--Advertisement--

विवाहिता के आत्महत्या मामले में पुलिस ने ससुराल पक्ष के लोगों को लिया हिरासत में

विवाहिता के आत्महत्या मामले में पुलिस ने ससुराल पक्ष के लोगों को लिया हिरासत में

Dainik Bhaskar

Feb 14, 2018, 05:06 PM IST
सास और तीन ननद के खिलाफ पुलिस न सास और तीन ननद के खिलाफ पुलिस न


धमतरी। गत 14 जनवरी को एक नवविवाहिता के सुसाइड मामले में पुलिस ने विवेचना के बाद ससुराल पक्ष के लोगों को मंगलवार को हिरासत में लिया है। पुलिस को प्रथम दृष्टया जांच में पता चला है कि ससुराल पक्ष के लोगों ने विवाहिता को आत्महत्या करने पर मजबूर किया था। पुलिस ने ससुराल पक्ष के लोगों के खिलाफ धारा 304 बी के तहत जुर्म दर्ज किया है।


- पुलिस के मुताबिक अर्जुनी थाना क्षेत्र के ग्राम पीपरछेड़ी(देमार) में डेढ़ साल पहले कुरूद क्षेत्र के ग्राम झुरानवागांव की पिंकी साहू 22 वर्ष की शादी मिथलेश साहू के साथ हुई।
- दोनों की 6 माह की बेटी मेघना है। पिंकी ने 14 जनवरी को घर पर जहर पीकर सुसाइड कर लिया। पति और ससुराल पक्ष के लोगों ने धमतरी के मसीही अस्पताल लाकर महिला को भर्ती कराया।
- जहां उसकी इलाज के दौरान मौत हो गई। मृतका पिंकी की मां कुमारी बाई और भाई वसुदेव ने बताया कि शादी के बाद से उनके पति मिथलेश समेत सास-ससुर दहेज के नाम पर प्रताड़ित कर जान से मारने की धमकी देते थे।
- कई बार वह ससुराल छोड़कर मायके आ गई थी। उसके साथ हो रही ज्यादती को देखते हुए वर्ष 2017 अक्टूबर माह में झुरा नवागांव और देमार पीपरछेड़ी के साहू समाज पदाधिकारियों की बैठक हुई थी।
- जिसमें दोनों पक्ष को समझाया गया था और लड़के ने अपनी गलती स्वीकार कर दोबारा ऐसी घटना की पुनरावृत्ति नहीं करने की बात कही थी, पर ससुराल पक्ष के लोगों ने प्रताड़ित करना नहीं छोड़ा।
- दहेज में गहना कम लाने और सस्ता साड़ी लाने की बात को लेकर ताना देते थे। पिंकी के साथ आए दिन मारपीट की जाती थी।
- इस मामले में जांच के बाद अर्जुनी पुलिस ने पति मिथलेश साहू, सास राजेश्वरी साहू, ससुर दयालू साहू, ननंद द्रोपदी बाई साहू, लिलेश्वरी साहू और कुंती बाई साहू के खिलाफ धारा 304 बी के तहत जुर्म दर्ज किया है।


फोटो : अजय देवांगन

X
सास और तीन ननद के खिलाफ पुलिस नसास और तीन ननद के खिलाफ पुलिस न
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..