--Advertisement--

बेटे ने ले ली पिता की जान, मां ने शव खेत में फेंका, सामने आई मर्डर की ये कहानी

बेटे ने ले ली पिता की जान, मां ने शव खेत में फेंका, सामने आई मर्डर की ये कहानी

Danik Bhaskar | Dec 08, 2017, 07:36 PM IST


बैकुंठपुर। चिता पर रखे शव के जलने से कुछ ही मिनटों पहले पहुंची पुलिस ने जब डेड बॉडी का पीएम कराया तो जो कहानी सामने आई वो चौंकाने वाली थी। गांव वाले शराबी समझ सोच रहे थे कि यूं मौत हो गई होगी। सभी डेड बॉडी को अर्थी पर लेकर श्मशान पर पहुंचे। वहां पुलिस अचानक पहुंची और माजरा ही बदल गया। जानिए पूरी घटना...


- घटना बैकुंठपुर जिले के पटना थाना इलाके के टेमरी गांव का है। यहां का रहने वाला श्रवण आदतन शराबी था और घर आकर अक्सर गाली-गलौच व मारपीट करता था।
- 6 दिसंबर को भी वो घर आया और अपने बेटे कृष्णा से उलझ गया। इधर बेटे ने भी आपा खो दिया और पिता को मारने लगा।
- श्रवण जमीन पर गिरकर पस्त हो गया उसके बाद भी बेटा नहीं माना और जलती हुई लकड़ी से पिटा जिससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई।
- इधर ये सब मृतक की पत्नी यशोदा देखती रही। उसने बेटे के साथ मिलकर शव को पड़ोसी के खेत में रखे पुआल में छिपा दिया और घर आ गए।
- घर में फैले खून को भी पत्थर से खरोंच कर छुड़ा दिया। शुक्रवार की सुबह जब लोगों ने पुआल में श्रवण का शव देखा तो उसकी मौत की खबर गांव में आग की तरह फैल गई।
- इधर लोगों को लगा कि श्रवण शराबी था तो खुद ही गिरकर मर गया होगा। परिजनों के साथ लोग भी अर्थी पर शव लेकर श्मशान गए।
- वहां जैसे ही शव को आग देने वाले थे कि पुलिस पहुंच गई। दरअसल पुलिस को मुखबीर के जरिए संदिग्ध मौत की खबर लगी थी।
- पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम कराया। इधर प्राथमिक रिपोर्ट में चोट की वजह से मौत होने की बात सामने आई।
- पुलिस ने जब मृतक के बेटे और पत्नी से कड़ाई से पूछताछ की तो पूरी सच्चाई सामने आ गई।