छत्तीसगढ़ का नया मुख्यमंत्री कौन: भूपेश बघेल को मिलेगा मेहनत का फल या सिंहदेव के पास जाएगी CM की कुर्सी / छत्तीसगढ़ का नया मुख्यमंत्री कौन: भूपेश बघेल को मिलेगा मेहनत का फल या सिंहदेव के पास जाएगी CM की कुर्सी

छत्तीसगढ़ में कांग्रेस ने ऐतिहासिक विजय दर्ज की है। अब सवाल ये है कि मुख्यमंत्री किसे बनाया जाएगा।

DainikBhaskar.com

Dec 13, 2018, 01:34 PM IST
CG CM: Who Will New Chief Minister of Chhattisgarh Bhupesh Baghel or T.S. Singh Deo

रायपुर/नई दिल्ली. छत्तीसगढ़ में कांग्रेस की जीत के तीन दिन गुजर चुके हैं लेकिन मुख्यमंत्री के नाम पर सस्पेंस बना हुआ है। अब खबर आ रही है कि कल यानी रविवार को रायपुर में एक मीटिंग होगी और इसमें संभवत: मुख्यमंत्री का नाम तय हो जाएगा। छत्तीसगढ़ कांग्रेस के प्रभारी पीएल. पुनिया ने शनिवार को कहा- कल 12 बजे एक मीटिंग होगी। राज्यपाल ने हमें 17 दिसंबर को 4.30 बजे का समय शपथ के लिए दिया है। ऐसे में जल्दी आखिर किस बात की है। बता दें कि पहले भूपेश बघेल और टीएस सिंहदेव का नाम ही दौड़ में माना जा रहा था। लेकिन अब तीसरे की भी एंट्री हो गई है। इस दौड़ में दो शख्सियतें सबसे आगे हैं। भूपेश बघेल (Bhupesh Baghel) और टीएस. सिंह देव (T.S. Singh Deo)। तीसरा नाम तेजी से आगे आया। ये है ताम्रध्वज साहू। माना जा रहा है कि राहुल गांधी विवाद से बचने के लिए इसी तीसरे नाम पर विचार कर रहे हैं। इस बीच, राहुल गांधी ने एक फोटो ट्वीट किया। इसमें भूपेश बघेल, टीएस. सिंहदेव, ताम्रध्वज साहू भी नजर आ रहे हैं। इसके साथ राहुल ने रीड होफमैन का एक कोट भी लिखा। इसमें कहा- अगर आप अकेले खेल रहे हैं तो इससे फर्क नहीं पड़ता कि आप कितने बुद्धिमान हैं या आपकी रणनीति कितनी शानदार है। आप एक टीम से तो हमेशा हारेंगे।

टीएस सिंहदेव परिचय: Tribhuvaneshwar Saran Singh Deo or T.S. Singh Deo
इनका पूरा नाम त्रिभुवनेश्वर शरण सिंह देव है। जन्म 31 अक्टूबर 1952 को हुआ। राज्य में वो टीएस बाबा के नाम से ज्यादा जाने जाते हैं। सिंह देव छत्तीसगढ़ विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष रह चुके हैं। सरगुजा रियासत के पूर्व राजा टीएस सिंहदेव के राजनीतिक जीवन की शुरुआत साल 1983 में अंबिकापुर नगर पालिका परिषद के अध्यक्ष चुने जाने के साथ हुई। वह 10 साल तक इस पद पर बने रहे। साल 2008 में टीएस सिंह देव ने पहली बार सरगुजा की अंबिकापुर सीट से विधानसभा चुनाव लड़ा। उन्होंने भाजपा के अनुराग सिंह देव को 948 वोटों से शिकस्त दी। इसके बाद 2013 के चुनाव में फिर अनुराग सिंह देव को 19 हजार से ज्यादा वोटों से हराया। 6 जनवरी 2014 को टीएस सिंह देव छत्तीसगढ़ विधानसभा में नेता विपक्ष चुने गए। टीएस सिंह देव 2008 से अंबिकापुर विधानसभा सीट से चुनाव जीतते आ रहे हैं।

भूपेश बघेल परिचय: Bhupesh Baghel
भूपेश बघेल कांग्रेस प्रदेश कमेटी के प्रमुख हैं। अपने तेवरों से छत्तीसगढ़ की राजनीति में महत्वपूर्ण स्थान बनाने वाले राजनेताओं में शुमार बघेल का नाता विवादों से भी कम नहीं रहा है। सीडी कांड की वजह से भूपेश बघेल सुर्खियों में रहे हैं। इसके चलते उन्हें जेल जाना पड़ा, लेकिन उन्होंने जमानत लेने से इनकार कर दिया था। बघेल कुर्मी जाति से आते हैं। बघेल ने राजनीति में अपनी पारी की शुरुआत यूथ कांग्रेस के साथ की। दुर्ग जिले के रहने वाले भूपेश यहां के यूथ कांग्रेस अध्यक्ष बने। वे 1990 से 94 तक जिला युवक कांग्रेस कमेटी, दुर्ग (ग्रामीण) के अध्यक्ष रहे। मध्यप्रदेश हाउसिंग बोर्ड के 1993 से 2001 तक निदेशक भी रहे हैं। 2000 में जब छत्तीसगढ़ अलग राज्य बना तो वह पाटन सीट से विधानसभा पहुंचे। इस दौरान वह कैबिनेट मंत्री भी बने। 2003 में कांग्रेस के सत्ता से बाहर होने पर भूपेश को विपक्ष का उपनेता बनाया गया। 2014 में उन्हें छत्तीसगढ़ कांग्रेस का अध्यक्ष बनाया गया और वे तब से इस पद पर हैं।

X
CG CM: Who Will New Chief Minister of Chhattisgarh Bhupesh Baghel or T.S. Singh Deo
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना