लाटाबोड़ में 70 हजार का कर्ज है। कर्ज कैसे चुकाऊंगा, इसी बात की चिंता में जहर पीकर मरना चाहता था।

कांग्रेसी हुए सक्रिय, हाल जानने पहुंचे विधायक
- जैसे ही इस बात की खबर मिली कि किसान ने जहर खाकर आत्महत्या की कोशिश की है तो कांग्रेसी भी सक्रिय हो गए। बालोद के कांग्रेस विधायक भैयाराम सिन्हा, नगर पालिका अध्यक्ष विकास चोपड़ा, शहर कांग्रेस अध्यक्ष बंटी शर्मा, कमलेश श्रीवास्तव व अन्य कार्यकर्ता भी जिला अस्पताल में किसान का हालचाल जानने पहुंचे।

- डॉक्टरों को बुलाकर कहा कि इनका पूरा ध्यान रखा जाए। विधायक ने कहा कि हम उन्हें सरकार से मदद दिलाने की पूरी कोशिश करेंगे।

पीठ दर्द से परेशान है किसान पुलिस
- विवेचना करने पहुंचे हेड कांस्टेबल एआर यादव ने कहा कि किसान का बेटा रोशन राजमिस्त्री का काम करता है। तीन बेटियों की शादी हो चुकी है। करीब पांच साल से किसान पीठ दर्द से परेशान है। कर्ज होने की बात कर रहा है लेकिन ठीक से बता नहीं पा रहा है कि कहां कितना कर्जा है। ग्रामीण बैंक में 70 हजार रुपए कर्जा होने व इस साल खेती से माहू के कारण सिर्फ 25 कट्टा धान होने की जानकारी मिली है।