--Advertisement--

जुलूसे मोहम्मदी में गूंजा जश्ने आमदे मुस्तफा मरहबा ठ्ठह्वद्यद्य

जुलूसे मोहम्मदी में गूंजा जश्ने आमदे मुस्तफा मरहबा ठ्ठह्वद्यद्य

Dainik Bhaskar

Dec 02, 2017, 12:28 PM IST
ईद ए मिलाद में ऐसा था माहौल। ईद ए मिलाद में ऐसा था माहौल।

रायपुर। पैगंबरे इस्लाम के जन्मदिन के अवसर पर शनिवार को सुबह 7 बजे जुलूसे मोहम्मदी निकाला गया। इसमें हजारों की संख्या में लोग शामिल हुए। 40 साल में जुलूस पहली बार दोपहर के बजाय सुबह निकाला गया। इस दौरान सभी लोगों ने आमदे मुस्तफा पर एक-दूसरे को मुबारकबाद भी दी। ऐसा था नजारा...


- जुलूसे मोहम्मदी में शामिल होने के लिए सभी मुस्लिम मोहल्लों से लोग फजिर की नमाज पढ़कर सुबह 6.30 बजे जुलूस की शक्ल में बैजनाथपारा पहुंचने लगे।

- यहां से सुबह 7 बजे विशाल जुलूस बैजनाथपारा से निकलकर मालवीय रोड, जयस्तंभ चौक, शारदा चौक, तात्यापारा चौक, सदरबाजार, कोतवाली होते हुए सीरत मैदान शास्त्री बाजार पहुंचा।

- जुलूस की सदारत कर रहे पैगंबरे इस्लाम के वंशज और हमसबीहे सरकारे कलां हजरत सैय्यद मोहम्मद सलाहुद्दीन अशरफ मियां अशरफी किछौछा शरीफ ने परचम कुसाई की रसम अदा की।

- जुलूस का स्वागत करने के लिए सभी राजनैतिक, धार्मिक और सामाजिक संगठनों की ओर से अलग-अलग जगहों पर स्टॉल भी लगाए गए थे।


अब हर दिन कार्यक्रम


- पैगंबरे इस्लाम के आमद की खुशी में मौदहापारा, बैजनाथपारा, राजातालाब, संजयनगर, ईदगाहभाटा, पारसनगर, मोवा, नयापारा, हलवाई लेन समेत कई जगहों में खास सजावट की गई है।

- सीरत कमेटी के सदर हाजी अकरम कुरैशी और जनरल सेक्रेटरी मोइन अंकल ने बताया कि सीरत मैदान में 3 दिसंबर को बिहार के अब्दुल मुस्तफा अस्मती और 4 को सैय्यद मोहम्मद सिब्ली मियां की तकरीर होगी।

- 5 को सुबह 11 बजे से बच्चों के लिए का नातिया प्रोग्राम, 6 को दोपहर 3 बजे महिलाओं के लिए कार्यक्रम और 7 को ऑल इंडिया नातिया मुशायरा,का आयोजन किया जाएगा। इसमें बनारस के निजामत जाहिद रजा, मालेगांव (मुंबई) के अल्ताफ जिया, लखनऊ के हसन काजमी, पीलीभीत के सलीम भाई, हजारी बाग के जफर अकील, दिल्ली के फरहान बरकाती, नईम तैहसीमी, डॉ. जलील बुरहानपुरी और रायपुर से युसुफ अशरफी और कारी अशफाक अंजुम शिरकत करेंगे। मुशायरे की अध्यक्षता नागपुर के बख्तियार कैशी करेंगे।

फोटो : सुधीर सागर

आगे की स्लाइड्स में क्लिक करके देखिए खबर की और Photos...

X
ईद ए मिलाद में ऐसा था माहौल।ईद ए मिलाद में ऐसा था माहौल।
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..