• Home
  • Chhattisgarh News
  • Raipur News
  • News
  • जैन श्वेतांबर तेरापंथ धर्मसंघ के आचार्यश्री ने लोगों को परोपकार करने की दी प्रेरणा
--Advertisement--

जैन श्वेतांबर तेरापंथ धर्मसंघ के आचार्यश्री ने लोगों को परोपकार करने की दी प्रेरणा

जैन श्वेतांबर तेरापंथ धर्मसंघ के आचार्यश्री महाश्रमणजी कांटाबांजी में तीन दिवसीय प्रवास पर हैं। उनके रुकने से...

Danik Bhaskar | Mar 01, 2018, 02:00 AM IST
जैन श्वेतांबर तेरापंथ धर्मसंघ के आचार्यश्री महाश्रमणजी कांटाबांजी में तीन दिवसीय प्रवास पर हैं। उनके रुकने से आलिशान पैलेस रिसोर्ट में मानों वर्तमान में एक तीर्थस्थल सा बन गया है। प्रवास के दूसरे दिन बुधवार को भी ब्रह्ममुहूर्त में होने वाले बृहत मंगलपाठ के समय से ही श्रद्धालुओं की भीड़ आनी शुरू हो गई थी। इसमें न केवल तेरापंथी परिवार बल्कि अन्य जैनेतर परिवार के लोग भी शामिल हैं। आचार्यश्री लगभग साढ़े नौ बजे प्रवास स्थल से प्रस्थान कर प्रवचन पंडाल मंच पर विराजमान हुए। आचार्यश्री के आगमन से पूर्व मुख्य नियोजिकाजी ने श्रद्धालुओं को उत्प्रेरित किया।

आचार्यश्री के आगमन से पूर्व और आचार्यश्री के आगमन के पश्चात तेरापंथ धर्मसंघ की असाधारण साध्वी प्रमुखाजी ने भी लोगों को संयममय जीवन जीने की पावन पाथेय प्रदान किया। आचार्यश्री ने प्रसंगवश श्रीरामचन्द्रजी और केवट के बीच हुए वार्तालाप के प्रसंग की व्याख्या की और साथ ही एक कथानक के माध्यम से लोगों को पर कल्याण करने की पावन प्रेरणा प्रदान की।

ओड़िया गीत से अपने आराध्य की अभ्यर्थना की

आचार्यश्री के मंगल प्रवचन के पश्चात समणी संगीत प्रज्ञाजी ने ओड़िया भाषा में गीत के माध्यम से अपने आराध्य की अभ्यर्थना की। तेरापंथ कन्या मंडल ने भी स्वागत गीत का संगान किया।

पश्चिम ओड़िशा प्रांतीय सभा के उपाध्यक्ष निवास जैन, कांटाबांजी महिला मंडल की अध्यक्ष ममता जैन, तेरापंथ युवक परिषद के अध्यक्ष विकास जैन ने भी अपने आराध्य के समक्ष अपने भावनाओं को अभिव्यक्त किया। कांटाबांजी सभा के पूर्व अध्यक्ष घासीराम जैन ने गीत के माध्यम से गुरु चरणों की वंदना की।

कांटाबांजी| जैन श्वेतांबर तेरापंथ धर्मसंघ के कार्यक्रम में ब्रह्ममुहूर्त में होने वाले बृहत मंगलपाठ के समय पंडाल में उपस्थित श्रद्धालु।