--Advertisement--

4 जवानों के कातिल का वीडियो वायरल, कहा- राव तो कैंप से बाहर था, मौत खींच लाई

वीडियो वायरल को पुलिसवालों ने आरोपी जवान को कोर्ट ले जाने के दौरान बनाया है।

Danik Bhaskar | Dec 17, 2017, 09:45 AM IST
9 दिसबंर की शाम CRPF कैंप में एके-47 से फायरिंग में गई थी 4 जवानों की जान। 9 दिसबंर की शाम CRPF कैंप में एके-47 से फायरिंग में गई थी 4 जवानों की जान।

जगदलपुर(छत्तीसगढ़). 9 दिसबंर की शाम बीजापुर के बासागुड़ा स्थित CRPF कैंप में एके-47 से 90 से ज्यादा गोलियां चलाने और चार जवानों की हत्या के आरोपी संतकुमार का एक नया वीडियो वायरल हुआ है। इसे पुलिसवालों ने उसे कोर्ट ले जाने के दौरान बनाया है। उसे कोर्ट ले जाने के दौरान पुलिस वाहन में गाना बज रहा था। गाना सुनते उसने जवानों की हत्या करने की बात भी कबूल की है। भास्कर ने पहले संत कुमार के आरोपों वाले वीडियो की कहानी बिना कांट छांट के पाठकों तक पहुंचाई थी, अब संतकुमार के नए वीडियो की जानकारी जो सोशल मीडिया में वायरल हुआ है उसकी जानकारी भी बिना काट-छांट के पाठकों को भास्कर दे रहा है। दोनों ही वीडियो की विश्वसनीयता और दिए गए बयान का भास्कर समर्थन नहीं करता, ये जांच के विषय हो सकते हैं।

पुलिस: घायल जवान तो गवाही नहीं दे पाएगा, वो सोचेगा मेरा जान बक्श दिए बहुत हैं...
संतकुमार: देखो! समय खराब था... दो मिनट पहले गया था। पीएस तक आया होगा उधर मैं फायरिंग करना शुरू किया तो लौटकर गया।

पुलिस: कौन-कौन?
संतकुमार:
वोगाली बकते हुए गेट में मंदिर के पास गया

पुलिस: राव-राव?
संतकुमार: गालीबकते हुए मैं बोला ये सबसे बड़ा चुगलखोर तो यही है। एक हत्या हो गई दस हत्या ही सही मैं बोला दस सही इसको भी ले लेते हैं। बीमारी तो खत्म हो जाए।

पुलिस:राव राव न?
संतकुमार: वोसाला मरने के लिए लौट के आया इतना ड्रामाखोरी करता था। किसी ने महुआ पी लिया तो शिकायत करता था।

पुलिसवाले: हां-हां-हां...
संतकुमार: हांयार पी लिया तो पी लिया क्या हुआ। पैसा अपना दिया है शरीर का नुकसान खुद का होगा। हमने बोला तू क्या बता रहा है तू तो हमारे बीच में से है न, साहब अलग है।

पुलिस: हां सही है, सही...
संतकुमार: मैंएक दिन दुकान तक गया सिगरेट लेने के लिए... सिगरेट का ज्यादा शौकीन हूं। ये तो घूमता ही रहता है इसको कोई मना नहीं करता। इसने साहब को बता दिया, साहब बोला तू गेट से बाहर जाएगा ही नहीं इसके बाद मैं बोला अच्छा मौका मिला।

पुलिस: इसका भी लिखा था इसलिए वापस आया?
संतकुमार: उसकावास्तव में साला समय खींचकर लाया यार। पांच मिनट पहले ही ऑफिस में बैठा था, वहां से गया होगा...पीएस तक पहुंच पाया होगा।

पुलिस :पीएस तक भी नहीं पहुंच पाया.... पुल से वापस आया था।

संतकुमार। हांआराम से वापस रहा है, मैं मार-मूर कर मंदिर तक गया मंदिर के सामने ही गया वो।

पुलिस: ओसी साहब कैसे हैं?

संतकुमार:ओसी साहबबढ़िया आदमी है, उसको तुम पंच मारोगे......तो वो तो वही समझेगा, मैं हूं या आप... उसको बोलोगे कि आप बदनाम हो रहे हो, तो वो वही मानेगा।

रेवाड़ी का जवान गजानंद । रेवाड़ी का जवान गजानंद ।
बासागुड़ा के नक्सल मोर्चे के कैंप में आपसी विवाद के बाद खून-खराबा बासागुड़ा के नक्सल मोर्चे के कैंप में आपसी विवाद के बाद खून-खराबा
पिछले एक दशक में 115 जवानों ने ऐसी ही घटनाअों में जान गंवाई। पिछले एक दशक में 115 जवानों ने ऐसी ही घटनाअों में जान गंवाई।
जवान ने 2 एसआई समेत चार साथियों को गोलियों से भून डाला। जवान ने 2 एसआई समेत चार साथियों को गोलियों से भून डाला।
जवान संतकुमार ने ली थी अपने 4 साथियों की जान। जवान संतकुमार ने ली थी अपने 4 साथियों की जान।