• Hindi News
  • Chhatisgarh
  • Raipur
  • News
  • ठगी का नया केस, जैन पिता पुत्र जेल में रहते हुए गिरफ्तार
--Advertisement--

ठगी का नया केस, जैन पिता पुत्र जेल में रहते हुए गिरफ्तार

News - रवि भवन के प्रमोटर बिल्डर और नगर सेठ परिवार के नाम से चर्चित विमल जैन व उनके बेटे वैभव को तेलीबांधा पुलिस ने...

Dainik Bhaskar

Apr 01, 2018, 06:10 AM IST
ठगी का नया केस, जैन पिता पुत्र जेल में रहते हुए गिरफ्तार
रवि भवन के प्रमोटर बिल्डर और नगर सेठ परिवार के नाम से चर्चित विमल जैन व उनके बेटे वैभव को तेलीबांधा पुलिस ने बिलासपुर जेल में गिरफ्तार किया है। कोर्ट से प्रोडक्शन वारंट जारी होने के बाद उनकी गिरफ्तारी की गई। 3 अप्रैल को विमल और उनके बेटे को रायपुर लाया जाएगा। बिलासपुर कोर्ट ने दोनों को मंगलवार को कोर्ट में पेश करने का निर्देश दिया है। उसके बाद उन्हें रायपुर लाया जाएगा। हालांकि उनकी अधिकृत गिरफ्तारी हो गई है। पुलिस रायपुर में उनके और भी पुराने मामले खोल रही है। एक-दो दिनों के भीतर उनके खिलाफ फर्जीवाड़े के और नए केस दर्ज होने के आसार हैं।

पुलिस अफसर जैन परिवार के खिलाफ की गई शिकायतों का परीक्षण करवा रहे हैं। तेलीबांधा थाने में स्टील कारोबारी रूपेश सराफ ने जैन ग्रुप के खिलाफ डेढ़ करोड़ की ठगी की शिकायत की है। इसी मामले में अपराध पंजीबद्ध किया गया। जैन पिता पुत्र अभी बिलासपुर जेल में बंद हैं। वहां उनके खिलाफ धोखाधड़ी का केस है। इसलिए उनकी गिरफ्तारी में कानूनी पेंच आ गया है। रायपुर पुलिस ने उनकी गिरफ्तारी के लिए कोर्ट में याचिका दायर की। उसी याचिका के अधार पर वारंट जारी किया। शनिवार सुबह तेलीबांधा पुलिस की टीम बिलासपुर पहुंची। कोर्ट के आदेश के बाद जेल में ही औपचारिक तौर गिरफ्तार कर लिया गया। इस मामले के अन्य आरोपी विमल जैन का बेटा वरुण और बेटी फरार है। पुलिस दोनों की तलाश कर रही है। आरोपियों के खिलाफ केस बाउंस के मामले कोर्ट में लंबित है। उन्होंने कई लोगों को चेक से पेमेंट किया था। खाते में पैसे नहीं होने के कारण चेक बाउंस हो गया है। उसके बाद भी पैसे नहीं लौटाएं हैं। कारोबारियों ने चेक बाउंस होने पर कोर्ट में अपील की है।

होटल का लोन भी नहीं चुकाया, बैंक ने किया कब्जा

विमल जैन ने बेटों के साथ मिलकर तेलीबांधा में होटल ताज शुरू किया था। कुछ साल चलने के बाद होटल बंद हो गया। आरोपियों ने होटल बनाने के लिए लोन लिया था, लेकिन लोन की किश्त जमा नहीं की। इस कारण ब्याज की दर भी बढ़ते गई। करोड़ों का लोन भुगतान नहीं होने पर बैंक ने होटल को कुर्क कर लिया। उसकी नीलामी की गई। सयाजी ग्रुप ने होटल को खरीद लिया। आरोपियों ने होटल के पीछे ही ताज विला लाया था। उसके नाम से भी ठगी की। जैन परिवार पर नगर निगम से भी ठगी का आरोप है। निगम की जमीन पर रवि भवन बनाया गया। इसी दौरान दुकानों की बिक्री में गड़बड़ी का आरोप है। यहां तक राजस्व चोरी का भी आरोप लगा है।

दुर्ग में भी शो रूम के नाम पर ठगी

आरोपियों ने दुर्ग में भी टाेयटा शो रूम खोलने का झांसा देकर ठगी की है। इस मामले में दो साल पहले पुलिस ने केस दर्ज किया था, लेकिन इस मामले में अब तक गिरफ्तारी नहीं हुई। दुर्ग पुलिस भी आरोपियों की गिरफ्तारी करेगी।

X
ठगी का नया केस, जैन पिता पुत्र जेल में रहते हुए गिरफ्तार
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..