• Hindi News
  • Chhatisgarh
  • Raipur
  • News
  • Raipur News chhattisgarh news acharya mahendra sagar who arrived in the capital after passing from kaivalya dham will be in jain today in dadabari

कैवल्य धाम से विहार करके राजधानी पहुंचे आचार्य महेंद्र सागर, जैन दादाबाड़ी में आज होगा मंगल प्रवेश

Raipur News - कम्युनिटी रिपोर्टर | रायपुर कैवल्यधाम से विहार करते हुए आचार्य महेंद्र सागर, मनीष सागर महाराज समेत अन्य मुनिगण...

Bhaskar News Network

Jul 14, 2019, 07:25 AM IST
Raipur News - chhattisgarh news acharya mahendra sagar who arrived in the capital after passing from kaivalya dham will be in jain today in dadabari
कम्युनिटी रिपोर्टर | रायपुर

कैवल्यधाम से विहार करते हुए आचार्य महेंद्र सागर, मनीष सागर महाराज समेत अन्य मुनिगण शनिवार को राजधानी पहुंचे। चातुर्मास के लिए रविवार को एमजी रोड स्थित जैन दादाबाड़ी में उनका मंगल प्रवेश हुआ। ऋषभदेव मंदिर ट्रस्ट व जैन श्वेतांबर चातुर्मास समिति के पदाधिकारियों, सदस्यों व बड़ी संख्या में श्रद्धालुओं ने आमापारा चौक पहुुंचकर मुनियों की अगुवानी की। यहां से मुनिगणों की नगर प्रवेश यात्रा सदरबाजार स्थित ऋषभदेव जैन मंदिर पहुंची। पाद प्रक्षालन व जिन शासन के जयकाराें के साथ उनका स्वागत किया गया। महिलाओं ने गवली-रंगोली सजाकर व सिर पर मंगल कलश रखकर गुरुओं की वंदना की। चातुर्मास समिति के प्रचार-प्रसार संयोजक तरूण कोचर व नीलेश गोलछा ने बताया कि एमजी रोड स्थित जिनकुशल सूरि जैन दादाबाड़ी में चातुर्मासिक आराधना के लिए मुनि भगवंतों का मंगल प्रवेश रविवार 14 जुलाई को होगा।

जिंदगी सेट करते-करते लोग अपसेट, मौत के बाद क्या होगा यह सोचें: साध्वी चंदनबाला

आज हर व्यक्ति अपनी जिंदगी सेट करते-करते अपसेट हो चुका है। दुनियादारी के चक्करों मेे पड़कर लोग यह सोचते ही नहीं कि मौत के बाद क्या होगा। मौत सत्य है। एक दिन सभी को आनी है। दूसरे शहर में शिफ्ट होना हो तो लोग सोचते हैं कि घर-परिवार यहां है। बिजनेस यहां है। सारी व्यवस्थाएं छोड़कर दूसरी जगह कैसे शिफ्ट होंगे, लेकिन जब मौत की गाड़ी आएगी तो क्या उसमें बैठने से मना कर पाएंगे। नहीं, दुनिया में आए हैं तो हर किसी को जाना ही पड़ेगा। विवेकानंद नगर स्थित ज्ञान वल्लभ उपाश्रय में चल रहे चातुर्मासिक प्रवचन में साध्वी चंदनबाला ने यह विचार रखे। उन्होंने आगे कहा कि इतिहास में ऐसे कई साधु-संत हुए, जिन्हें देवता भी नमस्कार करते थे। उनके जप-तप के प्रभाव से यह संभव हुआ। देवता आपको भी नमस्कार करेंगे, अगर आप उन साधुओं की तरह साधना-आराधना कर पाएं। इस दिशा में शुरुआत के लिए 15 जुलाई से शुरू हो रहा चातुर्मास सुनहरा मौका है।

आज नहीं होगी सभा : चातुर्मास समिति के प्रचार प्रसार प्रमुख चंद्रप्रकाश ललवानी ने बताया कि 14 जुलाई को श्री ज्ञानवल्लभ उपाश्रय में प्रवचन सभा नहीं होगी।

Raipur News - chhattisgarh news acharya mahendra sagar who arrived in the capital after passing from kaivalya dham will be in jain today in dadabari
X
Raipur News - chhattisgarh news acharya mahendra sagar who arrived in the capital after passing from kaivalya dham will be in jain today in dadabari
Raipur News - chhattisgarh news acharya mahendra sagar who arrived in the capital after passing from kaivalya dham will be in jain today in dadabari
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना