--Advertisement--

पुलिस को देखते ही कार लेकर भागने लगे, जब डिग्गी खोली गई तो हुआ खुलासा

पुलिस को देखते ही कार लेकर भागने लगे, जब डिग्गी खोली गई तो हुआ खुलासा

Danik Bhaskar | Dec 09, 2017, 11:41 AM IST
कार से निकले गांजा के 60 पैकेट। कार से निकले गांजा के 60 पैकेट।


अंबिकापुर। नाकेबंदी कर चेकिंग के दौरान कार सवार पुलिस को देख ऐसे हड़बड़ाए कि उन्हें चकमा देकर भाग निकले। पुलिस ने दो थानों की घेराबंदी की मदद से जब उन्हें पकड़ा तो उसके चेहरे पर हवाइयां उड़ रही थी। जब कार की डिग्गी खोली गई तो गांजे के पैकेट से पूरा डिग्गी भरा हुआ था। गांजे का वजन कुल 50 किलो बताया जा रहा है। जानिए पूरी घटना...


- अंबिकापुर से 18 किमी दूर अंबिकापुर-रामानुजगंज मार्ग पर राजपुर थाना इलाके के बरियों पुलिस चौकी के सामने चल रही वाहनों की जांच के दौरान चकमा देकर फरार हो गए। बरियों पुलिस की एक टीम उनका पीछा करने लगी।
- सूचना पर राजपुर पुलिस भी कार सवार युवकों को पकड़ने उधर से घेराबंदी की। इसी दौरान परसागुड़ी के पास युवकों ने कार रोक दी।
- इससे पहले कि वे भाग निकलते पुलिस ने तीन युवकों को पकड़ लिया। एक युवक गांव की ओर भाग निकला। पकड़े गए युवकों में पंकज साव 28 वर्ष, विकास साव 23 वर्ष, चंदन साव 23 वर्ष सभी निवासी आरा भोजपुर बिहार के हैं।
- कार की डिग्गी से पुलिस ने साठ पैकेट गांजा जब्त किया। पुलिस ने पैकेटों में पचास किलो गांजा होने का अनुमान लगाया है।
- शाम होने के कारण इन पैकेटों का वजन नहीं हो पाया था। सूचना पर एसपी डीआर आंचला भी राजपुर थाने पहुंचे। पकड़े गए युवकों से पुलिस पूछताछ कर रही है।
- गांजे की कीमत करीब तीन लाख रुपए आंकी गई है।


अरहर की बाड़ी में छिपा हुआ था चौथा आरोपी


- पुलिस से बचकर चौथा आरोपी नीरज गुप्ता भाग निकला और परसागुड़ी गांव में एक ग्रामीण के अरहर की बाड़ी में छिप गया था।
- इस बीच पुलिस ने गांव में इसकी सूचना देकर ग्रामीणों को भी संदिग्ध युवक की तलाश करने कहा। ग्रामीणों के सहयोग से चौथे आरोपी को पुलिस ने बाड़ी से धर दबोचा।


औरंगाबाद देनी थी डिलीवरी


- पूछताछ में युवकों से पता चला कि गांजे की खेप ओडिशा के भवानीपट्टनम से लेकर कार में निकले थे। इस बीच दो राज्यों के कई थाने व पुलिस चौकी पार कर कुछ ही घंटे में युवक झारखंड सीमा में प्रवेश करने वाले थे, इस बीच बरियों पुलिस की वाहन चेकिंग के दौरान सभी पकड़े गए।
- जब्त की गई गांजे की खेप की डिलीवरी औरंगाबाद में देनी थी। पुलिस इन युवकों से कारोबार से जुड़े लोगों के बारे में पता लगाने का प्रयास कर रही है।


फोटो : विष्णु ठाकुर


आगे की स्लाइड्स में क्लिक करके देखिए खबर की और Photos...