--Advertisement--

वर्दी पुलिस की लेकिन दिल मां का, रेत के ढेर में पड़े मासूम को अपनी गोद में संभाला

बच्चे को देखते ही उसके लिए एक अलग प्यार दिल में आया था।

Danik Bhaskar | Dec 28, 2017, 07:23 AM IST
मासूम को दुलार देने वाली लेडी मासूम को दुलार देने वाली लेडी

जगदलपुर(छत्तीसगढ़). सनसिटी से सटे अटल आवास इलाके से रेत के ढेर से मासूम को उठाकर उसे अपनी गोद में ही संभाले रखने वाली महिला पुलिसकर्मी संगीता मंडल को आईजी ने एक हजार रुपए रिवार्ड देने की घोषणा की है। आईजी विवेकानंद सिन्हा ने बताया कि महिला पुलिसकर्मी ने अपनी ड्यूटी का सही तरीके से पालन किया और मानवता का परिचय देते हुए उसने मासूम को कई घंटों तक सीने से लगाकर संभाले रखा। ऐसे में उसे एक हजार रुपए का रिवार्ड का दिया जा रहा है।


- गौरतलब है कि भास्कर ने 27 जनवरी के अंक में इस खबर को प्रमुखता से प्रकाशित किया था। भास्कर ने खबर में बताया था कि पुलिस को एक मासूम के लावारिस पड़े होने की खबर मिली थी।

- इसके बाद मौके पर पहुंची पुलिस बच्चे को अपने संरक्षण में लिया था और नशे की हालात में झगड़ा कर रहे उसके मां-बाप को पकड़ा था और मासूम की मां का मुलाहिजा भी करवाया था। इस दौरान महिला पुलिसकर्मी ने ही बच्चे को ठंड से बचाने के लिए तौलिए की व्यवस्था की थी।

आरक्षक बोलीं- उसकी मां से भी कहा था, बच्चा मुझे दे दो

पिंक स्क्वाड में तैनात महिला आरक्षक संगीता मंडल ने बताया कि जब वह मौके पर पहुंची तो बच्चे की हालत देखकर उसे बेहद दुख हुआ। उन्होंने बताया कि बच्चे को देखते ही उसके लिए एक अलग प्यार दिल में आया था। बच्चे की हालत को देखते हुए मैंने उसकी मां से कहा भी कि यदि वह बच्चे को पालने में सक्षम नहीं है तो वह बच्चे को पालने के लिए तैयार है। उसने बताया कि जिस दौरान बच्चे को उसने गोद में उठाया था तब मन में सिर्फ बच्चे को प्यार देने और अच्छी जिंदगी देने का विचार था।