• Home
  • Chhattisgarh News
  • Raipur News
  • News
  • 3 साल बाद भी नहीं मिला एक्सपर्ट इसलिए डिवाइडर में नहीं लगा ड्रिप सिस्टम
--Advertisement--

3 साल बाद भी नहीं मिला एक्सपर्ट इसलिए डिवाइडर में नहीं लगा ड्रिप सिस्टम

रायपुर

Danik Bhaskar | Mar 02, 2018, 03:15 AM IST
रायपुर
डीबी स्टार ने लोगों से मिली शिकायत की पड़ताल करके निगम की बड़ी खामी को उजागर किया था। टीम ने पड़ताल करके 8 फरवरी के अंक में 50 % पानी बचाने वाला ड्रिप सिस्टम 3 साल से फाइलों में,डिवाइडर के पौधों पर रोज 15 टैंकर पानी खर्च शीर्षक से खबर प्रकाशित किया था। इसमें बताया गया था कि निगम की एमआईसी और सामान्य सभा में तीन साल पहले ड्रिप सिस्टम लगाने बना प्रपोजल पास होने के बाद भी योजना हकीकत का रूप नहीं ले सकी। जबकि इसके लिए पहले स्टेप में 39 करोड़ की लागत भी तय की गई। मगर एक्सपर्ट नहीं मिलने की वजह से योजना फाइलों में ही दबा दी गई।

DB Star

follow-up

निगम खर्च कर रहा 45 करोड़

निगम अब भी हर साल 45 करोड़ से ज्यादा का बजट टैंकर से पानी डालने में लगने वाले कर्मचारी और वाहनों के मेंटेनेंस पर खर्च कर रहा है। इसके बाद भी निगम क्षेत्र के 25 से ज्यादा डिवाइडर में लगे पौधों को हरा-भरा रखने के लिए 15 टैंकर पानी रोज खर्च की जा रही है। मॉनीटरिंग नहीं होने से कर्मचारी लापरवाही करते हैं।

बैकवास पानी किया जाएगा उपयोग

 ड्रिप सिस्टम को शहर के डिवाइडर में लगाने के लिए एक्सपर्ट नहीं मिलने की वजह से नहीं लगाया जा सका। एक्सपर्ट मिलते ही इसे शुरू कराया जाएगा। अब डिवाइडर में क्लोरिन वाटर की बजाय बैकवास वाटर का इस्तेमाल किया जा रहा। इससे पीने योग्य पानी को बचाने का प्रयास किया जा रहा है। प्रमोद दुबे, महापौर, नगर निगम रायपुर