--Advertisement--

चिटफंड कंपनी की संपत्ति हुई कुर्क, सबूत देने पर मुआवजा

प्रशासनिक रिपोर्टर | रायपुर चिटफंड कंपनियों की 8 करोड़ की संपत्ति कुर्क कर ली गई है। अब इन कंपनियों में पैसे जमा...

Danik Bhaskar | Apr 01, 2018, 06:20 AM IST
प्रशासनिक रिपोर्टर | रायपुर

चिटफंड कंपनियों की 8 करोड़ की संपत्ति कुर्क कर ली गई है। अब इन कंपनियों में पैसे जमा करने वालों से सबूत मांगा जा रहा है कि उन्होंने कितनी रकम जमा की है। उसके बाद पीड़ितों को मुआवजा दिया जाएगा। इसके लिए शासकीय प्रक्रिया शुरू हो गई है।

कंपनियों में निवेश करने वाले पीड़ितों को कंपनी में जमा की गई रकम का सर्टिफिकेट, आवेदन और अपनी पहचान के दस्तावेज देने होंगे। इन सबूतों का परीक्षण किया जाएगा। उसके बाद ही मुआवजे की रकम तय होगी। लोगों से आवेदन और बाकी दस्तावेज जिला कोषालय में जमा लिए जा रहे हैं। कलेक्टर ने करीब एक दर्जन चिटफंड कंपनियों की आठ करोड़ से ज्यादा की संपत्ति कुर्क की है। इसकी नीलामी का मामला जिला कोर्ट में लंबित हैं। कोर्ट के आदेश के बाद जब्त संपत्ति की नीलामी होती है तो इस रकम का वितरण कंपनी में निवेश करने वाले लोगों को दिया जाएगा। इसलिए प्रशासन ने ऐसे सभी प्रभावित लोगों से आवेदन मंगाए हैं। शनिवार को आवेदन जमा करने का अंतिम दिन था। इस दौरान आवेदन जमा करने वाले कई पीड़ितों ने अफसरों को बताया कि आवेदन जमा करने की जानकारी कई जगहों पर नहीं पहुंच पाई है। इस वजह से आवेदन जमा करने की आखिरी तारीख बढ़ानी चाहिए।



कोषालय दफ्तर के अफसरों ने इस पर कलेक्टर से बात करने का भरोसा दिलाया है। आवेदन जमा करने वालों में बड़ी संख्या में एजेंट भी थे, जिन्होंने कंपनी में काम करते हुए लोगों से रकम जमा कराई थी। इन एजेंटों ने एक साथ कोषालय में आवेदन दिया है जिनमें सैकड़ों लोगों के नाम और उनकी और से जमा कराई गई रकम का विवरण दिया गया है।