--Advertisement--

इस गांव तक पहली बार पहुंचा कोई कलेक्टर, तीन किलोमीटर पैदल चलकर आए

कलेक्टर ने नन्हें-मुन्हें बच्चों से बातचीत की और उन्हें बिस्किट भी खिलाई।

Dainik Bhaskar

Jan 14, 2018, 07:47 AM IST
First time collector in Bastar village

नारायणपुर. अंजरेल पहाड़ी के तराई में बसे गांव के 21 परिवारों से उनके सुख-सुविधा का हाल-चाल पूछने के लिए कलेक्टर टाेपेश्वर वर्मा ने अंजरेल की 3 किलोमीटर लंबी पहाड़ी पैदल हाथ में लाठी लेकर पूरी की। गांव में पहुंचने के बाद सबसे पहले उन्होंने यहां पर संचालित आंगनबाड़ी केंद्र का निरीक्षण किया तथा केंद्र में आने वाले बच्चों की दर्ज संख्या और भोजन की गुणवत्ता के बारे में पूछा। इसके साथ ही धात्री एवं पोषक माताओं की जानकारी ली।

नन्हें-मुन्हें बच्चों से बातचीत की और उन्हें बिस्किट भी खिलाई। उन्होंने मौके पर मौजूद ग्रामीण रामलाल, रजवाराम, सोमनाथ, धनीराम, मंगनीबाई एवं चमरौती ने उन्हें बताया कि उन्हें पहाड़ को पार कर ही आना-जाना पड़ता है, दूसरा कोई रास्ता नहीं है।

स्कूल था, उसे भी स्थानांतरित कर दिया


ग्रामीणों ने उन्हें बताया कि कुछ साल पहले इस गांव में प्राथमिक शाला संचालित थी, लेकिन किसी कारण उसे खोड़गांव में स्थानांतरित कर दिया गया है जिससे छोटे बच्चों को स्कूल जाने में परेशानी होती है। इस पर कलेक्टर ने आगामी सत्र से गांव में ही प्राथमिक शाला शुरू करने की बात कही।

X
First time collector in Bastar village
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..