--Advertisement--

(अपडेट) तीस साल से एक ही पद पर, अब मिले ६५ इंजीनियरों व मानचित्रकारों को प्रमोशन चार महीने में रिकार्ड आठ डीपीसी हुई

(अपडेट) तीस साल से एक ही पद पर, अब मिले ६५ इंजीनियरों व मानचित्रकारों को प्रमोशन चार महीने में रिकार्ड आठ डीपीसी हुई

Danik Bhaskar | Mar 14, 2018, 05:14 PM IST

रायपुर। राज्य शासन ने इरीगेशन डिपार्टमेंट में करीब 28-30 साल बाद डिप्लोमाधारी डिप्टी इंजीनियरों और मानचित्रकारों को असिस्टेंट इंजीनियर के पद पर पदोन्नति दी है। इनमें 48 डिप्लोमा डिप्टी इंजीनियर व 17 मानचित्रकार शामिल हैं। इन्हें नए वेतन बैंड के साथ नई जगहों पर स्थानांतरित भी किया है। इनमें ज्यादातर रिटायरमेंट के नजदीक हैं। कोर्ट केस, अफसरों द्वारा सीआर न लिखने या संपत्ति विवरण को लेकर पदोन्नतियां लटकाई जा रही थीं।


- राज्य शासन की ओर से मुख्य सचिव के निर्देश हैं कि हर विभाग में हर साल कर्मचारियों-अधिकारियों को पदोन्नति मिलनी चाहिए।

- इरीगेशन विभाग ने रिकाॅर्ड कायम करते हुए चार महीने में आठ डीपीसी को प्रमोट किया। सुपरीटेंडेंट इंजीनियर से अमीन (पटवारी) तक को प्रमोशन मिला। इससे पहले न्यायालय के प्रकरणों का निराकरण कराया गया। पदोन्नति नई जगह पर चार्ज लेने के दिन से मानी जाएगी।

- विभाग के सचिव सोनमणि वोरा ने स्वीकार किया कि विभाग का जो स्टाफ सेवानिवृत्ति के करीब है उन्हें वर्तमान जगह पर ही रखने की कोशिश की गई है। सभी को वरिष्ठता के आधार पर प्रमोशन दिया है।