Hindi News »Chhatisgarh »Raipur »News» High Profile Fraudster Arrested By Police

आधा दर्जन स्टेट में है वांटेड है ये हाईप्रोफाइल ठग, एेसे फंसाता है ठगी के जाल में

पूछताछ के दौरान उसने ऐसे ऐसे राज खोले कि पुलिस अफसर भी हैरान रह गए।

Bhaskar News | Last Modified - Dec 30, 2017, 08:22 AM IST

  • आधा दर्जन स्टेट में है वांटेड है ये हाईप्रोफाइल ठग, एेसे फंसाता है ठगी के जाल में
    +1और स्लाइड देखें
    आरोपी ने अब तक किसी को नहीं बताया असली नाम।

    रायपुर.कोरियर कंपनी की फ्रेंचाइजी देने का झांसा देकर राजधानी में 90 लाख से ज्यादा की ठगी करने वाला जालसाज पकड़ा गया। राजातालाब के होटल में पुलिस ने जब घेरकर पकड़ा और उसका प्रोफाइल चेक किया तब पता चला वह महाराष्ट्र, यूपी, दिल्ली, गुजरात सहित आधा दर्जन से ज्यादा राज्यों में वांटेड है और वहां 90 करोड़ से ज्यादा की ठगी कर चुका है। वह किसी भी शहर में अपना दफ्तर खोलकर कोरियर कंपनी की फ्रेंचायजी देने का हवाला देकर सिक्योरिटी मनी के तौर पर तीन-चार लाख लेता और दर्जनभर लोगों से पैसे लेकर फरार हो जाता था। पुलिस सात महीने से उसकी तलाश कर रही थी।

    जालसाज एेसे फंसाता है ठगी के जाल में

    जालसाज राजेश जहां भी ठगी के लिए जाता है वहां सिटी एक्सप्रेस कोरियर, एसआरआरएम कोरियर एंड कार्गो सर्विस कंपनी की फ्रेंचाइजी देने के लिए अलग-अलग विज्ञापन छपवाता है। विज्ञापन देखकर लोग संपर्क करते। आरोपी उनका इंटरव्यू लेने के बहाने उन्हें झांसे में लेता और मोटे मुनाफे का लालच देकर सुरक्षा निधि के नाम पर 4 से 5 लाख रुपए जमा करता था। किसी एक शहर में पांच-छह लोगों से पैसे लेकर वहां से फरार हो जाता था। मोबाइल बंद होने के कारण कोई उसे ट्रेस नहीं कर पाते थे। नाम और पता गलत होने के कारण पुलिस भी कुछ नहीं कर पाती थी। आरोपी ने अप्रैल में रायपुर में कोरियर कंपनी की फ्रेंचायजी का विज्ञापन दिया था। राजेंद्र नगर के अशोक चतुर्वेदी समेत 12 लोगों ने उनसे संपर्क किया। आरोपी से मुलाकात की और किसी ने पांच तो किसी ने 7 लाख दिए। इस तरह उसने 90 लाख इकट्ठा कर लिए। आरोपी ने तीन महीने के भीतर फ्रेंचाइजी देने का वादा किया था। वह तीन महीने तक घुमाते रहा। फिर मोबाइल बंद कर दिया।

    हाईप्रोफाइल लाइफ स्टाइल कई देश भी घूम चुका
    पुलिस ने बताया कि आरोपी का रहन-सहन बहुत हाईप्रोफाइल है। वह फ्लाइट से ही सफर करता है। उसके पास से पासपोर्ट मिला है। वह कई बार विदेश भी घूमकर आ चुका है। वह गुरुवार को फ्लाइट से रायपुर आया है। एयरपोर्ट में दिल्ली की नंबर वाली गाड़ी खड़ी हुई थी। उसी से होटल पहुंचा है। गाड़ी किसकी है। इसकी जांच की जा रही है।

    ऐसे ऐसे राज खोले कि पुलिस अफसर भी हैरान रह गए

    - रायपुर में वह इसी साल अप्रैल में अाया और जून में गायब हो गया। गुरुवार की रात वह राजधानी पहुंचा। एयरपोर्ट से सीधे होटल गया। पुलिस को उसके आने की भनक लग गई थी। होटल के कमरे में गुरुवार की रात ही दबिश देकर उसे पकड़ा गया।

    - वह अपना नाम राजेश आडवानी बता रहा है। पुलिस को शक है कि वह अपना नाम-पता गलत बता रहा है। होटल में कमरा उसने राहुल कुमार से बुक कराया था। उसके पास से तीन आईडी मिली है।

    - माना जा रहा है कि वह लोगों को झांसा देने के लिए अलग-अलग नाम से ठहरा करता था। शुक्रवार को दिनभर पूछताछ के दौरान उसने ऐसे ऐसे राज खोले कि पुलिस अफसर भी हैरान रह गए।

    - देर रात तक वह आधा दर्जन राज्यों में ठगी करने की बात स्वीकार कर चुका है। अफसरों का कहना है कि पूछताछ में ठगी के और भी मामले सामने आएंगे।

    - पुलिस के मुताबिक, फरीदाबाद राजेश आडवानी खुद को कोरियर कंपनी का मालिक बताता है। वह इतना शातिर है कि अपना हुलिया भी बदलता रहता है। इस वजह से अब तक पकड़ा में नहीं आया। जहां वांटेड उन राज्यों को दी सूचना पुलिस ने बताया कि आरोपी की पकड़ने की सूचना सभी राज्यों को दी गई।

    - अब तक मुंबई, नागपुर, बेंगलुरु और उत्तरप्रदेश की पुलिस ने संपर्क किया है। संकेत है कि जल्द ही दूसरे राज्य की पुलिस आरोपी से पूछताछ करने के लिए आएगी। उन राज्यों में भी कोरियर कंपनी की फ्रेंचाइजी देने के नाम पर करोड़ों की ठगी हुई है। सभी जगह पर केस दर्ज किया गया है।


    दिए हुए पते पर जाएगी पुलिस
    पुलिस आरोपी के दिए हुए पते में जाएगी। वहां आरोपी के बारे में पता किया जाएगा। आरोपी के एक दर्जन पते मिले हैं। उसने हर राज्य में अपना स्थानीय निवास बताया है। उन राज्यों की पुलिस को आरोपी की जानकारी भेजी गई। उनसे भी आरोपी के बारे में पता कराया जा रहा है।

    आरोपी के एक दर्जन नाम, असली नाम किसी को पता नहीं

    पुलिस ने बताया कि आरोपी हर शहर में हुलिया बदल लेता है। उसे लोग सुनील कुमार, राजेश आडवानी, आरके, रोहित वर्मा, राहुल गुप्ता, विशाल मोदी उर्फ रॉबट ब्लू, जेम्स ब्लू, अनवीर कुमार, अरविंद गांधी के नाम से जानते हैं। आरोपी ने अपने पिता का नाम भी हर जगह अलग बताया है। यहां तक दिल्ली, उत्तरप्रदेश, गुजरात, मध्यप्रदेश और महाराष्ट्र के कई शहरों का पता दिया है। रायपुर में राहुल कुमार के नाम से मिला था। उसने लोगों को बताया था कि उसकी कंपनी देश के अलावा विदेश में भी काम करती है। वहां भी सर्विस देती है।

  • आधा दर्जन स्टेट में है वांटेड है ये हाईप्रोफाइल ठग, एेसे फंसाता है ठगी के जाल में
    +1और स्लाइड देखें
    पुलिस ने बताया कि आरोपी का रहन-सहन बहुत हाईप्रोफाइल है।
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×