Hindi News »Chhatisgarh »Raipur »News» Woman Killing After Social Boycott

मामूली झगड़े के बाद फैमिली को दौड़ाकर पीटा, यूं ले ली महिला की जान

पंचायत चुनाव में दूसरे को सपोर्ट दिया तो जीतने वाले सरपंच ने करा दिया था सोशल बायकॉट।

Bhaskar News | Last Modified - Jan 09, 2018, 02:35 AM IST

  • मामूली झगड़े के बाद फैमिली को दौड़ाकर पीटा, यूं ले ली महिला की जान
    +4और स्लाइड देखें
    मारपीट में केंवराबाई की मौत हो गई।

    रायगढ़(छत्तीसगढ़).सारंगढ़ ब्लाक के छोटे खैरा गांव में खेत की मेड़ पर मिट्‌टी डालने को लेकर हुए मामूली विवाद के बाद एक महिला की हत्या कर दी गई। इस महिला के परिवार का पहले सोशल बायकॉट किया था। सोमवार की सुबह 7.30 बजे जब रामलाल साहू परिवार के लोग अपने खेत पर काम कर रहे थे। तभी मैनेजर साहू के परिवार ने अपनी मेड़ पर मिट्‌टी डालने का आरोप लगाकर विवाद किया। झगड़े के बाद रामलाल के पूरे परिवार से मारपीट की। इतने से भी मन नहीं भरा तो गांव के लोगों को बुलाकर महिलाओं समेत सभी को दौड़ाकर पीटा। इस मारपीट में रामलाल की पत्नी केंवराबाई की मौत हो गई। पुलिस ने इस मामले में पांच लोगों को गिरफ्तार किया है।


    लगभग दो साल पहले ग्राम पंचायत चुनाव में छोटे खैरा गांव के रामलाल साहू ने गांव में दूसरे पक्ष को समर्थन दिया। जुलाई 2017 के आखिर में सरपंच व पंचों की पहल से रामलाल के परिवार का सोशल बायकॉट बायकाट किया गया। ज्यादातर दुकानदार इन्हें सामान नहीं देते थे, इस परिवार को कार्यक्रमों में नहीं बुलाया जाता था। इसी बीच गांव के ही रामलाल की गाय बगल में मैनेजर साहू के खेत में घुस गई। फसल को नुकसान बताकर पंचायत बैठी। रामलाल पर पांच हजार का जुर्माना लगाया गया था।

    झोलाछाप ने इलाज नहीं किया तो नाती की हो गई थी मौत
    सोशल बायकॉट बहिष्कार के बाद रामलाल के परिवार से बातचीत करने के आरोप में पंचायत ने अगस्त 2017 के मध्य में शंभू निषाद व लखन निषाद पर 22-22 सौ रुपयों का जुर्माना लगाया था। सितंबर के मध्य में रामलाल का नवजात नाती बीमार हुआ। गंभीर स्थिति में उसे झोलाछाप डाक्टर को दिखाया तो बहिष्कार के कारण उसका इलाज नहीं किया गया और नवजात की मौत हो गई। गांव में रामलाल के परिवार को सार्वजनिक तालाब, हैंडपंप के इस्तेमाल पर भी पाबंदी थी।

    मामूली विवाद के बाद शर्मसार हुई मानवता

    सोमवार की सुबह जब रामलाल अपनी पत्नी केंवरा बाई, पुत्र यादराम के साथ अपने खेत पर मिट्‌टी इधर से उधर कर रहा था। इसी बीच मैनेजर साहू का परिवार वहां पहुंचा और उन्होंने अपनी मेड़ पर मिट्‌टी डाले जाने को लेकर विरोध किया। उसने तुरंत पंच और सरपंच को वहां बुलाया। विवाद गहराया तो मैनेजर ने अपने परिजन व परिचित तुलाराम साहू, हरिकृष्णो साहू, विष्णु साहू, विनोद साहू व अन्य ग्रामीणों को बुला लिया। मारपीट शुरू हुई तो रामलाल के परिजन वहां से भागने लगे तो इन्होंने दौड़ाकर लाठी, डंडों से पिटाई की, इसमें केंवरा बाई को गहरी चोट लगी और मौके पर ही मौत हो गई।

    मामले में 20 से 25 लोगों की गिरफ्तारी होना बाकी है

    ^पंचायत छोटे खैरा में एक महिला की मृत्यु एवं अन्य परिवार वालों की लाठी से दौड़ा दौड़ाकर मारने की घटना सामने आयी है। वही पीड़ित परिवार एवं गांववालों के बीच पहले से ही विवाद चल रहा था और इनका कुछ मामला भी एसडीएम कार्यालय में विचाराधीन है। आरोपियों को गिरफ्तार करके आगे की कार्रवाई की जा रही है और 20 से 25 लोगों की गिरफ्तारी होना बाकी है।
    गोपाल धुर्वे, टीआई, सारंगढ़

  • मामूली झगड़े के बाद फैमिली को दौड़ाकर पीटा, यूं ले ली महिला की जान
    +4और स्लाइड देखें
    जनदर्शन में आया था परिवार, लाल घेरे में केंवराबाई, जिसकी आज हत्या कर दी गई
  • मामूली झगड़े के बाद फैमिली को दौड़ाकर पीटा, यूं ले ली महिला की जान
    +4और स्लाइड देखें
    मामूली विवाद के बाद शर्मसार हुई इंसानियत।
  • मामूली झगड़े के बाद फैमिली को दौड़ाकर पीटा, यूं ले ली महिला की जान
    +4और स्लाइड देखें
    मौका-ए-वारदात पर तफ्तीश करती पुलिस।
  • मामूली झगड़े के बाद फैमिली को दौड़ाकर पीटा, यूं ले ली महिला की जान
    +4और स्लाइड देखें
    दैनिक भास्कर ने 23 अगस्त के अंक में यह समाचार प्रकाशित किया था। शिकायत पर कलेक्टर ने एसडीएम सारंगढ़ को मार्क कर कार्रवाई के लिए लिखा।
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Raipur News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: Woman Killing After Social Boycott
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×