--Advertisement--

ऑक्सीजोन और रीडिंग जोन होंगे वायरलेस सेंटर, सोलर प्लांट भी

प्रशासनिक रिपोर्टर | रायपुर सेंट्रल लाइब्रेरी परिसर में बन रहे सेंट्रल ऑक्सी रीडिंग जोन और ईएसी कॉलोनी में बन...

Danik Bhaskar | Mar 02, 2018, 03:15 AM IST
प्रशासनिक रिपोर्टर | रायपुर

सेंट्रल लाइब्रेरी परिसर में बन रहे सेंट्रल ऑक्सी रीडिंग जोन और ईएसी कॉलोनी में बन रहे ऑक्सीजोन में सभी तरह के केबल अंडरग्राउंड होंगे। नई राजधानी में केबल इसी तरह अंडरग्राउंड हैं, लेकिन मौजूदा राजधानी में ये दोनों ही ऐसे पहले केंद्र होंगे। इस पर अमल शुरू करते हुए दोनों ही सेंटरों से हर तरह के खंभे हटाने का काम शुरू कर दिया गया है।

दोनों ऑक्सीजोन में बिजली खंभों की शिफ्टिंग, सड़क, नाली व पाथवे के निर्माण या किसी भी काम के लिए केबल अंडरग्राउंड किए जाएंगे। जरुरत पड़ने पर यहां सोलर प्लांट भी लगाए जाएंगे, जिससे बिजली की खपत कम हो। ईएसी कॉलोनी के ऑक्सीजोन में वाई-फाई जोन भी क्रिएट किया जा रहा है, जिससे लोग फुर्सत के समय में इंटरनेट से कनेक्ट हो सकेंगे । इस तरह की सुविधा तेलीबांधा के मरीन ड्राइव में शुरू की गई है। सेंट्रल ऑक्सी रीडिंग जोन के लिए इसका प्रस्ताव पास हो चुका है। वहां छात्रों के लिए वाई-फाई जोन भी बनेगा। कलेक्टोरेट के ऑक्सीजोन में भी वाई-फाई की सुविधा के लिए अतिरिक्त फंड जारी करने का प्रस्ताव तैयार किया जा रहा है।

नया फोरलेन बायपास भी

कलेक्टर ओपी चौधरी और जिला पंचायत के सीईओ नीलेश क्षीरसागर ने अफसरों की बैठक बुलाकर इन कामों को तत्काल करने के निर्देश दिए हैं। कलेक्टर ओपी चौधरी ने बताया कि आक्सीजोन पूरी तरह से वायरलेस होेगा। इसी प्लान से काम किया जा रहा है। आक्सीजोन के बाहर लीनियर पार्किंग के साथ 12 मीटर चौड़ी सड़क सीमेंट कांक्रीट की बनाई जाएगी। यह सड़क जिला पंचायत के पीछे से होकर खालसा स्कूल की तरफ जाएगी, जिससे लोगों को नई फोरलेन बायपास सड़क की सुविधा उपलब्ध होगी।