--Advertisement--

बिना बिल के नहीं मिलेगी शराब, आज से महंगी भी

रायपुर | शराब अब रविवार से बिना बिल के नहीं मिलेगी। देशी-विदेशी सभी शराब दुकानों में कंप्यूटराइज्ड सिस्टम लगा दिए...

Danik Bhaskar | Apr 01, 2018, 06:20 AM IST
रायपुर | शराब अब रविवार से बिना बिल के नहीं मिलेगी। देशी-विदेशी सभी शराब दुकानों में कंप्यूटराइज्ड सिस्टम लगा दिए गए हैं। कहीं भी बिना बिल के शराब की बिक्री होने पर टोल फ्री नंबर 14405 पर शिकायत की जा सकती है। बिलिंग के सिस्टम में बदलाव के साथ ही शराब की कीमत भी बढ़ा दी गई है। ब्रांडेड शराब की कीमतों में 40 से 400 रु. तक की बढ़ोतरी कर दी गई है। देशी ब्रांड की शराब कोई कीमत नहीं बढ़ाई गई है। पिछले साल इसकी कीमत 300 थी। इस बार भी कीमत उतनी ही रखी गई है। देसी पौव्वा भी पुरानी दर पर मिलेगा। शराब दुकानों के खुलने और बंद होने के समय में कोई परिवर्तन नहीं किया गया है।



राज्यभर की शराब दुकानें दोपहर 12 बजे से खुलकर रात 9 बजे बंद हो जाएंगी। इसी तरह छोटे होटलों में चलने वाले बार भी रात दस बजे ही बंद हो जाएंगे।

निगरानी के लिए उड़नदस्ते भी तैयार

मध्यप्रदेश से आने वाली अवैध शराब की बिक्री को रोकने के लिए इस बार उड़नदस्तों की संख्या बढ़ा दी गई है। केवल रायपुर शहर में ही आधा दर्जन उड़नदस्ते इसकी निगरानी करेंगे। रेलवे स्टेशन, बस स्टैंड समेत सभी सार्वजनिक जगहों पर हर हफ्ते इसकी जांच होगी। मोहल्लों या बस्तियों में भी अवैध शराब की बिक्री नहीं होने दी जाएगी। जिला उपायुक्त पीएल साहू ने बताया कि कहीं भी अवैध शराब की बिक्री होती है तो इसकी सूचना अफसरों को दी जा सकती है।

स्टेट बैंक में आज से न्यूनतम शुल्क

स्टेट बैंक ने न्यूनतम रखने के लिए अपने शुल्क में 75 फीसदी की कमी कर दी है। इसका फायदा छत्तीसगढ़ के लाखों लोगों को होगा। शहरी केंद्रों में औसत न्यूनतम शेष राशि के रखरखाव का शुल्क अधिकतम 50 रुपये प्रति माह से घटाकर 15 रुपये प्रति माह प्लस जीएसटी कर दिया गया है। इसके अलावा अर्ध शहरी और ग्रामीण केंद्रों के लिए जीएसटी के साथ लगे अधिकतम शुल्क 40 रुपए को घटाकर जीएसटी के साथ 12 और 10 रुपये प्रति माह कर दिया गया है। ये नए सभी शुल्क 1 अप्रैल 2018 से प्रभावी हो जाएंगे।