--Advertisement--

मंत्री के सेक्स सीडी कांड में सीबीआई ने दर्ज किया केस, डीएसपी रैंक के अफसर करेंगे जांच

मंत्री के सेक्स सीडी कांड में सीबीआई ने दर्ज किया केस, डीएसपी रैंक के अफसर करेंगे जांच

Dainik Bhaskar

Dec 13, 2017, 02:07 PM IST
obscene cd case, CBI has registered case, raipur chhattisgarh

रायपुर। सेक्स सीडी कांड में डेढ़ महीने बाद सीबीआई ने केस रजिस्टर कर दिया है। सीबीआई के डीएसपी रीछपाल सिंह इसकी जांच करेंगे। चर्चा है कि सीबीआई की टीम दिल्ली से बुधवार को रायपुर पहुंच गई है। उन्होंने जांच भी शुरू कर दी है। देर शाम एसआईटी की मीटिंग की भी चर्चा है। जानिए पूरा मामला...

- सीबीआई ने छत्तीसगढ़ की जगह दिल्ली से केस दर्ज किया है। इसके पीछे कारण पत्रकार विनोद वर्मा को बताया जा रहा है।

- पुलिस ने गाजियाबाद से पत्रकार वर्मा को गिरफ्तार किया था। इसलिए सीबीआई की जांच का क्षेत्र छत्तीसगढ़ के अलावा दिल्ली भी रहेगा।
- ज्ञात हो कि पुलिस ने भाजपा नेता प्रकाश बजाज की शिकायत पर 26 अक्टूबर को पंडरी थाने में ब्लैकमेलिंग और धमकी का केस दर्ज किया था।

- 27 अक्टूबर को गाजियाबाद के इंदिरापुरम में पुलिस ने पत्रकार विनोद वर्मा को गिरफ्तार किया था। जहां से 500 सीडी जब्त की गई थी।

- पुलिस ने सीडी राइट करने वाले दुकान से सीडी, राइटर और कंप्यूटर जब्त किया था। राज्य सरकार ने तुरंत सीबीआई जांच की अनुशंसा की गई।

- 15 नवंबर को जांच के लिए नोटिफिकेशन जारी किया गया। उसमें कुछ गड़बड़ी थी। 7 दिसंबर को फिर नोटिफिकेशन जारी किया गया। सीबीआई ने 12 को केस दर्ज कर लिया।

संदेहियों की तलाश शुरू
- देर रात पुलिस के आला अफसरों ने एसआईटी की मीटिंग ली। उन्हें केस को लेकर आधा दर्जन बिंदुओं में निर्देश दिए गए है। केस डायरी में कुछ लिखा-पढ़ी अधूरी है। उसे पूरा करने कोे कहा गया है। सीबीआई के आने के साथ ही इन आरोपियों की धरपकड़ की कोशिश शुरू कर दी गई। कुछ संदेहियों के घर भी पुलिस गई, लेकिन वह नहीं मिले। माना जा रहा है कि सीबीआई के आते ही संदेही गायब हैं।

रायपुर कोर्ट में होगी सुनवाई
- सीडी कांड की सुनवाई सीबीआई स्पेशल कोर्ट रायपुर में होगी। अभी मामला जेएमएफसी भावेश कुमार वट्टी की कोर्ट में चल रहा है। इसे सीबीआई के स्पेशल जज शांतनु कुमार देशलहरे की कोर्ट में ट्रांसफर किया जाएगा। पुलिस के पास चालान पेश करने के लिए 14 दिन का समय है, लेकिन माना जा रहा है कि अब चालान सीबीआई पेश करेगी। उससे पहले कुछ और लोगों को गिरफ्तार किया जा सकता है।

सीबीआई ने मांगा दफ्तर
सीबीआई ने रायपुर पुलिस से सीडी कांड की जांच के लिए ऐसी जगह मांगी है, जिसमें उनका कैंप दफ्तर चल सके। पुलिस ने सीबीआई मुख्यालय समेत पुलिस लाइन मेस और कुछ रेस्ट हाउस की सूची दी है। सीबीआई के अफसरों को जगह तय करनी है।

भाटिया घिर सकता है सबसे पहले
- पुलिस की ओर से इस मामले की जांच के बाद अदालत में जो डायरी पेश की गई है, उसमें भिलाई के कारोबारी विजय भाटिया को भी आरोपी बनाया गया है। जांच के अनुसार भाटिया वह व्यक्ति है जो सीडी की 500 कॉपी लेकर फ्लाइट से रायपुर आ गया था।

- सीडी मामले की एक एफआईआर में भाटिया को आरोपी बताया गया है। सूत्रों के अनुसार पुलिस अपनी पूरी जांच और दस्तावेज सीबीआई को सौंपेगी। उसके बाद माना जा रहा है कि फरारी की वजह से सीबीआई सबसे पहले भाटिया को ही घेर सकती है। उसके बाद कई चेहरे बेनकाब होने की संभावना है।

सुबह 6 बजे से ही सीडी वायरल
एसआईटी की जांच के मुताबिक तब तक सीडी की कॉपियां कथित तौर पर पत्रकार वर्मा और भिलाई के एक व्यक्ति के पास पहुंच चुकी थीं। इनमें से 500 कॉपी तो पुलिस ने दिल्ली और गाजियाबाद में आधी रात के बाद छापे मारकर पकड़ लीं, लेकिन दूसरी खेप रायपुर पहुंच गई थी।

X
obscene cd case, CBI has registered case, raipur chhattisgarh
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..