• Home
  • Chhattisgarh News
  • Raipur News
  • News
  • चंगोराभाठा कालोनी में फैला पीलिया, हंगामे के बाद पहुंचे अफसर
--Advertisement--

चंगोराभाठा कालोनी में फैला पीलिया, हंगामे के बाद पहुंचे अफसर

चंगोराभाठा बीएसयूपी कालोनी में भी पीलिया फैल गया है। यहां गंदे पानी की शिकायत मिल रही है। शनिवार तक पूरी कालोनी...

Danik Bhaskar | Apr 01, 2018, 06:20 AM IST
चंगोराभाठा बीएसयूपी कालोनी में भी पीलिया फैल गया है। यहां गंदे पानी की शिकायत मिल रही है। शनिवार तक पूरी कालोनी में 9 महिलाएं पीलिया पीड़ित होने की पुष्टि हो चुकी थी। इसके बावजूद स्वास्थ्य विभाग का अमला जांच के लिए नहीं पहुंचा। शनिवार को बीएसयूपी मकानों में रहने वाले लोगों ने जब हंगामा किया और गंदा पानी लेकर घरों से बाहर आ गए, तब हड़बड़ा कर अफसर वहां पहुंचे।

मोवा के शीतलापारा, नेहरू पारा और राम नगर इलाके में पीलिया की शिकायत के बाद अब चंगोराभाठा बीएसयूपी कालोनी में भी पीलिया की शिकायत पहुंच गई है। लोगों का कहना है यहां नलों से गंदा पानी आ रहा है। इसी वजह से पीलिया फैल रहा है। लोगों ने शनिवार को हंगामा किया और गंदे पानी बोतलों में भरकर घर से बाहर आ गए, तब निगम अफसर पहुंचे। शहर में अब तक पीलिया से दो महिलाओं की मौत हो चुकी है। मोवा इलाके में 70 से ज्यादा लोगों के सेंपल लिए गए हैं। इनमें से 50 में पीलिया की संभावना जताई जा रही है। गर्मी शुरू होने के साथ ही पीलिया के बढ़ते मरीजों ने शहर में वाटर सप्लाई सिस्टम की हकीकत सामने ला दी है। निगम के अफसरों का कहना है कि वे बीएसयूपी कालोनी में जांच करा रहे हैं। इधर, सूचना के बाद भी स्वास्थ्य विभाग का अमला न तो जांच के लिए पहुंचा है और ना ही यहां किसी तरह के इंतजाम किए गए हैं। लोगों का कहना है नल के आ रहा पानी मटमैला व बदबूदार है।





दूसरा कोई विकल्प नहीं होने के कारण उन्हें मजबूरन यही पानी उपयोग में लाना पड़ रहा है।

मोवा में बदली जा रही पाइपलाइन : चेयरमैन

नगर निगम में जल विभाग के चेयरमैन नागभूषण राव यादव ने कहा कि मोवा में जिन-जिन इलाकों में पाइपलाइन पुरानी हो चुकी है या सप्लाई लाइन नाली से होकर गुजर रही है उन्हें बदलने का काम शुरू कर दिया गया है।

गंदा पानी लेकर घरों के बाहर आए लोग।

नगरीय प्रशासन सचिव ने किया इलाके का दौरा

नगरीय प्रशासन विभाग के सचिव डाॅ. रोहित यादव ने संचालक निरंजन दास, निगम अपर आयुक्त आशीष टिकरिहा, तथा अन्य अफसरों के साथ शनिवार को शहर के पीलिया से प्रभावित क्षेत्र मोवा नहरपारा, सदर बाजार, चंगोराभाठा क्षेत्र का दौरा किया। उन्होंने यहां चल रहे सफाई अभियान, पानी में क्लोरीन की मात्रा की जांच, पाइपलाइन सर्वे व लीकेज सुधार मरम्मत आदि कामों का जायजा लिया। उन्होंने अफसरों को चेतावनी दी है कि इस मामले में किसी भी प्रकार की लापरवाही मिलने पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी। निरीक्षण के दौरान एक गर्भवती को पीलिया होने की जानकारी मिलने पर 108 एम्बुलेंस बुलाकर महिला को अंबेडकर अस्पताल भिजवाया गया।





उन्होंने मोवा नहरपारा, सदर बाजार, चंगोराभाठा बीएसयूपी कालोनी क्षेत्र में राष्ट्रीय शहरी स्वास्थ्य मिशन के शासकीय चिकित्सकों की ओर से लगाए गए स्वास्थ्य शिविरों का जायजा लिया। अधिकारियों से कहा गया कि वे पीलिया से प्रभावित क्षेत्रों की नियमित मानिटरिंग करें।