• Hindi News
  • Chhatisgarh
  • Raipur
  • News
  • Raipur News chhattisgarh news after returning from maui bari after returning to his darshan jagannath chanting the chariot again enthusiasm in devotees

मौसीबाड़ी से विदा लेकर अपने धाम लौटे जगन्नाथ, रथ खींचने भक्तों में फिर उत्साह

Raipur News - कम्युनिटी रिपोर्टर | रायपुर शुक्रवार को भगवान जगन्नाथ अपने धाम को लौटे। पिछले 9 दिनों से वे मौसीबाड़ी में आराम कर...

Bhaskar News Network

Jul 13, 2019, 07:30 AM IST
Raipur News - chhattisgarh news after returning from maui bari after returning to his darshan jagannath chanting the chariot again enthusiasm in devotees
कम्युनिटी रिपोर्टर | रायपुर

शुक्रवार को भगवान जगन्नाथ अपने धाम को लौटे। पिछले 9 दिनों से वे मौसीबाड़ी में आराम कर रहे थे। अगले साल फिर आने का वादा करके उन्होंने मौसी से विदाई ली। गुंडिचा मंदिर में भगवान के अंतिम दर्शन के लिए श्रद्धालुओं का तांता लगा रहा। बाहुड़ा यात्रा के साथ भगवान जब मौसीबाड़ी से अपने धाम को विदा हुए तो एक बार फिर भक्तों में रथ खींचने को लेकर उत्साह दिखा। इससे पहले 4 जुलाई को भी रथयात्रा में भक्तों ने काफी उत्साह के साथ नगर भ्रमण कराया। दरअसल, रथयात्रा के बाद भगवान 9 दिनों तक गुंडिचा मंदिर यानी अपनी मौसी के घर आराम कर रहे थे। इस बीच यहां उनकी काफी देखरेख की गई। 8वें दिन रविवार को बहुड़ा यात्रा से पहले मंदिर में पूजन-अनुष्ठान किए गए। छेरापहरा कर रथों की सफाई की गई। इसके बाद श्रद्धालु रथ खींचकर भगवान को उनके धाम तक लेकर गए। दोपहरभर अलग-अलग जगन्नाथ मंदिरों में भक्तों का आना-जाना लगा रहा। बड़ी संख्या में लोग बाहुड़ा यात्रा में भी शामिल हुए। इधर, धाम में वापसी के बाद भगवान का काफी आदर- सत्कार किया गया। विधि-विधान से पूजा के बाद महाआरती की गई।

बाहुड़ा यात्रा... टिकरापारा से सदर बाजार तक लगा तांता

सदरबाजार स्थित जगन्नाथ मंदिर की प्रतिमाओं को टिकरापारा स्थित गुंडिचा मंदिर ले जाया गया था। यहां से शुक्रवार दोपहर 3 बजे भगवान जगन्नाथ की बाहुड़ा यात्रा निकाली गई। सदरबाजार जगन्नाथ मंदिर के सर्वराकार ओमप्रकाश पुजारी ने बताया कि भगवान 9 दिन मौसी के घर में थे। यहां उनका काफी आदर-सत्कार किया गया। दोपहर में विधायक बृजमोहन अग्रवाल समेत कई जनप्रतिनिधि महाप्रभु के दर्शन करने टिकरापारा पहुंचे थे। 3 बजे के बाद बाहुड़ा यात्रा निकाली गई। देर शाम सदरबाजार स्थित जगन्नाथ मंदिर पहुंचने के साथ यात्रा का समापन हुआ।

विदाई... विस अध्यक्ष चरणदास महंत पहुंचे गायत्री नगर

इस बीच, विधानसभा अध्यक्ष डॉ. चरणदास महंत भी भगवान को मौसी के घर से विदाई देने के लिए सपरिवार गायत्री नगर स्थित गुंडिचा मंदिर पहुंचे। वे महाआरती में भी शामिल हुए। स्पीकर डॉ. महंत ने कहा कि यह छत्तीसगढ़ का सौभाग्य है कि भगवान जगन्नाथ आज भी जीवंत रूप में हम सबके बीच विद्यमान हैं। उनके आशीर्वाद से ही राज्य में सुख-समृद्धि है और तरक्की हो रही है। इस दौरान कोरबा सांसद ज्योत्सना चरणदास महंत, डॉ सुप्रिया महंत, सूरज महंत, डॉ. हिमांशु द्विवेदी, अमित पांडेय, घनश्याम राजू तिवारी, पुष्पेंद्र सिंह, समीर पांडेय, अभिजीत मिश्रा, पल्लव शाह, शोभा यादव मौजूद रहे।

भोग-आरती के बाद बंद किया मंदिर का पट

गायत्री नगर के जगन्नाथ मंदिर स्थित मौसीबाड़ी में शुक्रवार सुबह से पूजा शुरू हो गई थी। सबसे पहले भगवान जगन्नाथ का मंगलार्पण किया गया। तरह-तरह के भोग लगाए गए और आरती की गई। इस दौरान एक घंटे के लिए मंदिर के पट बंद रहे। दोपहर में पट खुले और भगवान जगन्नाथ अपने भाई-बहनों समेत सिंहासन पर आसीन हुए। मंदिर समिति के संस्थापक पुरंदर मिश्रा ने बताया कि दूध, दही, घी, मक्खन से उनका अभिषेक किया गया, फिर पवित्र जल से स्नान कराया गया। रोड़ी, कुमकुम आदि लगाकर भगवान और उनके भाई-बहन को नए कपड़े पहनाए गए। इसके बाद वे रथ पर सवार होकर मौसीबाड़ी से अपने धाम को विदा हुए।

Raipur News - chhattisgarh news after returning from maui bari after returning to his darshan jagannath chanting the chariot again enthusiasm in devotees
Raipur News - chhattisgarh news after returning from maui bari after returning to his darshan jagannath chanting the chariot again enthusiasm in devotees
X
Raipur News - chhattisgarh news after returning from maui bari after returning to his darshan jagannath chanting the chariot again enthusiasm in devotees
Raipur News - chhattisgarh news after returning from maui bari after returning to his darshan jagannath chanting the chariot again enthusiasm in devotees
Raipur News - chhattisgarh news after returning from maui bari after returning to his darshan jagannath chanting the chariot again enthusiasm in devotees
COMMENT