--Advertisement--

विदेशी नस्ल का ष्ठशद्द समझ घर ले आए इस डेंजर जानवर का बच्चा

विदेशी नस्ल का ष्ठशद्द समझ घर ले आए इस डेंजर जानवर का बच्चा

Danik Bhaskar | Jan 20, 2018, 12:09 PM IST
गन्ने के खेत से उठाकर ले आए थे भ गन्ने के खेत से उठाकर ले आए थे भ


बलरामपुर। वन परिक्षेत्र के पास स्थित गांव में गन्ने के खेत में बच्चों को भालू का नवजात मिला जिसे बच्चे विदेशी नस्ल के डॉग का बच्चा समझ बैठे। वे इसे घर लेकर आए। इधर इस बच्चे को देखने के लिए स्थानीय लोगों की भीड़ उमड़ पड़ी। इसी बीच वन विभाग को भी इसकी खबर लग गई और वे बच्चे को वन परिक्षेत्र कार्यालय ले आए। शुक्रवार को भालू के बच्चे को पशु चिकित्सालय लाया गया जहां उसका स्वास्थ्य परीक्षण किया गया। फिलहाल ये यहीं है और इसे देखने के लिए लोगों की भीड़ उमड़ रही है। जानिए पूरी घटना...


- जिला बलरामपुर के वन परिक्षेत्र राजपुर के चांची सर्किल के तहत रेवतपुर के छलकुपारा में गुरुवार की शाम को लगभग 4 बजे गन्ने के खेत में बच्चों को भालू का शावक मिला।
- वे इसे विदेशी नस्ल वाले कुत्ते का नवजात समझ घर ले आए। यहां उसे रोटी वगैरह खिलाने लगे।
- इसे देखने के लिए लोगों की भीड़ इकट्ठी हो गई। कुछ लोगों को लगा कि ये कुत्ते का बच्चा नहीं है। ऐसे में उन्होंने वन विभाग को इसकी सूचना दे दी।
- वन विभाग की टीम मौके पर पहुंची देखकर बताया कि ये भालू का शावक है। उसे अपने कस्टडी में लेकर वे वन विभाग परिक्षेत्र कार्यालय में पहुंचे।
- शुक्रवार को उसे पशु चिकित्सालय लाया गया जहां डॉक्टर ने देखकर बताया कि ये 4-5 दिन का है। बच्चे का स्वास्थ्य परीक्षण किया गया।
- फिलहाल वो अस्पताल में ही है और वहीं इसकी देखरेख चल रही है। कुछ दिनों के बाद इसे दोबारा वन परिक्षेत्र की ओर छोड़ दिया जाएगा।

फोटो : विश्वास गुप्ता