टाउनशिप पर कार्रवाई के बाद रेरा में कई बिल्डरों के खिलाफ शिकायत

Raipur News - प्रशासनिक रिपोर्टर | रायपुर राजधानी की महंगी टाउनशिप में एक लॉस विस्टा के मकानों और प्लॉट की बिक्री पर रोक लगाने...

Bhaskar News Network

Feb 14, 2019, 03:17 AM IST
Raipur News - chhattisgarh news complaint against many builders in rare after action on township
प्रशासनिक रिपोर्टर | रायपुर

राजधानी की महंगी टाउनशिप में एक लॉस विस्टा के मकानों और प्लॉट की बिक्री पर रोक लगाने जैसी सख्त कार्रवाई के बाद अब रेरा में नामचीन बिल्डरों के खिलाफ शिकायतें आने लगी हैं। राजधानी के दर्जनभर से ज्यादा बड़े प्रमोटर-बिल्डर्स के खिलाफ लोगों ने शिकायतें दर्ज करवा दी हैं। रेरा में अब तक बिल्डरों, कॉलोनाइजरों और प्रमोटर्स के खिलाफ 218 शिकायतें आईं, जिनमें 105 पर फैसला हो गया है। ज्यादातर के खिलाफ रेरा ने अधूरे कामों को पूरा करने के आदेश दिए हैं।

छत्तीसगढ़ भू संपदा विनियामक प्राधिकरण (रेरा) में 878 प्रमोटर्स की योजनाएं रजिस्टर्ड हो गई हैं। 321 एजेंटों ने भी अपना पंजीयन करवा लिया है। रेरा ने साफ कर दिया है कि निजी और सरकारी योजनाओं में मकान-जमीन की खरीदी-बिक्री केवल वही लोग कर पाएंगे, जिनका पंजीयन रेरा में है। इसके बावजूद अनाधिकृत तौर पर शहर में कई प्रॉपर्टी एजेंट सक्रिय हैं, जो खरीदी-बिक्री कर रहे हैं। राजधानी के जमीन फर्जीवाड़े में जिन लोगों के नाम आ रहे हैं, उनके प्रोजेक्ट न तो रेरा में रजिस्टर्ड हैं और न जिन लोगों ने खरीदी-बिक्री कराई उनका पंजीयन भी प्राधिकरण में नहीं है।

साइट रिपोर्ट नजरअंदाज

रेरा में शिकायत दर्ज कराने के बाद वहां के सोसायटी के कई लोग नाराज भी हैं। उनका कहना है कि शिकायत के बाद रेरा की ओर से साइट निरीक्षण कराया जाता है। इस तरह के निरीक्षण में बिल्डर के खिलाफ कई तरह की खामियां भौतिक रूप से सामने आ जाती है। इसके बावजूद बिल्डरों को इसे सुधारने का अतिरिक्त समय दिया जा रहा है। इस रिपोर्ट के आधार पर बिल्डरों के खिलाफ बड़ा जुर्माना भी नहीं होता है। इसलिए अफसरों को इस रिपोर्ट पर सख्ती से कार्रवाई करनी चाहिए।

बड़े बिल्डरों के खिलाफ अधिकांश शिकायतों के फैसले आएंगे एक माह के भीतर

X
Raipur News - chhattisgarh news complaint against many builders in rare after action on township
COMMENT