--Advertisement--

भाजपा-कांग्रेस के ट्विटर वार में हुई गाली-गलौज

News - महिला यूजर ने भूपेश बघेल के ट्वीट के जवाब में लिखी गाली भास्कर न्यूज|रायपुर विधानसभा चुनाव जैसे-जैसे नजदीक...

Dainik Bhaskar

Mar 01, 2018, 03:35 AM IST
भाजपा-कांग्रेस के ट्विटर वार में हुई गाली-गलौज
महिला यूजर ने भूपेश बघेल के ट्वीट के जवाब में लिखी गाली

भास्कर न्यूज|रायपुर

विधानसभा चुनाव जैसे-जैसे नजदीक आता जा रहा है। सियासी दलों के नेता और उनके समर्थक अपना धैर्य खोने लगे हैं। बजट सत्र के दौरान मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह द्वारा कांग्रेस की पदयात्रा को पद के लिए यात्रा बताने के बाद से कांग्रेस लगातार उन्हें घेर रही है।

पीसीसी चीफ भूपेश बघेल ने इसे सीएम का अहंकार बताते हुए तल्ख टिप्पणी की। उन्होंने मंगलवार को ट्वीट किया था कि रमन सिंह के पिछले कुछ दिनों के बयान बताते हैं कि वे अहंकार से भर गए हैं। उन्हें इस अहंकार में दरअसल याद नहीं आ रहा है कि प्रदेश में सबसे दुर्भाग्यजनक घटनाएं क्या हुई हैं। बघेल के इस बयान के वायरल होते ही प्रिया साहू नाम की एक युवती ने ट्विटर पर अपशब्द लिखने शुरू कर दिए। बघेल ने देर शाम कोतवाली थाने में इस मामले में पुलिस को शिकायत का आवेदन भी दिया। कहा जा रहा है कि यह प्रिया के नाम की फेक शेष|पेज 9

आईडी भी हो सकती है। वैसे इस आईडी को रेलमंत्री पीयूष गोयल के कार्यालय द्वारा फॉलो किया जा रहा है। हालांकि, युवती की भद्दी भाषा के प्रयोग पर पीसीसी चीफ भूपेश बघेल ने ट्विटर के जरिए अत्यंत सधी हुई प्रतिक्रिया दी है। उन्होंने ट्वीट करते हुए लिखा है कि आप मेरी आलोचना कीजिए, जमकर विरोध कीजिए। स्वस्थ आलोचना का स्वागत है, लेकिन भाषा का ख्याल अवश्य रखिए। इस तरह की असंसदीय भाषा का इस्तेमाल लोकतंत्र के लिए घातक है। लेकिन कांग्रेस ने इसे गंभीरता से लेते हुए मोर्चा खोल दिया है। कांग्रेस ने इसे रमन समर्थक करार दिया है।

अहंकार बेनकाब होने से बौखलाए : कांग्रेस : सोशल मीडिया में सीएम के समर्थकों की भाषा पर कड़ी आपत्ति जताते हुए प्रदेश कांग्रेस के महामंत्री व संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा कि ट्वीट की भाषा से स्पष्ट है कि सीएम के खेमे ने अपना संतुलन खो दिया है। क्या यही इनकी शुचिता और नैतिकता है? त्रिवेदी ने कहा कि क्या सीएम हाउस से यह सब हरकत करवाई जा रही है। इस पूरे मामले की जांच होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि जिस आईडी से पीसीसी चीफ के ट्वीट पर गाली-गलौज की जा रही है, उसे केंद्रीय रेल राज्यमंत्री स्वतंत्र प्रभार पीयूष गोयल के कार्यालय से फॉलो किया जाता है। इससे ज्यादा दुर्भाग्यपूर्ण और कुछ नहीं हो सकता है। राजनीति में ऐसी अशोभनीय भाषा व गाली-गलौज स्वीकार्य नहीं है। दरअसल, भूपेश बघेल ने असलियत खोल कर रख दी है। मुख्यमंत्री के अहंकार को बेनकाब कर दिया है, इससे उनके समर्थक बौखला गए हैं। महिला का भाजपा से कोई संबंध नहीं : संजय : भाजपा प्रवक्ता संजय श्रीवास्तव ने कांग्रेस के आरोपों को एक सिरे से खारिज किया। उन्होंने कहा कि महिला न तो सरकार या पार्टी से जुड़ी है और न ही उससे बीजेपी का काेई संबंध है। उन्होंने कहा कि सोशल मीडिया में किसी को भी अपनी बात रखने का पूरा हक है। आज जनता जागरूक हो गई है। सही और गलत का फर्क बखूबी समझती है। उस महिला को लगा होगा कि रमन सरकार ने ऐसे काम किए हैं, जिसकी वो तारीफ करें। इसी वजह से भूपेश बघेल की टिप्पणी पर उसने अपना जवाब दिया है। पहले कांग्रेस अपनी गिरेबां में झांके, फिर सरकार पर आरोप लगाए।

सत्ता के लालच में गंदी राजनीति कर रही भाजपा : वंदना राजपूत : महिला कांग्रेस की प्रदेश प्रवक्ता वंदना राजपूत ने कहा कि पीसीसी चीफ भूपेश बघेल से छत्तीसगढ़ सरकार इतना अत्यधिक घबरा चुकी है कि अशोभनीय भाषा का प्रयोग करने लगी है। इस तरह की भाषा लोकतंत्र के लिए घातक है। सरकार की बौखलाहट साफ दिखाई दे रही है। इससे पहले कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं पर ईंट-पत्थर से हमला किए गए, अब इतना नीचे गिर गए कि गाली- गलौज पर उतर आए हैं। भाजपा सत्ता के लालच में इतनी गंदी राजनीति कर रही है।

कांग्रेस नेताओं ने भाजपा को दी नसीहत, शिवरतन ने निकाला कांग्रेस का पुराना ट्वीट

प्रिया साहू के ट्वीट के बाद कांग्रेस के नेता व उनके समर्थक भी सक्रिय हो गए। बारी-बारी से आरपी सिंह, अजय साहू सहित कई अन्य नेताओं ने ट्विटर के जरिए भाजपा को नसीहत दी। भाजपा प्रवक्ता शिवरतन शर्मा भी इस विवाद में कूद पड़े हैं। उन्होेंने बीजेपी की ओर से ट्विटर पर नया पोस्टर जारी किया, जिसे भाजपा ने रिट्विट किया। इसमें किसी पीयूष श्रीवास्तव के ट्विटर एकाउंट का जिक्र है। इसमें सीएम रमन सिंह के अधिकृत ट्विटर हैंडल पर 9 फरवरी को गैर मर्यादित शब्दों के प्रयोग का स्क्रीन शॉट है। इसमें पीयूष श्रीवास्तव जिनको फॉलो करता है, उन कांग्रेस नेताओं का प्रोफाइल भी है। शिवरतन ने लिखा है कि कांग्रेस की तमीज वाली प्रोफाइल जो ट्विट करने के लिए ऐसी भाषा का प्रयोग करती है। शेष|पेज 9

यह तमीज़ वाला एकाउंट जो सिर्फ़ कांग्रेसियों नेताओं को फ़ॉलो करता है और सीएम के लिए ऐसी अशिष्ट भाषा का प्रयोग करता है क्या उसे भूपेश जी संसदीय भाषा कहेंगे।

X
भाजपा-कांग्रेस के ट्विटर वार में हुई गाली-गलौज
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..