--Advertisement--

दस रुपए का फार्म कोई भी खरीद सकता है, कोई अथारिटी लैटर नहीं (भास्कर विशेष) कौशिक के भाग्य का फैसला आज ११ बजे दिल्ली में

दस रुपए का फार्म कोई भी खरीद सकता है, कोई अथारिटी लैटर नहीं (भास्कर विशेष) कौशिक के भाग्य का फैसला आज ११ बजे दिल्ली में

Danik Bhaskar | Mar 09, 2018, 12:36 PM IST

रायपुर। राज्यसभा के सदस्य के लिए नामांकन फार्म की कीमत केवल दस रुपए है। इसे कोई भी खरीद सकता है। कैंडीडेट किसी को भेजकर नामांकन पत्र खरीदवा सकता है या उम्मीदवार के नाम से कोई भी क्रय कर सकता है। दिलचस्प पहलू तो यह है कि यदि कोई दूसरे के नाम से नामांकन पत्र ले रहा है तो उसे संबंधित व्यक्ति का अथारिटी लैटर भी दिखाना नहीं पड़ता। भाजपा प्रदेश अध्यक्ष धरमलाल कौशिक के नाम से जब नामांकन पत्र क्रय किया गया तो ये दिचस्प नियम सामने आया।

- फिलहाल इस नियम पर छत्तीसगढ़ और दिल्ली तक चर्चा हो रही है। हो सकता है कि भविष्य में इस पर केंद्रीय निर्वाचन आयोग से नई गाइडलाइन आ जाए।

- नाॅमिनेशन फार्म भले ही दस रुपए का हो, लेकिन इसे जमा करते वक्त उम्मीदवार को दस हजार रुपए जमा करने करने पड़ते हैं। सामान्य वर्ग और ओबीसी के लिए 10 रुपए की राशि तय है। वहीं यदि कैंडिडेट एससी या एसटी वर्ग से है तो नामांकन फार्म भरते वक्त पांच हजार रुपए लगते हैं।

- चार-पांच पन्ने के फार्म में शपथ पत्र भी होता है। इसमें उम्मीदवार अपने बारे में सारी घोषणाएं करता है जैसे शिक्षा, संपत्ति, प्रकरण आदि अन्य चीजें।

छत्तीसगढ़ में एक सीट के लिए चुनाव


- छत्तीसगढ़ में केवल एक सीट के लिए हो रहे राज्यसभा चुनाव के लिए विधानसभा के सचिव चंद्रशेखर गंगराडे रिटर्निंग अफसर हैं। राज्य के मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी सुब्रत साहू को आयोग ने आब्जर्वर बनाया है।

- सीईओ दफ्तर में गंगराडे व अन्य की वीसी के जरिए आयोग ने वर्कशाप भी की है। विधानसभा से नामांकन फार्म बेचे जा रहे हैं। अब तक केवल धरम लाल कौशिक के नाम से ही फार्म खरीदा गया है।


- 12 मार्च तक नामांकन फार्म भरे जा सकेंगे।
- 13 मार्च को नामांकन पत्रों की जांच होगी।
- 15 मार्च तक नाम वापस लिए जा सकेंगे।
- 23 मार्च को यदि जरूरी हुआ तो मतदान होगा।
- वोटिंग सुबह 9 बजे से शाम 4 बजे तक होगी।
- मतदान के तुरंत बाद मतगणना और नतीजों का ऐलान किया जाएगा।
- 26 मार्च तक किसी भी हालत में निर्वाचन की प्रक्रिया पूरी कर ली जाएगी।


राज्यसभा चुनाव को लेकर छत्तीसगढ़ की रोचक बातें

- अब तक किसी भी राज्यसभा चुनाव में वोटिंग की नौबत नहीं आई है।
- यदि कांग्रेस उम्मीदवार खड़ा करती है तो पहली दफे मतदान होगा।
- मतदान मतपत्रों के जरिए होगा। यह दिल्ली से आयोग भेजेगा।
- मतपेटी भी दिल्ली से ही आयोग द्वारा भेजी जाएगी।
- केवल छत्तीसगढ़ विधानसभा के 90 विधायक ही मतदान करेंगे।
- यदि मतदान होता है तो मतपत्र की काउंटर फाइल में विधायक के हस्ताक्षर लिए जाएंगे।
- इससे यह पता चलता है कि कौन से नंबर का मतपत्र किस विधायक को जारी हुआ है।
- किस विधायक ने किसे वोट दिया यह पता रहता है, लेकिन इसे ओपन नहीं किया जाता।
- मतपत्र की काउंटर फाइल रिकाॅर्ड के रूप में सुरक्षित रखी जाती है।
- छत्तीसगढ़ में अब तक मतदान नहीं हुआ इसलिए क्रास वोटिंग का भी कोई रिकार्ड नहीं है।


कौशिक या भाजपा के उम्मीदवार का नाम शुक्रवार को होगा तय


- भाजपा से धरम लाल कौशिक का नाम तय माना जा रहा है। इसके बावजूद इसकी अधिकृत घोषणा शुक्रवार को दिल्ली में पार्टी की राष्ट्रीय चुनाव समिति करेगी।

- इससे पहले भाजपा ने श्रीगोपाल व्यास, भूषणलाल जांगड़े समेत कई लोगों को उम्मीदवार बनाकर चौंकाया था। हालांकि पिछली बार रामविचार नेताम का नाम पहले से चल गया था।