8 हजार युवाओं को मिली नौकरी इनमें भी सबसे ज्यादा रायपुर के

Raipur News - प्रशासनिक रिपोर्टर | रायपुर रोजगार दफ्तर के अनुसार एक वित्तीय साल में राज्यभर में आयोजित प्लेसमेंट कैंप से 8000 से...

Bhaskar News Network

Jul 14, 2019, 07:25 AM IST
Raipur News - chhattisgarh news 8 thousand youths get jobs most of them in raipur
प्रशासनिक रिपोर्टर | रायपुर

रोजगार दफ्तर के अनुसार एक वित्तीय साल में राज्यभर में आयोजित प्लेसमेंट कैंप से 8000 से ज्यादा युवाओं को नौकरी दी जा रही है। इनमें सबसे ज्यादा भर्ती रायपुर में ही हो रही है। हर साल यह आंकड़ा बढ़ रहा है। नया राज्य बनने के बाद भी रोजगार दफ्तर को अपडेट होने में 16 साल लग गए। शुरुआती सालों में दफ्तर में केवल बेरोजगारों का पंजीयन ही किया गया। पिछले तीन सालों से दफ्तर में प्लेसमेंट कैंप, फ्री कोचिंग और सरकारी भर्तियों के विशेष प्रशिक्षण दिया जा रहा है। इसका असर ये हुआ कि करीब तीन साल से हर हफ्ते 100 से ज्यादा लोगों को नामी कंपनियों में नौकरी मिल रही है। पंजीयन cgemployment.gov.in वेबसाइट पर ऑनलाइन किया जा सकता है।

प्लेसमेंट कैंप के अलावा हर महीने ऐसे युवाओं के लिए कोचिंग लगाई जाती है जिन्होंने स्किल डेवलपमेंट की ट्रेनिंग ली है। ये युवा ट्रेंड होते हैं इसलिए इन पर विशेष फोकस किया जाता है। ऐसे युवाओं को कंपनी वाले भी बड़े पदों पर नौकरी देते हैं। अभी कई बड़ी कंपनियां स्किल ट्रेनिंग लेने वाले युवाओं की सूची मांगने के साथ ही उनके नौकरी देने में प्राथमिकता दे रहे हैं। अफसरों का कहना है कि हर साल ग्रेजुएशन या दसवीं-बारहवीं करने वाले युवाओं की संख्या हजारों में होती है। इसलिए केवल रायपुर जिले में ही हर साल 20 हजार से ज्यादा युवाओं की पंजीयन होता है। छत्तीसगढ़ में 23 लाख युवाओं का पंजीयन नौकरी के लिए दर्ज है। इसलिए अब खुद का कारोबार शुरू करने के लिए ट्रेनिंग देने पर विचार किया जा रहा है।







पहले बेरोजगार युवाओं को पंजीयन के लिए रोजगार दफ्तर तक जाना पड़ता था, लेकिन अब यह पंजीयन भी ऑनलाइन कर दिया गया है। युवा सीजी इंप्लाइ डॉट इन में लॉग इन कर ऑनलाइन पंजीयन करवा सकते हैं।

20 हजार से ज्यादा हर साल पंजीयन होता है सिर्फ रायपुर जिले में

जिनका चयन नहीं हुआ उनको ट्रेनिंग इसमें बताते हैं आप में क्या खामियां

प्लेसमेंट कैंप में जिन युवाओं का चयन नहीं होता है उनके लिए भी काउंसिलिंग की जाती है। ऐसे युवाओं को बताया जाता है कि वे कहां पर कमजोर हुए जिसकी वजह से कंपनियों ने उन्हें रिजेक्ट किया। उनके बोलने के ढंग, काम करने का तरीका या इंटरव्यू में कौन सी खामियां रहीं उसकी जानकारी देकर उसे दूर किया जाता है। इसका फायदा ऐसे युवाओं को अगली बार के प्लेसमेंट कैंप में होता है और उनका चयन आसानी से हो जाता है।

सेना भर्ती के लिए दी स्पेशल ट्रेनिंग

रोजगार दफ्तर की ओर से लगातार दो साल से भारतीय वायु, थल और जल सेना में भर्ती के लिए कोचिंग भी आयोजित की जा रही है। इसका नतीजा ये हुआ कि दो साल पहले तक इन सेनाओं में युवाओं के भर्ती का प्रतिशत 1 से 2 था, लेकिन अभी बढ़कर 10 से 12 फीसदी हो चुका है। अभी हाल ही में बिलासपुर में हुई थल सेना भर्ती में छत्तीसगढ़ के युवाओं को विशेष प्रशिक्षण दिया गया है। भर्ती के लिए लिखित परीक्षा 28 जुलाई को होने वाली है। इसके लिए 15 से 25 जुलाई तक रोजगार दफ्तर में परीक्षा में शामिल होने वाले उम्मीदवारों को प्रशिक्षित किया जाएगा।

23 लाख युवाओं का पंजीयन दर्ज है नौकरी के लिए प्रदेशभर से

एक ही जगह नौकरी की चाहत रखने वाले ज्यादा

अफसरों ने बताया कि रोजगार दफ्तर में आयोजित होने वाले प्लेसमेंट कैंप में ज्यादातर युवा रायपुर में ही नौकरी करना चाहते हैं। कई बार नामी कंपनियां दूसरे शहरों के लिए भी भर्ती करती हैं, लेकिन युवा शहर छोड़कर जाना पसंद नहीं करते हैं। इस मानसिकता को तोड़ने के लिए युवाअों को बताया जाता है कि रायपुर के साथ ही दूसरी जगहों पर ही जॉब के ऑप्शन से उन्हें ही फायदा होगा।


X
Raipur News - chhattisgarh news 8 thousand youths get jobs most of them in raipur
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना