रायपुर

--Advertisement--

पत्नी के गालों पर रंग लगाया तो पति ने यूं लिया बदला, ये है इस खूनी खेल की कहानी

पत्नी के गालों पर रंग लगाया तो पति ने यूं लिया बदला, ये है इस खूनी खेल की कहानी

Dainik Bhaskar

Dec 13, 2017, 03:59 PM IST
दोस्त के पीछे तलवार लेकर दौड़ा दोस्त के पीछे तलवार लेकर दौड़ा


धमतरी। करीब 7 साल पहले होली के दिन दोस्त की पत्नी के गालों पर रंग लगाना एक शख्स को इतना भारी पड़ गया कि उसे अपनी जान गंवानी पड़ी। आरोपी पिछले 7 सालों से मौके की तलाश में था। आखिरकार उसने 20 अक्टूबर को दोस्त को दौड़ाकर तलवार से लहूलुहान कर दिया और भाग गया। पुलिस आरोपी की तलाश कर रही थी। आखिरकार वो बुधवार को पुलिस के हत्थे चढ़ गया। जानिए पूरी घटना...


- संतोष पिता उमेंदी राम साहू 49 निवासी मुकुंदपुर भत्तकापारा का विवाद विशेश्वर निषाद से था। 7 साल पहले दोनों की लड़ाई होली पर हुई थी।
- विवाद से पहले दोनों दोस्त थे पर होली के दिन पत्नी के गालों पर विशेश्वर का रंग लगाना संतोष को खल गया।
- उस दिन के बाद कई बार इस बात को लेकर दोनों के बीच अनबन हुई। 20 अक्टूबर को गोवर्धन पूजा के दिन शाम को विशेश्वर निषाद अपने दोस्त प्रेमलाल साहू के साथ एक दूसरे दोस्त सुखचंद के घर गया था।
- वहां अभी बाहर खड़े होकर बाइक से दोनों उतर ही रहे थे तभी पीछे से हाथ में तलवार लिए बाइक से संतोष आ गया और वो विशेश्वर पर पिल पड़ा।
- उसने तलवार से विशेश्वर पर कई वार कर दिए। छुपने के लिए विशेश्वर सुखचंद के घर में घुसा। पीछे से आरोपी भी घुस गया और उसने उसके पेट और सीने पर वार कर दिया।
- फिर उसे लहूलुहान हालत में घसीटते हुए बाहर ले आया।
- बाहर छोड़कर आरोपी वहां से भाग गया। जब लोगों ने देखा तो विशेश्वर की मौके पर ही मौत हो गई थी।


यूं पकड़ा गया आरोपी


- डेढ़ माह बाद 12 दिसंबर को आरोपी अपने घर मुकुंदपुर आया था। तब मुखबिर की सूचना पर पुलिस 13 दिसंबर को सुबह उसके घर पहुंच गई।
- पुलिस को देख संतोष हड़बड़ा गया और भागने की कोशिश करने लगा। पुलिस ने उसे दौड़ाकर पकड़ लिया और कोर्ट में पेश किया जहां उसे पुलिस रिमांड पर जेल भेज दिया गया।


फोटो : अजय देवांगन


आगे की स्लाइड्स में क्लिक करके देखिए खबर की और Photos...

X
दोस्त के पीछे तलवार लेकर दौड़ा दोस्त के पीछे तलवार लेकर दौड़ा
Click to listen..