--Advertisement--

400 वर्गफीट तक के ईडब्ल्यूएस कोटे के मकान का नक्शा मुफ्त में पास होगा

आवेदन ऑनलाइन नहीं देना होगा,मैनुअल पद्धति से मिलेगी मंजूरी।

Danik Bhaskar | Jan 22, 2018, 09:41 AM IST
सिम्बॉलिक इमेज। सिम्बॉलिक इमेज।

रायपुर. प्रदेश में अब ईडब्ल्यूएस कोटे के मकानों का नक्शा नि:शुल्क पास होगा। भवन अनुज्ञा शुल्क के साथ ही इन्हें भवन विकास शुल्क में भी छूट मिलेगी। इसके अलावा मंजूरी मैनुअल पद्धति से मिलेगी यानि ऑनलाइन आवेदन भी नहीं देना पड़ेगा। इस छूट का लाभ प्रधानमंत्री आवास योजना ‘सबके लिए आवास मिशन’ और राज्य सरकार की ‘मोर जमीन-मोर मकान योजना’ के तहत 400 वर्गफीट तक की जमीन के मालिकों को मिलेगा। उल्लेखनीय है कि केंद्र सरकार ने 2020 तक सभी को आवास उपलब्ध कराने का लक्ष्य रखा है। इसी को ध्यान में रखते हुए सरकार ने ‘मोर जमीन-मोर मकान योजना’ के तहत खुद के स्वामित्व वाले जमीन पर मकान बनाने के लिए पात्र हितग्राहियों को यह सुविधा देने का फैसला किया है। आदेश सभी नगर निगमों, नगर पालिकाओं और नगर पंचायतों में भेज दिए गए हैं।

वार्ड, मोहल्लों में लगेंगे शिविर, तुरंत मिलेगी मंजूरी

राज्य सरकार ने पीएम आवास योजना के तहत बनने वाले ईडब्ल्यूएस कोटे के मकानों के शीघ्र निर्माण और सहूलियत के लिए ये प्रावधान भी किए हैं-

- हितग्राही को मकान का नक्शा बनवाने और निर्माण की अनुमति के लिए ऑनलाइन आवेदन की प्रक्रिया से छूट दे दी गई है।

- मकान का नक्शा और निर्माण की मंजूरी देने के लिए वार्डों और मोहल्लों में शिविर लगाने और तत्काल नक्शा स्वीकृत करने का भी आदेश दिया है।

- सभी नगर निगमों/ निकायों में पंजीकृत वास्तुविद/इंजीनियर सहित परियोजना तैयार करने वाले वास्तुविद/इंजीनियर भी भवन अनुज्ञा जारी कर सकेंगे।

हर निर्माण पर 2250 रुपए की राहत

इस योजना के तहत ईडब्ल्यूएस के मकानों को बनाने के लिए नक्शा स्वीकृत कराने के लिए भवन अनुज्ञा शुल्क 750 रुपए, जबकि भवन विकास शुल्क 1500 रुपए देना होता है। इस तरह से प्रत्येक हितग्राही को लगभग 2250 रुपए की राहत मिलेगी। प्रदेश की सभी नगर निगमों में छूट की राशि लगभग यही होगी। इसके अलावा आवेदन की प्रक्रिया में भी सरकार ने कई अन्य तरह की छूट के प्रावधान किए हैं।