--Advertisement--

इंडिगो की उड़ान रद्द

इंडिगो की उड़ान रद्द

Danik Bhaskar | Mar 13, 2018, 11:54 AM IST
प्रतीकात्मक फोटो। प्रतीकात्मक फोटो।

रायपुर। एविएशन रेग्युलेटर डायरेक्टोरेट जनरल ऑफ सिविल एविएशन (डीजीसीए) के फैसले के बाद इंडिगो ने अपनी 47 डोमेस्टिक फ्लाइट्स कैंसिल कर दी हैं। इसका असर दिखना भी शुरू हो गया है। मंगलवार को इंडिंगो मैनेजमेंट ने दोपहर 12:30 बजे वाली रायपुर-दिल्ली फ्लाइट की उड़ान को रद्द कर दिया। फ्लाइट रद्द होने की सूचना यात्रियों को एसएमएस से दी गई है। उन्हें दूसरे दिन उड़ान और टिकट रिफंड दोनों का विकल्प दिया गया है।

- गुड़गांव स्थित इंडिगो एयरलाइंस ने फ्लाइट्स बंद करने का एलान अपनी वेबसाइट पर किया है। उसकी हर दिन 1000 फ्लाइट्स उड़ान भरती हैं।
- जिन शहरों से फ्लाइट्स रद्द की गई हैं। उनमें दिल्ली, मुंबई, चेन्नई, कोलकाता, हैदराबाद, बेंगलुरु, पटना, श्रीनगर, भुवनेश्वर, अमृतसर, गुवाहाटी और कुछ अन्य शामिल हैं।

- वहीं, वाडिया ग्रुप के प्रमोशन वाली गोएयर ने आठ शहरों के बीच चलने वाली 18 फ्लाइट्स रद्द की हैं। हालांकि, अभी यह साफ नहीं हुआ है कि ये फ्लाइट्स किन शहरों के बीच चलती हैं। गोएयर हर दिन 230 विमानों का संचालन करती है।

पैसेंजर्स क्या करें?

- इंडिगो ने कहा है कि परेशान हो रहे पैसेंजर्स उनकी दूसरी फ्लाइट्स में सफर कर सकते हैं। अगर वे चाहें तो टिकट कैंसिल करा लें, उन्हें पूरा पैसा वापस दे दिया जाएगा।

दोनों एयरलाइंस के पास खराब इंजन वाले कितने प्लेन?

- दोनों एयरलाइंस के पास ऐसे 11 प्लेन हैं, जिनमें खराब प्रैट एंड व्हिटनी (पीडब्ल्यू) 1100 इंजन लगे हुए हैं। इन सभी पर बैन लगा दिया गया है। इन एयरलाइंस से कहा गया है कि इन प्लेन में नए इंजन का इस्तेमाल करें। डीजीसीए ने ईएसएन 450 इंजन वाले प्लेन भी हटाने को कहा है।

क्या अचानक लिया गया फैसला?

- डीजीसीए इंडिगो एयरबस ए-320 की सोमवार को उड़ान भरने के कुछ देर बाद ही अहमदाबाद में आपात लैंडिंग हुई थी। इसके कुछ घंटे बाद ही यह फैसला लिया। इस विमान में 186 लोग सवार थे।

- डीजीसीए ने इस घटना को गंभीरता से लिया है। डीजीसीए ने तत्काल प्रभाव से पीडब्ल्यू 1100 इंजन वाले ए320 नियो के अलावा ईएसएन 450 को भी हटाने के निर्देश दिए हैं।

क्या पहले हिदायत दी गई थी?

- डीजीसीए का कहना है कि इंडिगो और गोएयर दोनों ने अपने इन इंजनों को दुरुस्त नहीं किया है। सिविल एविएशन सेक्रेटरी आरएन चौबे ने इस बारे में पहले ही संकेत दे दिए थे।

- डीजीसीए के मुताबिक, यात्रियों की सुरक्षा के साथ किसी तरह समझौता नहीं किया जाएगा। डीजीसीए ने 13 फरवरी को कहा था कि वह खामियों को तलाश रहा है।

इंडिगो ने क्या सफाई दी?


- इंडिगो का कहना है कि डीजीसीए ने जो नंबर तय किए हैं उनका इस्तेमाल नहीं किया जा रहा है। जरूरी बदलाव के बाद प्रभावित इंजन वाले किसी भी प्लेन का ऑपरेशन नहीं किया जाएगा। पैसेंजर्स को जो परेशानी हुई है उसके लिए हमें खेद है। हमें डीजीसीए की ओर से अभी निर्देश नहीं मिले हैं। हम डीजीसीए के निर्देशों का सख्ती से पालन करेंगे।