--Advertisement--

मामूली झगड़े के बाद फैमिली को दौड़ाकर पीटा, यूं ले ली महिला की जान

पंचायत चुनाव में दूसरे को सपोर्ट दिया तो जीतने वाले सरपंच ने करा दिया था सोशल बायकॉट।

Dainik Bhaskar

Jan 09, 2018, 02:35 AM IST
मारपीट में केंवराबाई की मौत हो गई। मारपीट में केंवराबाई की मौत हो गई।

रायगढ़(छत्तीसगढ़). सारंगढ़ ब्लाक के छोटे खैरा गांव में खेत की मेड़ पर मिट्‌टी डालने को लेकर हुए मामूली विवाद के बाद एक महिला की हत्या कर दी गई। इस महिला के परिवार का पहले सोशल बायकॉट किया था। सोमवार की सुबह 7.30 बजे जब रामलाल साहू परिवार के लोग अपने खेत पर काम कर रहे थे। तभी मैनेजर साहू के परिवार ने अपनी मेड़ पर मिट्‌टी डालने का आरोप लगाकर विवाद किया। झगड़े के बाद रामलाल के पूरे परिवार से मारपीट की। इतने से भी मन नहीं भरा तो गांव के लोगों को बुलाकर महिलाओं समेत सभी को दौड़ाकर पीटा। इस मारपीट में रामलाल की पत्नी केंवराबाई की मौत हो गई। पुलिस ने इस मामले में पांच लोगों को गिरफ्तार किया है।


लगभग दो साल पहले ग्राम पंचायत चुनाव में छोटे खैरा गांव के रामलाल साहू ने गांव में दूसरे पक्ष को समर्थन दिया। जुलाई 2017 के आखिर में सरपंच व पंचों की पहल से रामलाल के परिवार का सोशल बायकॉट बायकाट किया गया। ज्यादातर दुकानदार इन्हें सामान नहीं देते थे, इस परिवार को कार्यक्रमों में नहीं बुलाया जाता था। इसी बीच गांव के ही रामलाल की गाय बगल में मैनेजर साहू के खेत में घुस गई। फसल को नुकसान बताकर पंचायत बैठी। रामलाल पर पांच हजार का जुर्माना लगाया गया था।

झोलाछाप ने इलाज नहीं किया तो नाती की हो गई थी मौत
सोशल बायकॉट बहिष्कार के बाद रामलाल के परिवार से बातचीत करने के आरोप में पंचायत ने अगस्त 2017 के मध्य में शंभू निषाद व लखन निषाद पर 22-22 सौ रुपयों का जुर्माना लगाया था। सितंबर के मध्य में रामलाल का नवजात नाती बीमार हुआ। गंभीर स्थिति में उसे झोलाछाप डाक्टर को दिखाया तो बहिष्कार के कारण उसका इलाज नहीं किया गया और नवजात की मौत हो गई। गांव में रामलाल के परिवार को सार्वजनिक तालाब, हैंडपंप के इस्तेमाल पर भी पाबंदी थी।

मामूली विवाद के बाद शर्मसार हुई मानवता

सोमवार की सुबह जब रामलाल अपनी पत्नी केंवरा बाई, पुत्र यादराम के साथ अपने खेत पर मिट्‌टी इधर से उधर कर रहा था। इसी बीच मैनेजर साहू का परिवार वहां पहुंचा और उन्होंने अपनी मेड़ पर मिट्‌टी डाले जाने को लेकर विरोध किया। उसने तुरंत पंच और सरपंच को वहां बुलाया। विवाद गहराया तो मैनेजर ने अपने परिजन व परिचित तुलाराम साहू, हरिकृष्णो साहू, विष्णु साहू, विनोद साहू व अन्य ग्रामीणों को बुला लिया। मारपीट शुरू हुई तो रामलाल के परिजन वहां से भागने लगे तो इन्होंने दौड़ाकर लाठी, डंडों से पिटाई की, इसमें केंवरा बाई को गहरी चोट लगी और मौके पर ही मौत हो गई।

मामले में 20 से 25 लोगों की गिरफ्तारी होना बाकी है

^पंचायत छोटे खैरा में एक महिला की मृत्यु एवं अन्य परिवार वालों की लाठी से दौड़ा दौड़ाकर मारने की घटना सामने आयी है। वही पीड़ित परिवार एवं गांववालों के बीच पहले से ही विवाद चल रहा था और इनका कुछ मामला भी एसडीएम कार्यालय में विचाराधीन है। आरोपियों को गिरफ्तार करके आगे की कार्रवाई की जा रही है और 20 से 25 लोगों की गिरफ्तारी होना बाकी है।
गोपाल धुर्वे, टीआई, सारंगढ़

जनदर्शन में आया था परिवार, लाल घेरे में केंवराबाई, जिसकी आज हत्या कर दी गई जनदर्शन में आया था परिवार, लाल घेरे में केंवराबाई, जिसकी आज हत्या कर दी गई
मामूली विवाद के बाद शर्मसार हुई इंसानियत। मामूली विवाद के बाद शर्मसार हुई इंसानियत।
मौका-ए-वारदात पर तफ्तीश करती पुलिस। मौका-ए-वारदात पर तफ्तीश करती पुलिस।
दैनिक भास्कर ने 23 अगस्त के अंक में यह समाचार प्रकाशित किया था। शिकायत पर कलेक्टर ने एसडीएम सारंगढ़ को मार्क कर कार्रवाई के लिए लिखा। दैनिक भास्कर ने 23 अगस्त के अंक में यह समाचार प्रकाशित किया था। शिकायत पर कलेक्टर ने एसडीएम सारंगढ़ को मार्क कर कार्रवाई के लिए लिखा।
X
मारपीट में केंवराबाई की मौत हो गई।मारपीट में केंवराबाई की मौत हो गई।
जनदर्शन में आया था परिवार, लाल घेरे में केंवराबाई, जिसकी आज हत्या कर दी गईजनदर्शन में आया था परिवार, लाल घेरे में केंवराबाई, जिसकी आज हत्या कर दी गई
मामूली विवाद के बाद शर्मसार हुई इंसानियत।मामूली विवाद के बाद शर्मसार हुई इंसानियत।
मौका-ए-वारदात पर तफ्तीश करती पुलिस।मौका-ए-वारदात पर तफ्तीश करती पुलिस।
दैनिक भास्कर ने 23 अगस्त के अंक में यह समाचार प्रकाशित किया था। शिकायत पर कलेक्टर ने एसडीएम सारंगढ़ को मार्क कर कार्रवाई के लिए लिखा।दैनिक भास्कर ने 23 अगस्त के अंक में यह समाचार प्रकाशित किया था। शिकायत पर कलेक्टर ने एसडीएम सारंगढ़ को मार्क कर कार्रवाई के लिए लिखा।
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..