Hindi News »Chhattisgarh News »Raipur News» Faith Of Politician In Kambal Wale Baba , Raipur Chhattisgarh

महिलाओं को भी कंबल ओढ़ा करते हैं इलाज, क्चछ्वक्क और कांग्रेसी हैं इनके मुरीद

महिलाओं को भी कंबल ओढ़ा करते हैं इलाज, क्चछ्वक्क और कांग्रेसी हैं इनके मुरीद

Brijesh Upadhyay | Last Modified - Dec 27, 2017, 07:16 PM IST


रायपुर।देश में अंध-विश्वास का खेल और बाबाओं की करतूत के एक से बढ़कर एक मामले सामने आ रहे हैं। वहीं छत्तीसगढ़ के राजनैतिक हलकों में एक बाबा के मुरीदों की तादात बढ़ती जा रही है। अभी तक जो पार्टी बाबा से शुगर का इलाज कराने पर प्रदेश के गृह मंत्री राम सेवक पैकरा को कटघरे में खड़ी कर रही थी अब उसकी के एक विधायक बाबा के इर्द-गिर्द घूमते नजर आ रहे हैं। जानिए पूरा मामला...


- हाल ही में लुंड्रा विधायक चिंतामणि महाराज कंबल वाले बाबा के पास जाकर विवादों में आ गए है।
- दरअसल गृह मंत्री रामसेवक पैकरा का एक वीडियो वायरल होने के बाद कांग्रेस पार्टी के लोगों ने बीजेपी पर अंधविश्वास को बढ़ावा देने का आरोप लगाया था।
- इधर कांग्रेसी विधायक का ये फोटो मीडिया में आने के बाद मामला एक बार फिर चर्चा में आ गया है। बताया जा रहा है कि ये फोटो बाबा के १००८ कुंडीय महायज्ञ की तैयारियों के दौरान की है।


कौन हैं ये कंबल वाले बाबा


- अक्टूबर माह में होम मिनिस्टर राम सेवक पैकरा मुरकौल जाते वक्त रास्ते में सह मोड़ पर गुजरात के कंबल वाले बाबा के पास जा पहुंचे थे।
- अपने शुगर का इलाज कराने यहां पहुंचे थे। बताया जा रहा है कि बाबा शुगर का इलाज भी चीनी खिलाकर करते हैं।
- ये कंबल ओढ़ाकर और कानों को सहलाकर मंत्र फूंकते हैं और फिर इलाज करते हैं। इनसे इलाज कराने छत्तीसगढ़ के दूर-दराज के इलाकों के अलावा ओडिशा तक से लोग आते हैं।
- वहीं सूत्रों की मानें तो बाबा के इस नुस्खे से कोई ठीक हुआ हो या नहीं, लेकिन बीमार कई लोग पड़ चुके हैं।

आगे की स्लाइड्स में क्लिक करके देखिए खबर की और Photos...

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Raipur News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: महिलाà¤à¤ à¤à¥ भॠà¤à¤&agrav
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Raipur

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×