--Advertisement--

कवासी के दिल में कई राज, सच बोलें तो देश में बवाल मच जाएगा : रमन

झीरम घाटी हिंसा के दौरान घटनास्थल पर मौजूद थे कांग्रेस विधायक कवासी

Dainik Bhaskar

Dec 21, 2017, 08:43 AM IST
- फाइल फोटो। - फाइल फोटो।

रायपुर. विधानसभा में बुधवार को मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने यह कहकर सबको चौंका दिया कि कवासी लखमा ने अगर मुंह खोल दिया तो न केवल छत्तीसगढ़ बल्कि पूरे देश में बवाल मच जाएगा। अनुपूरक बजट पर चर्चा के दौरान कांग्रेस विधायकों ने सरकार पर तीखे हमले किए। इसी दौरान कांग्रेस के कवासी लखमा ने अपने नजदीक बैठे भाजपा के शिवरतन शर्मा को मंत्री बनाने की सलाह दे डाली। इस पर सीएम ने कहा कि दोनों आस-पास बैठते हैं। लखमा, शिवरतन के दिल की बात जानते हैं। इस पर विपक्षी सदस्य अमरजीत ने कहा कि जानने को तो ये बहुत कुछ जानते हैं, लेकिन हमलोग रोककर रखे हैं। सीएम ने भी उनका समर्थन करते हुए कहा कि यदि वे सच्चाई बोल देंगे तो छत्तीसगढ़ में ही नहीं बल्कि पूरे देश में बवाल मच जाएगा।

झीरम घाटी हिंसा के दौरान मौजूद थे कवासी

उल्लेखनीय है कि कवासी लखमा झीरम कांड के चश्मदीद गवाह हैं। कांग्रेस के शीर्ष नेताओं की जब नक्सलियों ने झीरम में हत्या की थी, उस वक्त लखमा भी कांग्रेस के काफिले में शामिल थे। हमले के बाद नक्सलियों ने तत्कालीन अध्यक्ष पटेल व उनके बेटे के साथ लखमा को भी अगवा किया था। बाद में पटेल व उनके बेटे की तो नक्सलियों ने हत्या कर दी थी।


दरअसल, हास परिहास का यह दौर उस वक्त शुरू हुआ जब सीएम ने अनुपूरके के दौरान सिंहदेव के शांत रहने का जिक्र किया तो विपक्ष के विधायक अमरजीत ने चुटकी लेते हुए कहा कि वे उस तरफ (सरकार में) जाने की सोच रहे हैं। इस पर सीएम ने तपाक से जवाब दिया कि सोचने का पैसा नहीं लगता। कुछ लोग तो जैकेट बनाकर भी रखे हैं।

इस पर शिवरतन शर्मा ने भी चुटकी लेते हुए कहा कि जैकेट में दीमक लग गया है। शर्मा का यह कहना था कि अमरजीत और लखमा दोनों ने शिवरतन को घेरते हुए कहा कि ये इतना मेहनत कर रहे हैं, इनको मंत्रिमंडल में लेते क्यों नही हैं। इनके जैकेट में भी दीमक लग गया है। इस पर सीएम ने कहा कि शिवरतन के दिल की बात कवासी जानता है।


सिंहदेव मैनेज नहीं हो सकतेे :
सदन के अंदर शिवरतन ने नेता प्रतिपक्ष पर तंज कसते हुए कहा कि प्रदेश में चर्चा है 14वें मंत्री आप हैं क्या। इस पर सिंहदेव ने तपाक से कहा कि सिंहदेव मैनेज नहीं हो सकता। सब जानते हैं कि सिंहदेव न ऐसे न वैसे मैनेज हो सकता है। पहले होता रहा होगा। दरअसल अनुपूरक पर चर्चा के दौरान सिंहदेव ने सरकार को घेरते हुए कहा कि ऐसे सरगुजा को गोद मत लीजिएगा कि राजनांदगांव का मेडिकल कालेज अप्रैल 2014 में खुले और सरगुजा का मेडिकल कालजे सितंबर 2016 में खुले। इस पर भाजपा सदस्य प्रेम प्रकाश पाण्डेय ने कहा कि अंबिकापुर की बात क्या है आप तैयार हों तो वे आपको भी गोद ले लेंगे। इस पर सिंहदेव ने कहा कि सीएम साहब हमसे 16 दिन बड़े हैं। बड़ा भाई मानता हूं।

X
- फाइल फोटो।- फाइल फोटो।
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..