Hindi News »Chhattisgarh News »Raipur News» Mini Truck Collapsed In Dhamtari, Dhamtari

अंग्रेजी शराब से भरी मेटाडोर डिवाइडर से टकराई, कई बोतलें टूटी

अंग्रेजी शराब से भरी मेटाडोर डिवाइडर से टकराई, कई बोतलें टूटी

Brijesh Upadhyay | Last Modified - Feb 15, 2018, 11:25 AM IST

धमतरी।रायपुर से दंतेवाड़ा जा रही सरकारी अंग्रेजी शराब से भरा मिनी ट्रक डिवाइडर से टकराकर हाईवे में पलट गया। हादसे में शराब की कई बोतलें टूट गई, जिससे सड़क पर शराब बहने लगी। घटना बुधवार को सुबह 7 बजे हुआ। सूचना पाकर आबकारी टीम मौके पर पहुंची और दूसरे वाहन में शराब को लोड कराकर दंतेवाड़ा भिजवाया गया। इस घटना के घंटेभर बाद ही सोरिद पुल के पास एक अन्य मेटाडोर डिवाइडर पर चढ़ गई। बताया जा रहा है कि इस मोड़ पर महज 48 घंटे में ही 3 हादसे हो गए।



- नेशनल हाइवे में शहर के अंदर अर्जुनी मोड़ से लेकर श्यामतराई नई कृषि उपज मंडी तक डिवाइडर का निर्माण हुआ है।

- अंबेडकर चौक के आगे और अर्जुनी मोड़ के आसपास आए दिन डिवाइडर पर वाहनों के चढ़ने की घटनाएं सामने आ रही हैं।

- बुधवार को मिनी ट्रक रायपुर से अंग्रेजी शराब भरकर दंतेवाड़ा जा रहा था। अर्जुनी मोड़ के पास सुबह 7 बजे ड्राइवर को झपकी अा गई, जिससे गाड़ी डिवाइडर पर चढ़कर सीधे हाईवे में पलट गई।

- दुर्घटना की जानकारी ड्राइवर ने दंतेवाड़ा आबकारी अधिकारी को दी, तब वहां के सुपरवाइज मौके पर पहुंचे और धमतरी आबकारी विभाग के जिला आबकारी अधिकारी यदुनंदन राठौर से संपर्क कर दूसरे वाहन के माध्यम से शराब को दंतेवाड़ा भिजवाया। ट्रैफिक पुलिस ने क्रेन के जरिए वाहन को सड़क किनारे कराया।


48 घंटे के भीतर 3 हादसे


- अर्जुनी चौक से अंबेडकर चौक तक बीते 48 घंटे के अंदर 3 हादसे हो चुके हैं। 13 फरवरी को सुबह जगदलपुर की ओर से आ रही ट्रेलर सोरिद पुल के पास डिवाइडर पर चढ़ गया था।

- बुधवार को श्यामतराई के पास कांकेर की ओर से आ रही मेटाडोर सोरिद के पास डिवाइडर पर चढ़ गई। वाहन की रफ्तार अधिक होने के कारण डिवाइडर से टकराते ही उसके चक्के अलग होकर दूर फेंका गए।

- माहभर पहले ही श्यामतराई मंडी के ठीक सामने डिवाइडर पर ट्रक चढ़ गया था। ये हादसा साइकिल चालक को बचाने के चक्कर में हुआ था।


इसलिए होते हैं बार-बार हादसे


- अंबेडकर चौक से आगे श्यामतराई नई कृषि उपज मंडी तक डिवाइडर बनाने के बाद प्रशासन ने स्ट्रीट लाइट की व्यवस्था नहीं की है।

- डिवाइडर में लगे पोल में लाइट न होने के कारण दिन ढलते ही अंधेरा छा जाता है। दूसरा कारण सोरिद पुल के ऊपर लगभग 200 मीटर का गैप है।

- अन्य शहरों से आ रहे वाहन चालकों को लगता है कि डिवाइडर खत्म हो गया। इस कारण आए दिन वाहन डिवाइडर पर चढ़ जाते हैं।

- अब तक बड़ी जनहानि नहीं हुई, पर सड़क किनारे रहने वालों व सड़क पर चल रहे लोगों पर हमेशा खतरा बना रहता है।

- इसी तरह जिस स्थान से डिवाइडर प्रारंभ होता है, वहां बड़ा सूचना बोर्ड भी नहीं लगाया गया है।


तेज रफ्तार वाहनों पर रोक नहीं


- कृषि ऊपज मंडी से लेकर अर्जुनी मोड़ तक डिवाइडर का विस्तार होने से ट्रक, बस व अन्य बड़े वाहन शहर के अंदर मनमाने तरीके से ओवरटेक करते हैं।

- वे नियमों को ताक पर रखकर तेज गति से गलत साईड से ओवर टेक करते हैं, इससे हमेशा खतरा बना रहता है।

- मंगलवार को हुई घटना भी तेज रफ्तार एवं ओवरटेक के प्रयास का नतीजा है। यदि सड़क में डिवाइडर नहीं रहता, तो और बड़ी दुर्घटना हो सकती थी।

- लोगों का कहना है कि वाहनों की गति पर अंकुश लगना चाहिए।


स्ट्रीट लाईट लगाने की मांग


- महापौर अर्चना चौबे का कहना है कि नेशनल हाइवे में अर्जुनी मोड़ से बस स्टैंड तक एवं अंबेडकर चौक से श्यामतराई कृषि ऊपज मंडी तक स्ट्रीट लाइट लगाने की मांग राज्य सरकार से की गई है। जल्द ही हाइवे में पोल लगाकर रोशनी की व्यवस्था की जाएगी।


लगातार हो रही कार्रवाई


- ट्रैफिक प्रभारी पुष्पेंन्द्र सिंह ने कहा कि वाहनों की रफ्तार पर अंकुश लगाने ट्रैफिक पुलिस लगातार ड्राइवरों पर कार्रवाई कर रही है।

- शराब पीकर वाहन चलाने, तेज गति और लापरवाही पूर्वक वाहन चलाने वालों के साथ पुलिस सख्ती से पेश आती है।

- डिवाइडर पर लाईट लगवाने और दुर्घटना रोकने उच्चाधिकारियों से संपर्क करेंगे।

फोटो : अजय देवांगन



दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Raipur

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×