Hindi News »Chhattisgarh News »Raipur News »News» Hail Affected Farmers Will Get Compensation In Chhattisgarh

रमन सरकार ने बारिश और ओला प्रभावितों को मुआवजा देने का लिया फैसला

John rajesh Paul | Last Modified - Feb 15, 2018, 03:31 PM IST

मुख्यमंत्री ने बैठक में बेमौसम बारिश और ओलावृष्टि से प्रभावित किसानों को मुआवजा देने के निर्देश दिए हैं।
रमन सरकार ने बारिश और ओला  प्रभावितों को मुआवजा देने का लिया फैसला

रायपुर। मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह की अध्यक्षता में आज विधानसभा परिसर स्थित मुख्य समिति कक्ष में मंत्री परिषद की बैठक आयोजित की गई। मुख्यमंत्री ने बैठक में प्रदेश के कुछ जिलों में हाल ही में हुई बेमौसम बारिश और ओलावृष्टि से प्रभावित किसानों को राजस्व पुस्तक परिपत्र (RBC) 6-4 के तहत मुआवजा वितरण जल्द से जल्द करने के निर्देश राजस्व विभाग को दे दिए।

- उन्होंने राजस्व विभाग से कहा कि फसल क्षति का सर्वेक्षण जल्द पूर्ण कर मुआवजा देने की कार्रवाई सुनिश्चित की जाए।

- ध्यान देने वाली बात है कि फसलोंं की क्षति के बाद मुआवजे की मांग की गई थी।

बेमौसम बारिश ने यूं मचाया कहर

- बदले मौसम की वजह से दो दिनों तक राज्य के अलग अलग हिस्सों में आंधी बारिश का कहर देखने को मिला पर ज्यादा नुकसान कवर्धा के लोरमी पंडरिया बोड़ला के साथ बिलासपुर, रायपुर जिले में हुआ है।

- सर्वाधिक नुकसान खेतों में खड़ी फसलों के साथ खरीदी केंद्रों में भंडारित धान को उठाना पड़ा है। इस समय खेतों में चना के साथ गेंहूं की फसल बोई गई है।

- ग्रीष्मकालीन धान के लिए पानी नहीं दिए जाने के कारण कवर्धा, बलौदाबाजार, बिलासपुर और रायपुर के किसानों से गेहूं की फसल ली थी।

- इस बारिश ने गेंहूं के फूल को बर्बाद कर दिया है। किसानों के मुताबिक अब गेहूं के दाने कम वजनी निकलेंगे। इसी तरह से चना भी ओलावृष्टि से काले पड़कर सड़ने की कगार पर पहुंच गया है। इसके अलावा तिवरा,अलसी,सरसों, मूंग-मसूर लेने वाले किसानों को भी बड़ा झटका लगा है। इनके पौधे गिरकर खेतों को घास के मैदान का रुप दे चुके हैं।

आम इमली को बड़ा नुकसान


- राज्य के बिलासपुर,जशपुर रायगढ़ महासमुंद और बस्तर में चली आंधी ने आम और इमली को भी नुकसान पहुंचाया है।

- 40 से 60 किमी की रफ्तार से चली आंधी से आम -इमली के पेड़ों के बौर गिर गए हैं। खासकर बस्तर की पहचान माने जाने वाले चूसनी आम को बड़ा नुकसान हुआ है।

- आम की फसल भी इस बार 30 से 40 फीसदी तक कम हो सकती है। वहीं बस्तर से सालाना 600 करोड़ के इमली के कारोबार को भी इस बड़ा झटका लगने के संकेत हैं।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Raipur News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: rmn srkar ne baarish aur olaa prbhaaviton ko muaavjaa dene ka liyaa faislaa
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

Stories You May be Interested in

      More From News

        Trending

        Live Hindi News

        0
        ×