Hindi News »Chhatisgarh »Raipur »News» Cm Raghvar Das Set Emotional At Home Town

होम टाउन पहुंचकर बोलते हुए रो पड़े ये सीएम, ताजा हुईं गांव में बचपन की यादें

इस दौरान छत्तीसगढ़ के सीएम रमन सिंह और सांसद अभिषेक सिंह रघुवर दास को देखते रहे।

Bhaskar News | Last Modified - Jan 01, 2018, 07:47 AM IST

होम टाउन पहुंचकर बोलते हुए रो पड़े ये सीएम, ताजा हुईं गांव में बचपन की यादें

राजनांदगांव(छत्तीसगढ़).झारखंड के सीएम रघुवर दास लंबे समय बाद रविवार को अपने पैतृक गांव बोईरडीह पहुंचे। वे यहां साहू समाज के कार्यक्रम में शामिल होने आए थे। छत्तीसगढ़ के सीएम डॉ. रमन सिंह ने दास को दो शब्द कहने के लिए बुलाया, वो आए और गांव से जुड़ी यादों के बारे में करीब 5 मिनट ही बोले की आंखें भर आईं और गला रुंधया गया। इस दौरान मुख्यमंत्री रमन सिंह और सांसद अभिषेक सिंह रघुवर दास को देखते रहे। रघुवर दास ने बोईरडीह गांव से सटे छुरिया का जिक्र किया जहां उनकी बहन रहती है। उन्होंने कहा कि मुझे छुरिया भी बहुत अच्छे से याद है, क्योंकि मैं अपनी बहन के पास हमेशा वहां जाया करता था।

पिता टाटा स्टील में करते थे नौकरी

बता दें कि रघुवर दास मूल रूप से छत्तीसगढ़ के राजनांदगांव जिले के बोईरडीह गांव के रहनेवाले हैं। उनके रिश्तेदार अब भी वहां रहते हैं। उनका जन्म 18 दिसंबर 1954 को बहुत ही साधारण परिवार में हुआ था। उनके पिता चवन राय टाटा स्टील, जमशेदपुर में नौकरी करते थे और 1979 में पूरी तरह यहीं शिफ्ट हो गए थे। रघुवर दास की बहन प्रेमवती, माहरीन बाई, बेदू बाई, भाई मूलचंद व जगदेव साहू तथा उनका परिवार सभी टाटा में रहते हैं।

तीन बहन और तीन भाई

कबीरपंथी विचार रखने वाले रघुवर दास के तीन भाई और तीन बहनें हैं। सभी भाई बहन जमशेदपुर में ही रहते हैं। तीन बहनें बड़ी हैं, जबकि भाइयों में रघुवर बड़े हैं। भाइयों में मूलचंद साहू टाटा स्टील के ईएसएस प्राप्त मजदूर हैं, तो छोटे भाई जगदेव साहू श्रम व नियोजन विभाग में चांडिल स्थित नियोजनालय के कर्मचारी हैं। जबकि बड़ी बहन बेदू बाई के पुत्र भांजा दिनेश कुमार टीएसपीडीएल (टाटा रायसन) मजदूर यूनियन में उपाध्यक्ष और गोलमुरी मंडल भाजपा के अध्यक्ष हैं।

हरिजन स्कूल से प्रारंभिक शिक्षा

भालूबासा हरिजन स्कूल से प्रारंभिक शिक्षा प्राप्त करनेवाले रघुवर दास इस स्कूल के दूसरे छात्र होंगे, जो झारखंड की सत्ता की कमान संभालेंगे। उन्होंने इसी स्कूल से मैट्रिक तक की पढ़ाई पूरी की है। इससे पहले इसी स्कूल से शिक्षा प्राप्त करने वाले अर्जुन मुंडा वर्ष 2003 में झारखंड के मुख्यमंत्री बने थे।

हरिजन बस्ती में रहता था पूरा परिवार

मजदूर चवन दास अपने पूरे परिवार के साथ भालूबासा स्थित हरिजन स्कूल के पीछे भालूबासा लाइन तीन मकान नंबर 89 में रहते थे। उनके बड़े पुत्र रघुवर दास भाजपा की राजनीति में अमरेंद्र प्रताप सिंह के साथ सक्रिय रहे। बाद में टाटा स्टील में नौकरी करने के बाद रघुवर दास एग्रीको में टाटा स्टील के कंपनी क्वार्टर में रहने लगे, जबकि उनके छोटे भाई मूलचंद आज भी बस्ती में ही परिवार समेत रहते हैं, जहां रघुवर अपने माता -पिता के साथ रहा करते थे।

बीएससी व एलएलबी तक की शिक्षा

बीएससी व एलएलबी करने के बाद रघुवर दास टाटा स्टील कंपनी में ही काम करने लगे। 1970-71 में जेपी आंदोलन में कूद पड़े और उसके बाद पूरी तरह राजनीति में आ गए। इमरजेंसी के अलावा पार्टी के लिए भी रघुवर कई बार जेल जा चुके हैं। झारखंड में जब बीजेपी की सरकार थी, तब इन्हें महत्वपूर्ण पद देते हुए उप मुख्यमंत्री बनाया गया। वह 30 दिसंबर 2009 से 29 मई 2010 तक डिप्टी सीएम रहे। अर्जुन मुंडा सरकार में वह राज्य के शहरी विकास मंत्री का भी पद संभाल चुके हैं। रघुवर 1995 से लगातार विधायक बन रहे हैं।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Raipur News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: hom taaun phunchkar bolte hue ro pड़e ye CM, taajaa hueen gaaanv mein bachpan ki yaaden
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×